कनन मल्होत्रा ने 'भगवान विष्णु' की भूमिका के लिए किया है चार साल तक रिसर्च

कनन मल्होत्रा इन दिनों 'देवी आदि पराशक्ति' में 'भगवान विष्णु' की भूमिका में नज़र आ रहे हैं। उनका कहना है कि इस किरदार के लिए उन्होने चार साल तक गहरा रिसर्च किया है। कनन इससे पहले 'महाकाली-अंत ही आरंभ है' में 'विष्णु' की भूमिका में दिखे और 'सूर्यपुत्र कर्ण' में वो 'युधिष्ठिर' के किरदार में नज़र आ चुके हैं। 

kanan Malhotra reveals he has been researching to play lord vishnu for four years
कलाकार अपने किरदार को समझने और उसे पर्दे पर उतारने के लिए काफी रिसर्च करते हैं, ताकि वो कैमरे के सामने कलाकार न रहे, बल्कि किरदार बन जाएं। इस दौर में कलाकार अपने शरीर और विचार से लेकर अपनी आवाज़ को बदलकर किरदार को जीवंत करने के लिए कई चुनौतियों से गुजरता है। 

कनन मल्होत्रा भी उन्हीं कलाकारों में से एक हैं। इन दिनों दंगल चैनल के सीरियल 'देवी आदि पराशक्ति 'में 'भगवान विष्णु' की भूमिका में नज़र आ रहे कनन ने इस किरदार में ढलने के लिए तकरीबन चार साल तक तगड़ा रिसर्च किया है। इस रिसर्च से न सिर्फ वो अपने किरदार को करीब से समझ पाए, बल्कि साथ-साथ उनकी वेद पुराणों में रूचि भी बढ़ी।

इस बारे में वो कहते हैं, 'करीब 4 साल हो गए हैं जबसे मुझे ये रोल मिला है। मैंने ना सिर्फ 'विष्णु' पर रिसर्च की बल्कि दिल लगाकर समझा भी। 'देवी आदि परा शक्ति' मेरा दूसरा पौराणिक सीरियल है, जहां मैं 'विष्णु' बना हूं। जब पहली बार ये भूमिका करने का मौका मिला था, तो मुझमे 'विष्णु' को गहनता से समझने की जिज्ञासा बढ़ी। इंटरनेट पर मैंने 'विष्णु' के बारे में पढ़ा और साथ-साथ इस पर गहन अध्ययन भी किया।'

कनन ने 'विष्णु' के किरदार को निभाने के लिए काफी मेहनत की है। उनका कहना है, 'मैंने भगवत गीता को पढ़ा और 'रामायण' के साथ 'महाभारत' का भी अध्यय किया, ताकि में भगवान 'विष्णु' के किरदार को अच्छी तरह समझ कर निभा सकूं। 'विष्णु' बनने के लिए मैंने उनकी मुद्रा, चाल-ढाल की बारीकियों को समझा। अपने हिंदी उच्चारण को शुद्ध करने के लिए कई किताबें पढ़ीं।' 

बता दें, कनन ने इससे पहले 'महाकाली- अंत ही आरम्भ है' में 'विष्णु' की भूमिका निभा चुके हैं, तो वहीं 'सूर्यपुत्र कर्ण' में वो 'युधिष्ठिर' के किरदार में दिखाई दिए थे। 'शनि' में 'राजा हरिश्चंद्र' और 'राम सिया के लव कुश' में उन्होंने 'भरत' की भूमिका निभाई थी। कनन ने अपने टेलीविज़न करियर की शुरुआत साल 2010 में धारावाहिक 'चांद छिपा बादल' शो से की थी।

टिप्पणियां