'सुशांत को अजीब आवाज़ें सुनाई देती थीं'- सुहृता सेनगुप्ता



लेखिका सुहृता सेनगुप्ता ने सुशांत सिंह राजपूत की मानसिक स्थिती को लेकर खुलासा किया है। उनका कहना है कि सुशांत को बीते कुछ दिनों से आवाज़े सुनाई देने लगी थीं। सुशांत की बिहड़ती मानसिक स्थिती को लेकर महेश भट्ट ने रिया चक्रवर्ती को आगाह किया था और साथ ही सुशांत से अलग होने की सलाह भी दी थी। 

Sushant singh rajput hearing weird voices
फिल्मकार महेश भट्ट के साथ काम करने वाली लेखिका सुहृता सेनगुप्ता ने सुशांत सिंह राजपूत के सुसाइड को लेकर एक सनसनीखेज खुलासा किया है। एक न्यूज़पोर्टल को इंटरव्यू देते हुए उन्होंने बताया कि महेश भट्ट ने सुशांत की लगातार बिगड़ती मानसिक स्थिति को देखकर पहले ही भांप गए थे। यहां तक कि महेश भट्ट ने कह दिया था कि यह एक और परवीन बॉबी है। 

साथ ही महेश भट्ट ने ही रिया चक्रवर्ती को सलाह दी थी कि वह सुशांत सिंह का साथ छोड़ दे। सुहृता ने बताया कि महेश की कंपनी में ही वे आखिरी बार सुशांत से मिली थीं। 

सुहृता की माने, तो घटनाक्रम इतनी तेजी से बदला कि सुशांत ने आखिरी के कुछ महीनों से खुद को अपने ही दिमाग़ में कैद कर लिया था। उस घुप्प अंधेरे में किसी के भी न पहुंचने के कारण वह उसमें और ज्यादा गहराई तक डूब गया।

इस पोर्टल से बातचीत में सुहृता ने बताया, 'सुशांत, भट्‌ट साहब के पास 'सड़क 2' में रोल की संभावना तलाशते हुए आए थे। सुशांत बातूनी थे, वे जल्द ही दोस्त बन गए। उनकी फिल्म के हीरो सूरज से जुड़ी हर बात पर अच्छी पकड़ थी। सुशांत सिनेमा के साथ-साथ क्वांटम फिजिक्स पर भी बोल सकते थे।' 

उन्होंने आगे कहा, 'भट्ट साब ने सुशांत के इस कड़े मेहनत के पीछे छिपी उदासी को पहचान लिया था। सुशांत के लक्षण बिलकुल वैसे ही थे, जैसे कभी उन्होंने परवीन बॉबी में देखा था। उन्हें पता था कि दवा के अलावा इसका कोई इलाज नहीं। वहीं सुशांत के तेजी से अवसाद में घिरने के कारण रिया फंस गई थीं, उसने पूरी कोशिश की ताकि सुशांत अपनी दवाएं ले, लेकिन सुशांत ने मना कर दिया। दवाएं न लेने के कारण सुशांत की हालत और ज्यादा बिगड़ती चली गई।' 

सुहृता का कहना है, 'बीते एक साल से सुशांत ने खुद को सबसे काट लिया था। रिया जब तक सुशांत का साथ निभा सकती थीं, उन्होंने भरसक कोशिश की, लेकिन एक समय ऐसा आया जब सुशांत को आवाजें सुनाई देने लगीं। उसे लगने लगा था कि लोग उसे मारने की कोशिश कर रहे हैं। एक दिन अनुराग कश्यप की एक फिल्म सुशांत के घर में चल रही थी और उन्होंने रिया से कहा, 'मैंने कश्यप से एक प्रोजेक्ट के लिए मना कर दिया था। अब वह मुझे मारने के लिए आने वाला है।''

सुहृता की माने, तो इस घटना के बाद रिया, सुशांत से डरने लगी थीं। इसी वजह से रिया ने सुशांत से रिश्ता तोड़ लिया। उसके पास और कोई रास्ता नहीं था। 

उन्होंने कहा, 'भट्‌ट साहब ने उससे कहा था कि अब तुम कुछ नहीं कर सकती। यदि इस रिश्ते में तुम और रहती हो तो तुम्हारी दिमागी हालत भी खराब हो जाएगी।'

बताया जा रहा है कि रिया ने सुशांत की बहन के मुंबई आने तक उसे संभाले रखा। सुशांत की बहनों ने भी उसकी मदद करने की पूरी कोशिश की, लेकिन वह किसी की सुनने को तैयार ही नहीं था। उसने अपनी डिप्रेशन की दवाएं लेना बंद कर दिया था।

संबंधित ख़बरें

टिप्पणियां