नॉवेल पर बेस्ड हैं ये वेब सीरीज़

सैफ अली खान और नवाज़ुद्दीन सिद्दीक़ी की 'सेक्रेड गेम्स' हो या फिर इमरान हाशमी की 'बार्ड ऑफ ब्लड' या फिर केविन स्पेसी की 'हाउस ऑफ कार्ड्स' इन सभी वेब सीरीज़ में एक समानता है और वह है कि यह सभी मशहूर नॉवेल पर बेस्ड हैं। इनके अलावा और भी कुछ वेब सीरीज़ हैं, कौन-कौन सी हैं, जानने के लिए पढ़िए। 

web series based on novels
डिजिटल मीडियम पर कंटेंट बेस्ड एंटरटेनमेंट काफी मिल रहा है। एक से बढ़ एक वेब सीरीज़ ऑडियंस को काफी पसंद आ रही हैं और दिलचस्प बात यह है कि बड़े-बड़े सितारे भी इन वेब सीरीज़ में आने से खुद को नहीं रोक पा रहे हैं। कुछ वेब सीरीज़ तो इतने हिट हुए हैं कि उनके एक के बाद एक कई सीजन्स आ चुके हैं।

अब इनमें से कुछ ऑरिजनल आइडिया पर बेस्ड होते हैं, तो कुछ वेब सीरीज़ के लिए मसाला नॉवेल से मिल जाता है। ऐसी ही कुछ वेब सीरीज़ के बारे में आपको बताते हैं, जो किताब की शक्ल में काफी चर्चा में नहीं रही, लेकिन वेब सीरीज़ बनते ही छा गईं। 

हुमा कुरैशी की 'लैला'

हुमा कुरैशी, सिद्धार्थ, आरिफ जकारिया, सीमा बिस्वास, आकाश खुराना, अनुपम भट्टाचार्या जैसे कलाकारों से सजी वेब सीरीज़ 'लैला' का निर्देशन दीपा मेहता, पवन कुमार, शंकर रमन ने मिलकर किया है। इस वेब सीरीज़ की कहानी शालिनी रिजवान चौधरी नाम की महिला की है, जो अपने घर में पति और बेटी लैला के साथ खुशी-खुशी जीवन बिता रही है, लेकिन शालिनी की जिंदगी में तूफान तब आता है, जब अचानक उनके घर में पवित्र पलटन आ जाती है और उसके पति की हत्या कर उसे लैला से दूर ले जाती है। अब शालिनी की जिंदगी का एक ही मकसद रहता है कि अपनी बेटी की तलाश कर अपने घर पहुंचे। नेटफ्लिक्स की यह वेब सीरीज़ प्रयाग अकबर की लिखी नॉवेल  'लैला' पर बेस्ड है। 

सैफ अली खान और नवाज़ुद्दीन सिद्दीक़ी की 'सेक्रेड गेम्स'

सैफ अली खान और नवाज़ुद्दीन सिद्दीक़ी की मुख्य भूमिका वाली 'सेक्रेड गेम्स' उन वेब सीरीज़ में से है, जिसके वन लाइनर्स पर जमकर मीम्स बने। गणेश गायतोंडे हो या फिर सरताज सिंह, सभी किरदारों ने जमकर लाइमलाइट बटोरी है। फिलहाल 'सेक्रेड गेम्स' के दो सीज़न आ चुके हैं, लेकिन इसके पहले सीजन ने खूब तारीफें बटोरी थीं। विक्रम चंद्रा की नॉवेल 'सेक्रेड गेम्स' पर बेस्ड इस वेब सीरीज़ को अनुराग कश्यप, विक्रमादित्य मोटवाने और नीरज घेवन ने निर्देशित किया है। वहीं इस किताब को स्क्रिप्ट की शक्ल में वरुण ग्रोवर, स्मिता सिंह, वसंत नाथ, ध्रुव नारंग, पूजा तोलानी और निहित भावे ने ढाला है। 

इमरान हाशमी की 'बार्ड ऑफ ब्लड'

शाहरुख खान के रेड चिलीज़ एंटरटेनमेंट के बैनर तले बनी 'बार्ड ऑफ ब्लड' एक स्पाय ड्रामा वेब सीरीज़ है। इसमें इमरान हाशमी रॉ-एजेंट की भूमिका में थे। इमारन के अलावा सोभिता धुलीपाला, विनित कुमार सिंह, कीर्ति कुल्हारी और जयदीप अहलावत सरीखे कलाकार दिखाई दिए। रिभु दास गुप्ता के निर्देशन में बनी यह सीरीज़ दर्शकों को उतनी पसंद नहीं आई। बता दें कि यह वेब सीरीज़ बिलाल सिद्दिक़ी की नॉवेल 'बार्ड ऑफ ब्लड' पर बेस्ड है। 

अर्जुन रामपाल की 'द फाइनल कॉल'

अर्जुन रामपाल, नीरज काबी, जावेद जाफरी, अनुप्रिया गोयनका, साक्षी तंवर जैसे कलाकारों से सजी ज़ी-5 की यह वेब सीरीज़ दर्शकों को काफी पसंद आई थी। कहानी एक फाइटर पायलट करण की है, जो बाद में कमर्शियल यानी पैसेंजर पायलट बन जाता है। बैक स्टोरीज़ में उसके बारे में कई राज खुलते हैं। विजय लालवानी के निर्देशन में बनी यह वेब सीरीज़ प्रिया कुमार की साल 2015 में आई नॉवेल 'आई विल गो विथ यू: दि फाइट ऑफ लाइफ टाइम' पर आधारित है। 


मुंबई हमले पर बनी 'स्टेट ऑफ सीज-26/11'

मुंबई पर हुए आतंकी हमले पर बनी  'स्टेट ऑफ सीज-26/11' में अर्जुन बाजवा, अर्जुन बिजलानी, मुकुल देव, विवेक दहिया, तारा अलीशा बेरी मुख्य भूमिका में हैं। हालांकि, इस हमले पर पहले भी कई फिल्में बनाई जा चुकी हैं, लेकिन इस सीरीज़ को एक टाइमलाइन के हिसाब से चलती है। ज़ी-5 की इस सीरीज़ का निर्देशन मैथ्यू लियूटविलर ने किया है। यह वेब सीरीज वरिष्ठ पत्रकार संदीप उन्नीथन की किताब 'ब्लैक टोरनैडो' पर आधिरत है। 

क्रिकेट के सपने का 'सिलेक्शन डे'

साल 2018 में आई 'सिलेक्शन डे' उतनी चर्चा में नहीं रही। दरअसल, इस सीरीज़ में महेश मांझरेकर, रत्ना पाठक शाह आर अक्षय ओबेरॉय सरीखे नाम थे, लेकिन चर्चा से दूर ही रही। इस सीरीज़ में एक पिता का अपने बेटों को लेकर देखे गए सपने और फिर उनको पूरा करने में जुटे जद्दोजहद की कहानी है। राझा और मंजुनाथ नाम के दो भाइयों को उनके पिता क्रिकेट खेलने की ट्रेनिंग देते हैं और फिर गांव में काफी प्रैक्टिस होने के बाद मुंबई का रूख इस उम्मीद में करते हैं कि ज्यादा कुछ नहीं, तो डॉमेस्टिंक क्रिकेट में खेलने के लिए चयन हो जाएगा। 
यदि आपने इसे अभी तक नहीं देखा हो, तो ज़रूर देखें। ख़ैर, यह सीरीज़ अरविंद अडिग की किताब 'सिलेक्शन डे' पर बेस्ड है। 

केविन स्पेसी की मस्ट वॉच 'हाउस ऑफ कार्ड्स'

हिन्दुस्तानी वेब सीरीज़ की चर्चा के बाद एक ऐसी वेब सीरीज़ की चर्चा, जिसे किसी देश या भाषा की सीमा बांध नहीं पाई है। इसके दीवानों की संख्या पूरी दुनिया है। जी हां, हम बात कर रहे हैं केविन स्पेसी की 'हाउस ऑफ कार्ड्स' की। 

इस सीरीज के छह सीज़न आ चुके हैं और सातवें का इंतज़ार है। कुछ का कहना है कि सातवां सीज़न आएगा, तो वहीं कुछ का कहना है कि कहानी खत्म हुई। दरअसल, इस सीरीज़ में मुख्य भूमिका निभाने वाले केविन स्पेसी पर सेक्शुअल असॉल्ट के आरोप लगे और एक के बाद एक आरोपों के लगने से इस सीरीज़ के मेकर्स ने उनको सीरीज़ से अपना नाता तोड़ने को कह दिया था। हालांकि, केविन पर लगे आरोपों से वो निर्दोष निकल आए हैं। 

वहीं इसके कथानक की बात करें, तो फ्रैंक यानी फ्रांसिस जे अंडरवुड एक महत्वाकांक्षी पॉलिटिशियन है, जो अपनी प्लानिंग और प्लॉटिंग की बदौलत अपने सपने को पाने के पीछे है। वो चाहता है अमेरिका का प्रेसीडेंट बनना। यह 'मस्ट वॉच' वेब सीरीज़ ब्रिटिश पॉलिटिशियन माइकल डोब्स की नॉवेल 'हाउस ऑफ कार्ड्स' पर आधारित है।

संबंधित ख़बरें

टिप्पणियां