कंगना रनौत ने कहा, 'महाराष्ट्र से प्रेम या नफरत का सर्टिफिकेट देने वाले आप कौन'

कंगना रनौत और महाराष्ट्र की राजनीतिक पार्टी शिवसेना से ज़बानी जंग ज्यादा ही बढ़ गई है। सोशल मीडिया पर दोनों पक्ष एक-दूसरे को काफी कुछ सुना रहे हैं। अबकी बार कंगना ने शिवसेना के नेता संजय राउत को जवाब देते हुए कहा कि महाराष्ट्र मेरी कर्मभूमिक है और महाराष्ट्र से प्रेम या नफरत करने का सर्टिफिकेट देने वाले कोई नहीं होते हैं। 

Kangana Ranaut tweets shows gratitude for maharashtra
बेबाक अभिनेत्री कंगना रनौत बीते ढाई-तीन महीन से बॉलीवुड के खिलाफ मोर्चा खोल रखा है। वो लगातार सोशल मीडिया पर बॉलीवुड ड्रग माफिया पर निशाना साध रही हैं। 

इसके अलावा सुशांत सिंह राजपूत के रहस्यमयी निधन को लेकर कंगना ने मुंबई पुलिस की भूमिका पर भी सवाल उठाया था। इसके बाद शिवसेना नेता संजय राउत सामने आए और कंगना को कहा कि यदि मुंबई से इतनी नफरत है, तो यहां न आएं। 

वहीं जवाबी हमला करते हुए कंगना ने कहा कि यह तो इस तरह का व्यवहा है, जैसे मुंबई भारत का हिस्सा न होकर, बल्कि पीओके यानी पाक अधिकृत कश्मीर हो गया है। 

अब कंगना के जवाब को सुनके के बाद महाराष्ट्र के राजनीतिक गलियारे में हड़कंप मच गया। तिलमिलाए शिवसेना नेता ने कंगना रनौत को धमकी देते हुए मुंबई वापस न आने की सलाह दी। 

इतना ही नहीं शिवसेना के नेता संजय राउत ने तो कंगना रनौत को पीओके जाने की सलाह भी दे डाली थी। इसके अलावा बॉलीवुड सितारे भी कंगना रनौत के खिलाफ आवाज उठा रहे हैं। 

वहीं कंगना रनौत ने एक बार फिर से शिवसेना पर हमला बोलते हुए महाराष्ट्र को अपनी कर्मभूमि बताया है। कुछ समय पहले ही कंगना रनौत ने ट्विटर के जरिये अपने विचार फैंस के साथ साझा किए हैं। 

कंगना रनौत लिखा, 'एक महान पिता की संतान होना ही आपकी एक मात्र उपलब्धि नहीं हो सकती, आप कौन होते हैं मुझे महाराष्ट्र प्रेम या नफरत का सर्टिफिकेट देने वाले ? आपने यह कैसे निर्धारित कर लिया की आप महाराष्ट्र को मुझसे ज्यादा प्रेम करते हैं? और अब मुझे वहां आने का कोई हक नहीं?'



अपने दूसरे ट्वीट में कंगना ने लिखा, 'मैं उन सभी लोगों का शुक्रगुजार हूं, जिन्होंने महाराष्ट्र से होने के बाद भी मुझे सपोर्ट किया है। इन लोगों को पता है कि मैं क्या चाहती हूं। मैं अपनी कर्मभूमि मुंबई से कितना प्यार करती हूं मुझे इस बात का सर्टिफिकेट देने की कोई जरूरत नहीं है। मैंने महाराष्ट्र को हमेशा यशोदा मां की तरह माना है, जिसने मुझे गोद लेकर पाला है। मैं हाथ जोड़कर बस एक ही बात कहना चाहती हूं जय मुंबई जय महाराष्ट्र...। अब पूरा इंडिया कंगना रनौत के साथ है।' 


इस दौरान कुछ लोगों ने कहा कि मुश्किल समय में भारतीय जनता पार्टी ने कंगना रनौत का साथ छोड़ दिया है। इसके जवाब में कंगना ने कहा, 'बीजेपी ने कंगना रनौत से दूरी बना ली है। क्या वाकई में ऐसा हुआ है। पहले कोई मुझे ये बताए कि मैं बीजेपी के करीब कब थी। क्या मैं एक नेता हूं या फिर मैं एक मंत्री हूं। मैंने तो कभी बीजेपी के बारे में बात ही नहीं की। ऐसी बकवास बातें करना बंद कीजिए।'

टिप्पणियां