कोरोना वायरस पर बनी दुनिया की पहली फिल्म 'कोरोना जॉम्बीज़'

कोरोना वायरस पर चार्ल्स बैंड नाम के निर्देशक ने 'कोरोना जॉम्बीज़' नाम की फिल्म बना ली है। तीन कलाकारों को लेकर उन्होंने इस फिल्म को बनाया है, लेकिन शूट के वक्त सोशल डिस्टेंसिंग की पूरा खयाल रखा गया है। फिल्म डिजिटल प्लेटफॉर्म पर रिलीज़ हो चुकी है। जानिये क्या है फिल्म की कहानी। 

corona zombeis is first film on corona virus
इन दिनों दुनिया कोरोना वायरस के कहर से जूझ रही है। इस संक्रामक बीमारी के संक्रमण से बचने के लिए कई सारे कदम उठाये जा रहे हैं। भारत में तो लॉकडाउन चल रहा है, जो 24 मार्च से शुरू किया गया था। 

ख़ैर, एक तरफ लोगों को इस संक्रमण से खुद को बचाने के लिए कहा जा रहा है। वहीं कुछ लोगों की लापरवाही से कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या में इजाफा हो रहा है। 

इस महामारी में सभी की ज़िंदगियां उथल-पुथल हो गई हैं। सभी तरह का कारोबार बंद है। वहीं एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री भी इससे अछूता नहीं है। इस वक्त न तो कोई फिल्म की शूटिंग हो रही है और ना ही कोई फिल्म रिलीज़ ही हो रही है। 

हालांकि, इसी बीच एक फिल्म के ऑनलाइन रिलीज़ होने की ख़बरों ने सोशल मीडिया पर काफी बवाल मचा रखा है। दरअसल, 'कोरोना जॉम्बीज़' नाम की फिल्म को कोरोना वायरस पर बनी पहली फिल्म कहा जा रहा है। 

इस फिल्म को डिजिटल प्लेटफॉर्म पर 10 अप्रैल को रिलीज कर दिया गया है। फिल्म का निर्देशन चार्ल्स बैंड ने किया है, जबकि फिल्म में रसेल कोकर, कोडी रेनी कैमरॉन, रॉबिन सिडनी नाम के कलाकारों ने काम किया है। फिल्म के निर्देशक ने कहा कि फिल्म की मेकिंग में सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा खयाल रखा गया है। 

फिल्म की कहानी की बात करें, तो यह फिल्म पूरी तरह फिक्शन और फैंटेसी पर बेस्ड है। फिल्म दिखाया गया है कि जो लोग कोरोना का शिकार हो रहे हैं, वो मरने के बाद जॉम्बी बन जाते हैं। 

वहीं कोरोना वायरस से निबटने के लिए एक खास टीम का गठन होता है, जो कोरोना से लड़ने के साथ इन जॉम्बीज़ से भी मुकाबला करती है। फिल्म में 'जॉम्बीज वर्सेस स्ट्रिपर्स' और फिल्म 'हैल ऑफ द लिविंग डेड' की फुटेज को भी शामिल किया गया है। 

तीन कलाकारों को लेकर बनाई गई इस घंटे की फिल्म को लगभग एक महीने में तैयार कर लिया गया। 

इस फिल्म थ्रिल और हॉरर का जबरदस्त तड़का निर्देशक ने डालने की कोशिश की है। वहीं फिल्म में कई रियल सीन्स भी इस्तेमाल किये गए हैं। जैसे कोरोना को लेकर बड़े लीडर्स की प्रेस कॉन्फ्रेंस की रीयल फुटेज का भी प्रयोग है। 

फिल्म 'कोरोना जॉम्बीज़' को डिजिटल प्लेटफॉर्म 'फुल मून फीचर्स' पर देखा जा सकता है।


संबंधित ख़बरें

टिप्पणियां

अत्रिज ने कहा…
ये कोरोना जॉम्बीज वाले तो आज तक से भी तेज निकले। कोरोना गया नहीं उस के पहले फ़िल्म बना डाली।