सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

'साला खड़ूस' माधवन

अरे, अरे... आप तो बुरा मान बैठे। हम अभिनेता आर माधवन को कुछ नहीं कह रहे हैं। बल्कि यह तो उनकी आगामी फ़िल्म का नाम है। इस फ़िल्म में वे एक बॉक्सिंग कोच की भूमिका में नजर आएंगे। यह फ़िल्म वर्ष 2016 में जनवरी में सिनेमाघरों में प्रदर्शित की जाएगी। हाल ही इसका ट्रेलर लॉन्च किया गया। राजकुमार हिरानी ने इस फ़िल्म के बनने की दिलचस्प कहानी मीडिया से साझा की। आप भी जानना चाहते हैं, तो पढ़िए पूरी ख़बर ...

अभिनेता आर माधवन फ़िल्म 'साला खड़ूस'
मुंबई। अभी तक अभिनेता आर माधवन को सीधे सादे लवर बॉय या देसी लड़के की भूमिका में देखते आए दर्शक, उनकी अगली फ़िल्म को देखकर चौंक जाएंगे।

अपनी आगामी फ़िल्म में वे एक इंटेन्स बॉक्सिंग कोच की भूमिका में नजर आने वाले हैं। बढ़ी हुई दाढ़ी और कसरती भरे हुए जिस्म को लेकर, वे अपने एक्शन अवतार में नज़र आ रहे हैं।

मंगलवार को इस फ़िल्म का ट्रेलर लॉन्च किया गया। बॉक्सिंग पर आधारित इस फ़िल्म में माधवन मुख्य भूमिका में हैं। ट्रेलर की शुरुआत में माधवन एक डाॅयलॉग बोलते हुए दिखाई देंगे, 'कौन कहती है कि हिंदूस्तानियों में दम नहीं है। स्पोर्ट्स में से पॉलिटिक्स हटाकर देखो, गली गली में चैंपियंस मिलेंगे। '

बॉक्सिंग कोच बने माधवन एक लड़की को बॉक्सिंग सिखाने के लिए पूरी जी जान लगा देते हैं। माधवन के साथ मुख्य भूमिका में ऋतिका सिंह हैं। ऋतिका फ़िल्म में बॉक्सर लड़की के किरदार को निभा रही हैं।

यह फ़िल्म 28 जनवरी 2016 को सिनेमाोंघरों में रिलीज़ होगी। फिलहाल इस फ़िल्म का ट्रेलर देखने के लिए यहां क्लिक करें।

कैसे बनी साला खडूस

फ़िल्म के बनने की कहानी भी कम दिलचस्प नहीं है। इसे बयान करते हुए निर्माता निर्देशक राजकुमार हिरानी ने बताया कि इस फ़िल्म की नीव दो साल पहले रखी गई थी। 

एक रात माधवन ने मुझे फोन कर मिलने को कहा। इतनी रात को मिलने का मकसद, मुझे लगा कोई गंभीर बात हाेगी। जब वो आधे घंटे भर बाद घर आया, और बोला कि एक फ़िल्म की कहानी है। आधा घंटा आप दो मुझे, मैं सुनाता हूं।

अब आधे घंटे में कोई कहानी कैसे बता सकता है। फिर भी मैं मैंडी को जानता था, इसलिए कहा कि सुनाओ। लेकिन यक़ीन मानिए उस आधे घंटे में जो कहानी उसने बताई, मैं उसे विजुलाइज़ करने लगा। कहानी डन कर दी। अब कहानी के बाद मुख्य भूमिका कौन करेगा, यह सवाल आया।

इसका जवाब भी मैंडी के पास था। उसने तपाक से कहा 'मैं'। मैंने कहा भाई, तुम तो लवर बॉय हो और यह एक्शन फिजिक वाले बंदे के ऊपर ही अच्छी लगेगी। 

मैंडी ने कहा, 'आप मुझे छह महीने का समय दीजिए। मैं आपको एक्शन अवतार में नज़र आऊंगा। इसके बाद समय बीता और मैं लगभग इस कहानी को व्यस्तता के कारण भूल गया। लेकिन छह महीने बाद मैंडी बढ़े हुए बाल और बदले फिजिक के साथ मेरे सामने खड़ा था। उसे देखकर मैं चौक गया। '

कब, कैसे पूछने पर बताया कि छह महीने अमेरीका में ट्रेनिंग लेकर आया और अब वो फ़िल्म के लिए सूटेबल है कि नहीं। हिरानी आगे कहते हैं कि अब ना कहने की गुंजाइश नहीं बची थी। उसके बाद यह फ़िल्म आप सबके सामने है।