विशाल भारद्वाज ने कहा, 'बॉलीवुड को अपने हाल पर छोड़ दें, हम अच्छे लोग हैं...'

विशाल भारद्वाज ने लोगों से अपील की है कि वो बॉलीवुड को अपने हाल पर छोड़ दें। फिल्म इंडस्ट्री के लोग अच्छे हैं। दरअसल, बीते कुछ महीनों से फिल्म इंडस्ट्री में ड्रग से लेकर मीटू , नेपोटिज़्म, आउटसाइडर-इनसाइडर जैसे मुद्दे उठ रहे हैं। इससे बॉलीवुड पर चौतरफा हमला हो रहा है।

Vishal Bhardwaj Says leave us alon we are good people

सुशांत सिंह राजपूत के आकस्मिक निधन के बाद से लगातार उनके केस को लेकर चर्चा हो रही है। वहीं इस केस में ड्रग्स का एंगल सामने आने के बाद से अब ये मामला और बड़ा होता जा रहा है और हर तरफ फिल्म इंडस्ट्री की आलोचना हो रही है।

फिल्म इंडस्ट्री का हो रही चौतरफा आलोचना से आहत निर्देशक विशाल भारद्वाज ने उन लोगों पर अपनी नाराजगी जाहिर की है, जो बॉलीवुड को बदनाम करने में लगे हुए हैं।

इसी विषय पर हाल ही में स्क्रीन राइटर एसोसिएशन की प्रेस कॉन्फ्रेंस में अतिथि बनकर आये डायरेक्टर, प्रोड्यूसर, सिंगर, म्यूजिक डायरेक्टर और राइटर विशाल भारद्वाज से जब पूछा गया कि आजकल फिल्म इंडस्ट्री में जो टॉक्सिक कल्चर है, जो जहरीला मौहाल है काम करने के लिए, उसपर क्या बोलना चाहेंगे?

इस सवाल के जवाब में विशाल ने कहा, 'यह लोगों की बनाई हुई बकवास है। आजकल जो खासतौर पर चल रही हैं। हमारी इंडस्ट्री बहुत ही खूबसूरत है, जहां आपस में बहुत प्यार है। जब किसी फिल्म की शूटिंग खत्म होती है, तब पूरी यूनिट को एक दूसरे से बिछड़ने का बहुत दुख होता है। मुझे यहां कभी बाहरीपन का अहसास नहीं हुआ। मुझे इस इंडस्ट्री ने बहुत प्यार दिया है।'

इतना ही नहीं विशाल आगे कहते हैं, 'यह इंडस्ट्री ऐसी है जहां आप रातोंरात स्टार बन सकते हैं और जोकर बन सकते हैं। यदि आप में टैलेंट है, तो आपकी लॉटरी लगने से कोई नहीं रोक सकता चाहे वो फिल्मी खानदान से हो या नॉन फिल्मी खानदान से हो। हमारी इंडस्ट्री में बहुत भावनात्मक प्यार है, तो कृपा करके हमें माफ कर दीजिए। हमें छोड़ दीजिये अपने हाल पर हम बहुत अच्छे हैं। यहां पर कोई टॉक्सिक कल्चर नही हैं बल्कि हम सब एक परिवार हैं।'

संबंधित ख़बरें
फिल्म समीक्षा : पटाखा

टिप्पणियां