कंगना रनौत ने बॉलीवुड से पूछा, 'जॉर्ज फ्लॉयड की मौत पर विरोध, साधुओं की हत्या पर चुप्पी क्यों?'

कंगना रनौत ने बॉलीवुड सेलेब के दोहरे चरित्र पर तंज कसते हुए कहा कि अमेरिकी नागरिक जॉर्ज फ्लॉयड की मौत पर विरोध दर्ज करवा रहे हैं और इंसाफ मांग रहे हैं, जबकि भारत में ही साधुओं को मॉब लिंचिंग कर मार डाला गया, जिसे लेकर बी-टाउन के लोगों ने कुछ नहीं कहा। सिलेक्टिव एक्टिविज़्म करके सस्ती लोकप्रियता पाने के लिए हॉलीवुड स्टार्स की नकल कर रहे हैं। 

kangana ranaut criticized bollywood celebs who are not seaking on sadhus death
अमेरिका में पुलिस की बर्बरता का शिकार हुए जॉर्ड फ्लॉयड की मौत पर काफी हंगामा मचा हुआ है। अमेरिका में इसे लेकर विरोध तेज है, तो वहीं बॉलीवुड सितारे भी सोशल मीडिया पर फ्लॉयड के लिए इंसाफ की गुहार लगा रहे हैं। 

इस बीच कंगना रनौत ने बॉलीवुड स्टार्स के दोहरे चरित्र से खासी नाराज हो गई हैं। उन्होंने इन सितारों से पूछा है कि अपने ही देश में साधुओं की हत्या पर वह क्यों नहीं कुछ बोलते?

करीना कपूर खान, प्रियंका चोपड़ा, करण जौहर, दिशा पाटनी समेत कई सेलिब्रिटीज ने बीते दिनों सोशल मीडिया के जरिये अमेरिका में चल रहे आंदोलन को समर्थन दिया था। वहीं कंगना रनौत ने हिंदी फिल्म इंडस्ट्री के इस रवैये पर सवाल खड़ा किया है। 

हालिया दिए इंटरव्यू में कंगना ने कहा,'बॉलीवुड सिलेब्रिटीज, हॉलीवुड की नकल करते हैं, ताकि कुछ देर के लिए वो भी लोकप्रिय हो जाएं। कुछ सप्ताह पहले दो साधुओं और ड्राइवर की मॉब लिंचिंग हुई थी, लेकिन किसी ने कुछ नहीं कहा। यह सब महाराष्ट्र में हुआ जहां ज्यादातर सेलिब्रिटीज रहते हैं।'

कंगना ने बी-टाउन सेलेब्स पर बहती गंगा में हाथ धोने का आरोप लगाते हुए कहा कि उन्हें दो मिनट का फेम हासिल हो जाए। इसलिए सिलेक्टिव एक्टिविज़्म करते हैं। 

कंगना ने ऐसे रवैया एख्तियार करने वालों पर हमला करते हुए कहा, 'इंडस्ट्री के लोगों में आजादी से पहले की गुलामी भरी पड़ी है। इसलिए ‘सफेद लोगों’ की चलाई मुहिम का हिस्सा बनना पसंद करते हैं।'

बता दें, महाराष्ट्र में बीते 2 महीनों में साधुओं की हत्याओं की 2 घटनाएं हुई थीं, जिन पर काफी बवाल मचा था। पहले पालघर में कुछ लोगों की भीड़ ने दो साधु की पीट-पीटकर हत्या कर दी थी, जबकि पिछले महीने ही नांदेड़ में भी एक साधु की पीटकर हत्या कर दी गई थी।

इसके अलावा कंगना ने देश में पर्यावरण से लेकर सामाजिक मुद्दों पर काम कर रहे कई एक्टिविस्टों के बारे में बात करते हुए कहा कि ऐसे लोग बिना किसी मदद या पहचान के देश में बड़े काम कर रहे हैं, लेकिन इंडस्ट्री के लोग कभी भी उनको वो सम्मान नहीं देते।

कंगना ने तंज कसते हुए कहा कि शायद साधू या आदिवासी लोग बॉलीवुड वालों और उनकी फैंस के लिए ज्यादा फैंसी नहीं हैं, तभी तो वो उनकी ओर ध्यान नहीं देते। बॉलीवुड सेलेब्स को भारत के मामलों पर चुप्पी साधे रखने पर निशाना साधा।

वहीं वर्कफ्रंट की बात करें तो की आने वाली फिल्म 'थलाइवी' है, जिसमें वो लीड रोल में नजर आने वाली हैं। इस फिल्म में वो पूर्व मुख्यमंत्री जयललिता के किरदार में नजर आने वाली हैं। इसके साथ ही वह फिल्म 'तेजस' में भी दिखाई देंगी। इस फिल्म में वो इंडियन एयरफोर्स की पायलट के किरदार में नजर आएंगी।

संबंधित ख़बरें

टिप्पणियां