'कोविड -19' से जंग के लिए सेलेब्रिटी एक्सपर्ट्स ने मिलाया हाथ

लेखा गुप्ता, हिरल भाटिया, और एका लखनी 'मास्टर क्लास' शुरू करने जा रही हैं, जिससे महिलाओं को मजबूत बनाने के साथ ज़रूरतमंदों तक सहायता पहुंचाई जा सके। इन सभी सेलीब्रेटी ने अल्पविकसित बच्चों और महिलाओं को आजीविका कमाने में सहायता करने वाले फाउंडेशन 'मांझी' साथ हाथ मिलाया है। 

lekha gupta, hiral bhatia, eka lakhani come together for 'COVID 19'
हिरल भाटिया, लेखा गुप्ता और एका लखानी वो नाम हैं, जिन्हें आपने सुना न हो। अब आप भले ही बॉलीवुड के घनघोर प्रेमी क्यों न हों, लेकिन यह तीनों वो हस्तियां हैं, जो फिल्मी सितारों को संजाने-संवारने का काम करती हैं।
हिरल भाटिया ने आलिया भट्ट, कटरीना कैफ और प्रियंका चोपड़ा जोनस सहित कई अन्य टॉप एक्ट्रेस की हेयर-स्टाइलिस्ट का काम किया है।

वहीं मेकअप आर्टिस्ट लेखा गुप्ता ने माधुरी दीक्षित, कियारा आडवाणी और करीना कपूर खान के साथ काम कर चुकी हैं।

एका लखनी ने 'संजू', 'एनएच 10', 'फन्ने खां', '99 सॉन्ग्स' और 'द स्काई इज पिंक' जैसी कई फिल्मों में बतौर कॉस्ट्यूम डिजाइनर काम किया है।

अब यह तीनों पेशेवरों ने अलग-अलग कई बार काम किया है, लेकिन इस बार वे अपने टैलेंट का इस्तेमाल एक नेक काम करने के लिए करने जा रही हैं। इसके लिए यह तीनों एक साथ एक प्लेटफॉर्म पर आई हैं।

दरअसल, 'कोविड 19' महामारी के बीच जरूरतमंद लोगों के लिए धन जुटाने के लिए उन्होंने एक ऑनलाइन 'मास्टर क्लास' का संचालन करने की जिम्मेदारी उठाई है।

इस बारे में लेखा गुप्ता ने कहा, 'हमने टुकड़ों में काम करने के बजाय एक साथ आने का फैसला किया। हम कलाकार, कुछ कौशल के साथ जो भी करते हैं, उसे लेकर बहुत इमोशनल हैं और अपने प्रोफेशन पर हमें प्राउड भी है। मेरा मानना है कि यदि कोई व्यक्ति अपने जुनून को अपना पेशा बनाता है, तो उसे कभी बोरियत का सामना नहीं करना पड़ता।'

वहीं हिरल भाटिया ने कहा, 'इस दौर में हर चीज डिजिटल हो रहा है। मैं ऑनलाइन के लिए स्टॉफ तैयार कर रही हूं और ऑनलाइन ही 'मास्टर क्लास' ले रही हूं। ऑनलाइन ही सीख और सिखा रही हूं। अलग-अलग करने की बजाय हमनें सोचा कि एक साथ करने से यह ज्यादा मजबूत होगा। 'मास्टर क्लास' से होने वाली आमदनी 'मांझी' को जाएगी, जो अभावग्रस्त बच्चों और महिलाओं के लिए काम करता है।'

यह पहला मौका है, जब तीन सेलेब्रिटी एक्सपर्ट्स इस कठिन परिस्थिति के दौरान कोरोना वायरस के खिलाफ चल रही लड़ाई के लिए धन जुटाने के लिए एक साथ आए। यह सभी साझे रूप से 'मास्टर क्लास' लेकर आए हैं। 

सीमा बक्षी द्वारा संचालित 'मांझी' फाउंडेशन ने सरकारी अस्पतालों में पीपीई किट और अन्य जरूरतमंद उपकरणों की आपूर्ति करके इस संकट के दौरान उत्कृष्ट योगदान दिया है। इस भव्य मास्टर वर्ग द्वारा जुटाई गई धनराशि इस धर्मार्थ संस्था में जाएगी। लोगों को एक ऐसी स्थिति में मदद करेगी, जिसने अस्तित्व को एक बड़ा सवाल बना दिया है।

टिप्पणियां