वरना, ऋतिक होते 'भाईजान'



कमाई के लिहाज से बॉक्स आॅफ़िस के कई रिकॉर्ड तोड़ने वाली फ़िल्म 'बजरंगी भाईजान' में बजरंगी के किरदार के लिए पहली पसंद सलमान नहीं कोई और था। जी हां, निर्देशक कबीर ख़ान की फ़िल्म में बजरंगी के किरदार के लिए पहली पसंद थे रितिक रोशन। लेकिन फ़िल्मकार राकेश रोशन की एक शर्त ने रितिक को कुछ कामयाबी से दूर धकेल दिया।

निर्देशक कबीर ख़ान की फ़िल्म में बजरंगी के किरदार के लिए पहली पसंद थे रितिक रोशन। लेकिन फ़िल्मकार राकेश रोशन की एक शर्त ने रितिक को कुछ कामयाबी से दूर धकेल दिया।
मुंबई - सभी इस फ़िल्म की कहानी से लेकर ट्रीटमेंट तक की तारीफ़ें कर रहे हैं। अब रितिक को मिले इस चांस को भुना न पाने कर अफ़सोस तो ज़रूर होगा। 'चेन्नई एक्सप्रेस' और 'पीके' के अलावा हालिया रिलीज़ 'बाहुबली' का भी रिकॉर्ड तोड़ते हुए फ़िल्म ने 200 के आंकड़े को पार किया है।
बिगड़ी बात

'बजरंगी भाईजान' की कहानी को लिखने वाले वी विजेंद्र प्रसाद पहले राकेश रोशन से ही मिलने गए थे। उन्हें यह स्क्रिप्ट पसंद भी आई और रितिक को लेकर फ़िल्म बनाने का फ़ैसला भी किया। मजेदार बात तो यह है कि रितिक इसके लिए तैयार भी हो गए।

लेकिन प्रसाद ने राकेश के सामने यह शर्त रख दी कि वे ही इस फ़िल्म के निर्माता बनना चाहते हैं। यह शर्त राकेश को रास नहीं आई और उन्होंने इस प्रस्ताव से हाथ खींच लिया। इसके बाद विजेंद्र अपनी कहानी लेकर कबीर ख़ान के पास पहुंचे और कबीर ने इस फ़िल्म पर काम करना शुरू कर दिया। वैसे भी कबीर सलमान को लेकर फ़िल्म बनाने के फ़िराक़ में थे और उन्हें यह कहानी सटीक लगी।

अब इस कहानी को लेकर कबीर सलमान से मिले और सलमान की मंजूरी मिलते ही फ़िल्म की शूटिंग शुरू हो गई। यह फ़िल्म न सिफऱ् बनी, बल्कि इसने इतिहास भी रच दिया और सलमान के प्रति लोगों के नज़रिए को भी बदलने में यह कारगर रही। दिलचस्प तथ्य यह है कि भारत के अलावा पड़ोसी मुल्क़ में भी इस फ़िल्म ने कई कमाई के कई रिकॉर्ड कायम कर लिए हैं।

संबंधित खबरें।
आगे आयरन मैन मिलिंद!