अमिताभ बच्चन ने क्यों और किसे कहा, 'ठोक दो साले को'?



अमिताभ बच्चन ने अपने ब्लॉग में लिखा है कि एक ट्रोलर ने कहा, 'तुम कोविड-19 से मर जाओ'। ट्रोलर की इस बात से उन्हें काफी गुस्सा आया और उन्होंने इसका जवाब देते हुए ब्लॉग में लिखा, 'अगर मैने 90 मिलियन लोगों के परिवार से कह दिया कि ठोक दो साले को, तो तेरा क्या होगा?' अमिताभ का यह अंदाज़ फिल्मों में ही देखा है। अभी तक वो काफी संयमित व्यवहार के लिए जाने जाते हैं। 

Amitabh bchchan
सोशल मीडिया ऐसा प्लेटफॉर्म है, जहां पर अपने फैन्स से सितारे सीधे संपर्क में रहते हैं। तारीफें सीधी मिलने के साथ ही, कई बार ऐसा भी मौका आता है, जब इन सितारों को काफी कुछ सीधे सुनने को मिल जाता है। 

ऐसा ही वाकया अमिताभ बच्चन के साथ हुई, जब एक ट्रोलर ने उनके 'मरने' की दुआ मांग ली। उस ट्रोलर की इस बात को सुनने के बाद अमिताभ बच्चन को पारा चढ़ गया और उन्होंने सारा गुस्सा अपने ब्लॉग पर निकाल दिया।

फिलहाल कोरोना का इलाज करा रहे बिग बी ने अपने ब्लॉग पर एक लम्बा चौड़ा पोस्ट लिखा है, जिसमें उन्होंने अपना गुस्सा जाहिर किया है।

बता दें कि सोमवार को उनकी बहू ऐश्वर्या राय बच्चन और पोती आराध्या अस्पताल से डिस्चार्ज होकर घर पहुंचे। अमिताभ ने अपने ब्लॉग में इस इमोशनल लम्हे के बारे में बताया है। उन्होंने लिखा है, 'लिटिल वन (आराध्या) और बहूरानी घर चली गईं और मेरी आंखों से आंसू बह निकले। आराध्या ने मुझे गले लगाया और कहा कि रोइए मत। उसने तसल्ली दी कि आप जल्दी ही घर पर होंगे। मुझे उसका विश्वास करना चाहिए।' 

इसके बाद अमिताभ ने अपने ब्लॉग में उस शख्स को जवाब दिया है, जो उनकी मौत की बददुआ कर रहा था। उन्होंने लिखा है, 'मिस्टर अनाम...भगवान की कृपा से यदि मैं जीवित रहा और सर्वाइव कर गया, तो तुम्हें कटाक्ष के एक तूफान का सामना करना पड़ेगा। न केवल मेरी ओर से, बल्कि मेरे 90 मिलियन से ज्यादा फॉलोअर्स की ओर से भी। मैंने अभी उन्हें बताया नहीं है, लेकिन यदि मैं सर्वाइव कर गया तो मैं उन्हें बता दूंगा। और मैं तुम्हे बता दूं कि वे एक सेना है। उन्होंने पूरी दुनिया नापी है। पश्चिम से पूर्व और उत्तर से दक्षिण... और वे सिर्फ इस पेज पर मेरी एक्सटेंडेड फैमिली नहीं है, आंख के एक इशारे पर यह एक्सटेंडेड फैमिली तबाही मचाने वाले परिवार में बदल जाएगी।'

आखिर में लिखते हैं, 'मैं उनसे कह दूंगा... 'ठोक दो साले को''

इसके बाद तिलमिलाए अमिताभ बच्चन लिखते हैं, 'मारीच, अहिरावन , महिषासुर, असुर , उपनाम हो तुम ; हमारा यज्ञ प्रारम्भ होते ही, तुम राक्षसों की तरह तड़पोगे , जान लो इतना की अब तुम ही केवल समाज की आवाज़ ना हो ; चरित्र हीन, अविश्वासी , श्रद्धा हीन , लीचड़ तुम हो ; जलो गलो पिघलो , बेशर्म , बेहया , निर्लज्ज, समाज कलंकी …' 

इस लिंक पर क्लिक करते पढ़ें अमिताभ बच्चन का ब्लॉग।

अमिताभ बच्चन का यह तेवर उनके फैन्स को काफी पसंद आ रहा है। सोशल मीडिया यूज़र्स का कहना है कि ऐसे लोगों को ऐसे ही जवाब देना चाहिए, ताकि आगे से कुछ भी लिखने या बोलने से पहले सोचना शुरू कर दें। 

गौरतलब है कि 11 जुलाई को अमिताभ ने जानकारी दी थी कि उनकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। इसके कुछ ही देर बाद अभिषेक बच्चन ने भी अपने कोरोना टेस्ट रिजल्ट पॉजिटिव होने की खबर दी थी। अमिताभ और अभिषेक के कोरोना टेस्ट पॉजिटिव आने के बाद 12 जुलाई को ऐश्वर्या और आराध्या की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। हालांकि, मां-बेटी को होम क्वारंटीन किया गया था लेकिन दोनों लोगों की बढ़ती तकलीफों को देखते हुए 17 जुलाई को अस्पताल में भर्ती किया गया था। इसके बाद बीएमसी ने अमिताभ के बंगलों को सैनिटाइज किया था और इसे कंटेनमेंट जोन घोषित कर पूरी तरह सील कर दिया गया था। 



टिप्पणियां