दयाशंकर पांडेय से लोग आखिर क्यों कहते थे, 'मेरे सिर से मेरी शनि हटा दीजिए'?

धारावाहिक 'महिमा शनि देव की' में 'शनि' की भूमिका निभाने वाले दयाशंकर पांडेय ने बताया कि अक्सर लोग उनके पास आते और कहते थे, 'मेरे सिर से मेरी शनि हटा दीजिए'। दयाशंकर यह भी मानते हैं कि शो के दोबारा प्रसारण से एक बार फिर से वो लाइम लाइट में आ गए हैं। 

dayashankar pandey as 'lord shani' in 'mahima shani dev ki'
अक्सर कई अभिनेता पौराणिक चरित्र जैसे भगवान 'राम', 'कृष्ण' को निभाने के बाद दर्शकों की नज़र में एक अलग स्थान बना लेते हैं। ऐसे ही स्थिति धारावाहिक 'महिमा शनि देव की' में 'शनि' की भूमिका निभाने वाले दयाशंकर पांडेय के सामने भी आ चुकी है। 

दयाशंकर के पास आकर लोग उनसे अपनी व्यक्तिगत समस्याओं को हल करने के लिए कहते थे। बता दें धारावाहिक 'महिमा शनि देव की' का उद्देश्य 'शनि' को लेकर समाज में फैली भ्रांतियों को तोड़ना था। फिलहाल यह धारावाहिक एक बार फिर से दंगल टीवी पर प्रसारित किया जा रहा है। 

इस बारे में दयाशंकर पांडेय कहते हैं, 'मुझे ऐसी घटनाएं याद हैं, जहां लोग मुझे असलियत में भगवान 'शनि' का रूप में मानने लगे थे और मुझसे उनकी समस्याओं को हल करने में मदद करने के लिए कहते थे। अक्सर लोग आते और मुझे कहते, आप मेरे सर से मेरा शनि हटा दो।'

दयाशंकर का कहना है कि 'शनि देव' की भूमिका निभाने के बाद उनको काफी लोकप्रियता मिली। इस बारे में वो कहते हैं, 'मैंने उस समय चार साल से अधिक समय तक शनि की भूमिका निभाई, और हां इसने मेरी दृष्टिकोण को बहुत प्रभावित किया है। मेरा दृढ़ विश्वास है कि आप जो कर्म करेंगे, वह आपके पास आएगा। जब शो शुरू हुआ था, तो मुझे उतना प्रचार नहीं मिला, जितना अब मुझे दंगल पर शो के फिर से चलने के कारण मिल रहा है। भगवान शनि के किरदार को निभाने के लिए मैंने जो मेहनत की, वह आखिरकार पूरी हो रही है।'

टिप्पणियां