अभय देओल ने कहा,'बॉलीवुड के भ्रष्ट आचरण पर फिल्म...'



अभय देओल ने अपनी फिल्म 'शंघाई' का पोस्टर शेयर करते हुए इसे वर्तमान परिदृश्य पर सटीक बैठनी वाली फिल्म कहा। साथ ही अपनी पोस्ट में उन्होंने लिखा कि बॉलीवुड के भ्रष्ट आचरण पर भी फिल्म बनाई जा सकती है। अभय इन दिनों बॉलीवुड में चलने वाली लॉबिंग और नेपोटिज़्म पर खुल कर बोल रहे हैं। 

Abhay Deol critisices corrupt practices in bollywood
अभय देओल इन दिनों बॉलीवुड में होने वाली लॉबिंग और नेपोटिज़्म पर खुल कर बोल रहे हैं। हालिया पोस्ट में उन्होंने बताया था कि फिल्मी परिवार से होने के बावजूद भी वो लॉबिंग के फेवरेटिज़्म के शिकार हो चुके हैं। 

इसी कड़ी में एक बार फिर से उन्होंने बॉलीवुड को लेकर कटाक्ष करते हुए कहा कि इसके भ्रष्ट आचरण पर एक फिल्म बनाई जा सकती है।

अभय देओल ने अपने इंस्टाग्राम पर फिल्म 'शंघाई' को पोस्टर शेयर करते हुए अपनी बात लिखी है। अभय लिखते हैं, ' साल 2012 में रिलीज हुई 'शंघाई' राजनीति में जड़ जमा चुके भ्रष्टाचार का सटीक चित्रण पेश करती है। इसको देखकर कोई बॉलीवुड के भ्रष्ट आचरण पर फिल्म बना सकता है।'

साथ ही बॉलीवुड में पनप रहे नेपोटिज्म पर करारा प्रहार करते हुए इसके विरोध में आवाज उठाने वालों की सराहना भी की। हालांकि उन्हें इस बात का विश्वास नहीं है कि सुशांत सिंह राजपूत की खुदकुशी के बाद पैदा हुआ गुस्सा स्वतंत्र हिंदी फिल्म और म्यूजिक उद्योग को बढ़ावा देगा।

फिल्म 'शंघाई' के प्रोड्यूसर के लिए मैसेज देते हुए उन्होंने लिखा, 'हमें एक और इस तरह की फिल्म बनानी है। वसीम खान का इंस्टाग्राम हैंडल क्या है?'



A post shared by Abhay Deol (@abhaydeol) on

दिबाकर बनर्जी के निर्देशन में बनी इस पॉलिटिकल थ्रिलर फिल्म में इमरान हाशमी, कल्कि केकला और प्रोसेनजीत चटर्जी भी अहम भूमिकाओं में थे। 

अभय देओल ने हाल ही में अवार्ड फंक्शन में लॉबी कल्चर के खिलाफ आवाज उठाकर जोरदार सुर्खियां बटोरी थीं। उन्होंने एक अखबार को दिए इंटरव्यू में खुलासा किया था कि झूठी कहानियों को प्लांट किया जाता है। करियर खत्म करने के लिए नेगेटिव इमेज तैयार की जाती है।

संबंधित ख़बरें

टिप्पणियां