अक्षय कुमार की 'लक्ष्मी बॉम्ब' के लिए डिज़्नी प्लस हॉटस्टार से इतने में हुई है डील

अक्षय कुमार की फिल्म 'लक्ष्मी बॉम्ब' अब डिज़्नी प्लस हॉटस्टार पर रिलीज़ हो रही है। इस ओटीटी प्लेटफॉर्म ने अक्षय की फिल्म के मेकर्स का भारी-भरकम कीमत दी है। रिपोर्ट में दावा किया जा रहा है कि 80 करोड़ की लागत में बनी इस फिल्म को 125 करोड़ में बेची गई है। इस डील के बाद सबसे ज्यादा कीमत वसूल कर ओटीटी पर रिलीज़ होने वाली यह पहली फिल्म भी बन गई है। 

akshay kumar's film 'laxmmi bomb' poster
अक्षय कुमार की फिल्म 'लक्ष्मी बॉम्ब' को अब थियेटर्स पर नहीं बल्कि सीधा ओटीटी प्लेटफॉर्म पर रिलीज़ हो रही है। हालांकि, अक्षय के फैन्स इस बाद से काफी नाराज़ हैं, क्योंकि वो अक्षय की फिल्म थिएटर में ही देखना चाहते हैं। 

ख़ैर, अब तो घोषणा कर दी गई है कि अक्षय की 'लक्ष्मी बॉम्ब' को डिज़्नी प्लस हॉटस्टार पर रिलीज़ किया जाएगा। हॉरर जॉनर की इस फिल्म में अक्षय ट्रांसजेंडर की भूमिका में दिखाई देंगे। जाहिर है, अक्षय के फैन्स उनके इस अवतार और परफॉर्मेंस के लिए काफी एक्साइटेड होंगे। वहीं इस फिल्म में अक्षय कुमार के साथ कियारा आडवाणी अहम भूमिका में हैं। 

अब फिल्म को थिएटर के बजाय ओटीटी पर रिलीज़ करने के फैसले को कुछ सही, तो कुछ गलत ठहरा रहे हैं। सिनेप्रेमियों का कहना है कि फिल्म थिएटर में रिलीज़ होती, तो कमाई के रिकॉर्ड तोड़ती। वहीं विशेषज्ञों और फिल्म से जुडे़ सूत्रों का कहना है कि फिल्म के मेकर्स ने ओटीटी प्लेटफॉर्म पर फिल्म को रिलीज़ करने का फैसला सही किया है। 

दरअसल, कोरोना काल में थिएटर कब खुलेंगे, इसके बारे में कुछ कहना संभव नहीं है। वहीं बनी-बनाई फिल्म को बंद रखने से अच्छा है कि इससे मुनाफा कमा कर अगले प्रोजेक्ट की तैयारी की जाए। इसी वजह से 'लक्ष्मी बॉम्ब' को ओटीटी पर रिलीज़ किया जा रहा है। 

अब सूत्रों की माने, तो 80 करोड़ की लागत में बनी इस फिल्म को मेकर्स ने 125 करोड़ रुपए में बेचा है। इस तरह से फिल्म मुनाफे में ही है। 

इस फिल्म का निर्देशन राघव लॉरेंस ने किया है। बता दें कि यह फिल्म साउथ फिल्म 'मुन्नी 2: कंचना' की रीमेक है। साउथ की ऑरिजनल फिल्म में खुद निर्देशक राघव लॉरेंस ही लीड रोल में थे। तमिल भाषा में बनी इस फिल्म ने भी बंपर कमाई की थी। इस फिल्म में हॉरर के साथ-साथ कॉमेडी भी जमकर दिखने वाली है।

टिप्पणियां

फिल्मिस्तान ने कहा…
हाल ही में जिन फिल्मों का अवतरण OTT पर हुआ है उस से एक बात साफ़ हो गयी के फिल्ममेकर्स अक्के बिजनेस में है - वो घटिया बनी फिल्मों को OTT वालों को चेप कर पैसा बना रहे है और अच्च्छी फिल्मों को थियेटर के लिए रख रहे है -
लक्षी बम और सूर्यवंशी इस का उदाहरण है - लक्षी बम घटिया बनी है और फिल्म मेकर्स को लगा वाट लग जायेगी तो उसे OTT पर रिलीज़ कर रहे है और सूर्यवंशी जो अच्छी बनी है उसे थियेटर के लिए रखा जा रहा है -
गुलाबो सिताबो इसी बात को साबित करता है - फ़िल्म सर फोडू बनी थी तो अमेज़न प्राइम के सर फोड़ दी - खुद अमेजोम प्राइम को इतना बड़ा चुना लगा गी उस ने लक्ष्मी बम और भुज द प्राइड जैसी फिल्मों की डील छोड़ दी = जल्दी ही यही हाल हॉट स्टार डिज्नी का भी होने वाला है