अक्षय कुमार ने कहा, 'लॉकडाउन में काम करने का अनुभव अलग था'



लॉकडाउन के दौरान अक्षय कुमार ने मुम्बई के कमालिस्तान स्टूडियो में कोरोना काल में आत्मनिर्भर बनने और इस वायरस से सावधानीपूर्वक लड़ने‌ से जुड़े एक सरकारी विज्ञापन की शूटिंग की थी, जिसकी काफी चर्चा हुआ। लॉकडाउन के दौरान की गई शूटिंग का अनुभव उन्होंने साझा किया। 

akshay kumar shares shooting experience during lockdown
कोरोना वायरस से हुए लॉकडाउन के बीच एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री लगभग पूरी तरह से ठप्प हो गई। वहीं सेलेब्स ने इस विकट परिस्थिति में लोगों को इस वायरस से जागरूक करने के साथ, ज़रूरतमंदो की मदद के लिए आगे आए हैं। इन कलाकारों में अक्षय कुमार भी शामिल हैं। 

जहां काफी समय से फिल्मों और टीवी सीरियल्स की शूटिंग नहीं हो रही थी। वहीं लॉकडाउन में मिली थोड़ी सी छूट में अक्षय कुमार ने एक विज्ञापन की शूटिंग की। आर बाल्की के निर्देशन में तैयार इस विज्ञापन को लेकर सोशल मीडिया पर काफी हल्ला मचा था, लेकिन बाद में साफ हो गया कि यह एक सरकारी विज्ञापन है, जो जागरुकता फैलाने और आत्मनिर्भर बनने का संदेश देता है। 

वहीं लॉकडाउन के दौरान शूटिंग करने के अपने अनुभव को अक्षय कुमार ने साझा किया। हाल ही में नासिक पुलिस के लिए सेंट्रलाइज्ड ऑनलाइन हेल्थ सिस्टम के लॉन्चिंग वेबीनार में उन्होंने बताया कि कोरोना के बीच शूट करके कैसा लगा।

अक्षय कुमार ने कहा, 'कई दिनों के बाद में कैमरे के सामने को लेकर बेहद उत्साहित था। मुझे अजीब भी लग रहा था कि क्योंकि सामान्य दिनों के मुकाबले सेट पर आधे से भी कम क्रू मौजूद था। सोशल डिस्टेंसिंग का खयाल रखते हुए लोगों से मिलना-जुलना एक अलग-सा अहसास था, क्योंकि आमतौर पर हम गले मिलते हैं और एक-दूसरे से हाथ मिलाते हैं। मैं बाल्की सर (निर्देशक) को गले नहीं लगाया पाया।'

उन्होंने आगे कहा, 'शूटिंग के दौरान हर चीज को बार-बार सैनिटाइज़ किया जा रहा था। हमें लोगों का बॉडी टेम्परेचर चेक करने के साथ-साथ हमेशा मुंह पर मास्क पहनने रहना पड़ा. जब असिस्टेंट कोई सीन समझाने आते थे, तो वो भी एक निश्चित दूरी पर खड़े होते थे। कुछ लोगों ने तो मास्क शील्ड भी पहन रखा था. ऐसा लग रहा था मानो हम युद्ध के‌ लिए जा रहे हों।'

बता दें कि अक्षय ने यह सब नासिक पुलिस कमिश्चर विश्वास नागरे पाटिल के साथ हुए एक वेबीनार के दौरान कही थी। अपने अनुभव बयां करने के साथ अक्षय ने कोरोना वायरस के खिलाफ जंग लड़ रहे नासिक पुलिस की जमकर तारीफ और हौसला अफजाई भी की।

अक्षय कुमार ने हाल ही में नासिक पुलिस को 500 ऐसे विशेष रिस्ट बैंड्स दिए, जिनकी मदद से कोविड-19 के लक्षणों के बारे में जानकारी मिलती है। इसके अलावा अक्षय ने सेंट्रलाइज्ड ऑनलाइन हेल्थ सिस्टम के लॉन्च में अपना सहयोग दिया है, जिसके जरिये नासिक पुलिस के स्वास्थ्य पर निगरानी रखी जा सकेगी। 

इस वेबीनार ने अक्षय ने यह भी कहा कि अनलॉक-1 के दौरान कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ रही है और ऐसे में सभी को और भी ज्यादा अहतियात बरतने की जरूरत है। उन्होंने‌ कहा कि जिन लोगों के पास घर बैठकर काम‌ करने की सुविधा है,‌ वो घर बैठकर काम करें और जो लोग बाहर जा रहे हैं, वो मास्क पहनकर निकलें और अपने नाक और मुंह को अच्छी तरह से ढंकें। बार-बार हाथ धोने से लेकर जरूरी चीजों को ऑनलाइन ऑर्डर देने की सलाह भी दी। साथ ही जरूरतमंदों की मदद करने की अपील की। 

अक्षय ने लोगों को लॉकडाउन का पालन करने‌ की सलाह देते हुए कहा, 'आहिस्ता-आहिस्ता सभी लोग जल्द काम पर लौटेंगे... हम सबको काम पर जाना होगा और ऐसे में हमारा डरना सही नहीं होगा। यदि हम डर गये तो हम ये लड़ाई हार जाएंगे। हमें आगे बढ़कर‌ इसका मुकाबला करना होगा।' 

साथ ही अक्षय ने प्रशासन द्वारा बनाये गये नियमों का कड़ाई से पालन करने की भी अपील की और कहा कि यदि कोरोना वायरस से लड़ने का सबसे कारगर उपाय है। 

अक्षय ने कहा कि जिस तरह से फ्लू और सर्दी के साथ जीते आये हैं। हमें उसी तरह से हमें आगे जीना होगा। उन्होंने कहा, 'अब यह एक सामान्य बात हो गयी है और अब हमें सभी तरह के अहतियात बरतने होंगे... हमें डरने की जरूरत नहीं है। यदि आप डर जाएंगे तो आपकी इम्यूनिटी कम हो जाएगी।' 

संबंधित ख़बरें

टिप्पणियां