'सरकार' के 15 साल पूरे होने पर अमिताभ बच्चन ने लिखा, 'घड़ियां दिन की बीत जाती हैं...'

अमिताभ बच्चन ने अपनी फिल्म 'सरकार' की रिलीज़ को पंद्रह साल पूरे होने पर उन्होंने सोशल मीडिया पर फिल्म को याद कते हुए लिखा, 'घड़ियां दिन की बीत जाती हैं, सालों बाद, छवि उनकी सामने आती है, याद आते हैं वो क्षण, वो चित्रण, अर्पण, दर्पण, कारण था प्रण, समर्पण, स्पष्टीकरण, की यही हो उदाहरण, इस रूपांतरण का आभूषण, फ़िल्मीकरण, चले वर्षों, रहे आमरण!! मंगलाचरण, मंगलाचरण, मंगलाचरण !!!'

amitabh bachchan in film film 'sarkar'
राम गोपाल वर्मा के निर्देशन में बनी फिल्म 'सरकार' 1 जुलाई 2005 को रिलीज़ हुई थी। इस फिल्म में अमिताभ बच्चन मुख्य भूमिका में थे। फिल्म ने दर्शकों के साथ क्रिटिक्स का भी दिल जीता था। बॉक्स ऑफिस पर फिल्म का प्रदर्शन काफी अच्छा था।

अमिताभ बच्चन की फिल्म 'सरकार' की रिलीज को हाल ही में 15 साल पूरे हो गए। इस खुशी में उन्होंने गुरुवार को सोशल मीडिया पर एक पोस्ट शेयर करते हुए फिल्म को याद किया। इसका पोस्टर शेयर करते हुए बच्चन ने लिखा 'सरकार के 15 साल...'

इस पोस्ट में आगे लिखते हैं, 'घड़ियां दिन की बीत जाती हैं, सालों बाद, छवि उनकी सामने आती है, याद आते हैं वो क्षण, वो चित्रण, अर्पण, दर्पण, कारण था प्रण, समर्पण, स्पष्टीकरण, की यही हो उदाहरण, इस रूपांतरण का आभूषण, फ़िल्मीकरण, चले वर्षों, रहे आमरण!! मंगलाचरण, मंगलाचरण, मंगलाचरण !!!'


अमिताभ की इस पोस्ट पर भूमि पेडनेकर ने रिएक्शन देते हुए लिखा है, 'पसंदीदा'। 

मनीष पॉल ने भी इस पर कमेंट करते हुए लिखा, 'मुझे ये फिल्म बेहद पसंद है सर और इसमें भी खासकर आप... मैं मानता हूं मैं बहुत से काम ऐसे करता हूं जिन्हें कानूनी नहीं कहा जा सकता। उफ ये डायलॉग, इसे कुछ दिन पहले ही मैंने अपने इंस्टा पर किया था... अमिताभ बच्चन सर।'

राम गोपाल वर्मा की 'सरकार'

राम गोपाल वर्मा के निर्देशन में बनी यह फिल्म साल 1972 में बनी हॉलीवुड फिल्म 'द गॉडफादर' पर आधारित थी। इस फिल्म में अमिताभ ने सुभाष नागले का किरदार निभाया था, जो कि शिवसेना सुप्रीमो बाला साहब ठाकरे से प्रभावित था। उनके अलावा इस फिल्म में अभिषेक बच्चन, केके मेनन, कटरीना कैफ, इशरत अली, अनुपम खेर, सुप्रिया पाठक और तनीषा मुखर्जी खास किरदार में थे।

टिप्पणियां