सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

‘बरेली की बर्फी’ से होगा ‘मूड मीठा’

अश्विनी अय्यर तिवारी अपनी दूसरी पेशकश ‘बरेली की बर्फी’ लेकर आ रही हैं। बुधवार को इस फिल्म का ट्रेलर लॉन्च किया गया। कृति सैनॉन, राजकुमार राव और आयुष्मान खुराना की मुख्य भूमिका वाली इस फिल्म का ट्रेलर काफी नयापन लिए हुए है। ‘मूड मीठा कीजिये’ की टैगलाइन से फिल्म का ट्रेलर जारी किया गया। 

कृति सैनॉन फिल्म बरेली की बर्फी में
मुंबई। फिल्म का ट्रेलर शुरू होता सीमा पाहवा से। सीमा एक खत पढ़ रही हैं, जो उनकी बेटी ‘बिट्टी’ ने उनके नाम लिखा है। इस खत में ‘बिट्टी’ ने घर छोड़कर जाने की बात लिखी है, वो खत पढ़ कर रो ही रही होती हैं कि ‘बिट्टी’ यानी कृति सैनॉन आ जाती है। 

खूबसूरती के साथ खुलते इस ट्रेलर में धीरे-धीरे कहानी बाहर आती है। दरअसल, ‘बरेली की बर्फी’ की कहानी एक ऐसी लड़की की है, जो बरेली में रहती है। उसे अंग्रेज़ी फिल्में देखना और ब्रेक डांस करना पसंद है। 

इस रोमांटिक कॉमेडी फिल्म में ट्राएंगल लव स्टोरी नज़र आ रही है। हालांकि, यह फिल्म ‘बिट्टी’ के इर्द-गिर्द ही बुनी गई है। 

इस ट्रेलर को देखने से इस बात का अंदाज़ा तो हो गया कि फिल्म में वन लाइनर खूब सुनने को मिलेंगे। 

ट्रेलर में एक जगह सीमा पाहवा अपने पति बने यानी ‘बिट्टी’ के पापा के किरदार में मौजूद पंकज त्रिपाठी से कहती हैं, ‘कितने लड़के देखने आए, किसी को पसंद नहीं आई, कोई तो कमी होगी लड़की में...’। 

वहीं एक जगह देखने को मिलता है कि ‘बिट्टी’ को देखने आया एक लड़का उससे पूछता है, ‘तुम वर्जिन हो?’ इस सवाल से ‘बिट्टी’ की आंखें फट जाती हैं और गुस्से को कुछ दबाते हुए कहती है,‘ नहीं’। 

फिर नज़र आते हैं ‘चिराग दूबे’ बने आयुष्मान खुराना, जिनको ‘बिट्टी’ से प्रेम हो जाता है और घटनाक्रम कुछ इस तरह बदलता है कि फिल्म में राजकुमार राव भी नज़र आते हैं। इस छोटे अंतराल में भोले-भाले राजकुमार राव राउडी या तेज़-तर्रार किरदार में बदलते नज़र आए। 

इस 2 मिनट 50 सेकंड के ट्रेलर से यह जाहिर होता है कि फिल्म में काफी कुछ नया देखने को मिलेगा। 

ग़ौरतलब है कि इस फिल्म को फिल्मफेयर पुरस्कार प्राप्त निर्देशक अश्विनी अय्यर तिवारी निर्देशित कर रही हैं। वहीं इस फिल्म को उनके पति ‘दंगल’ फेम निर्देशक नितेश तिवारी ने लिखा है। उत्तर प्रदेश के बरेली की पृष्ठभूमि पर आधारित इस फिल्म की कहानी फ्रेंच किताब ‘प्यार की सामाग्री’ से ली गई है। 

नीतिश ने किताब की कहानी को अपने को-राइटर श्रेयश जैन के साथ मिलकर फिल्म की स्क्रिप्ट में ढाला है। कहानी को फ्रांस से हटा कर बरेली में सेट किया है। यह फिल्म 18 आगस्त को रिलीज हो रही है।

संबंधित ख़बरें