'दृश्यम' के निर्देशक निशिकांत कामत अस्पताल में भर्ती, हालत गंभीर

'दृश्यम', 'मदारी', 'फोर्स' सरीखी फिल्मों का निर्देशन करने वाले निशिकांत कामत हैदराबाद के अस्पताल में आईसीयू वार्ड में भर्ती हैं। उनकी हालत बेहद गंभीर बताई जा रही है। निशिकांत लीवर सिरोसिस नाम की बीमारी से ग्रसित हैं। पिछले दस दिनों से वो अस्पताल में भर्ती हैं। 

Nishikant Kamat Hosptlised in critical condition
एक के बाद एक बॉलीवुड के लिए बुरी ख़बरें आ रही हैं। 'दृश्यम', 'फोर्स', 'मुंबई मेरी जान' और 'मदारी' सरीखी फिल्मों का निर्देशन कर चुके निशिकांत कामत अस्पताल में भर्ती हैं, जहां उनकी हालत काफी गंभीर बताई जा रही है। 

हैदराबाद के एक निजी अस्पताल में आईसीयू वार्ड में निशिकांत बीते दस दिनों से एडमिड हैं। बताया जा रहा है कि वह कुछ समय से लीवर सिरोसिस से पीड़ित हैं। 

साल 2005 में आई मराठी फिल्म 'डोम्बिवली फास्ट' से बतौर निर्देशक अपने करियर की शुरुआत की थी। यह मराठी फिल्मों में सबसे सफल फिल्मों की फेहरिस्त में गिनी जाती है। 

निर्माता-निर्देशक के अलावा वह मराठी और बॉलीवुड फिल्मों अभिनय भी कर चुके हैं। उन्होने कई फिल्मों में अभिनय किया है। 

वहीं निशिकांत कामत को असली पहचान अजय देवगन की फिल्म 'दृश्यम' से मिली थी। यह फिल्म साल साल 2015 में आई थी। इस फिल्म का निर्देशन निशिकांत ने किया था और फिल्म ने हाल ही में रिलीज़ को पांच साल पूरे किए हैं। 

वहीं जॉन अब्राहम स्टारर फिल्म 'रॉकी हैंडसम' में निशिकांत कामत ने निगेटिन कैरेक्टर प्ले किया था, जिसके लिए उनकी काफी तारीफें भी हुई थीं। 

मराठी फिल्मों से अपने करियर की शुरुआत करने वाले निशिकांत ने 'डोम्बिवली फास्ट के अलावा रितेश देशमुख और राधिका आप्टे स्टारर मराठी फिल्म 'लय भारी', 'फुगे' जैसी सफल फिल्मों का भी निर्देशन किया। इसके अलावा उन्होंने मराठी फिल्म 'सातच्या आत घरी' की स्क्रिप्ट भी लिखा और इसमें एक्टिंग भी की। 

अगर हिंदी फिल्मों की बात की जाए तो निशिकांत कामत ने विक्रमादित्य मोटवाने निर्देशित 'भावेश जोशी' और 'रॉकी हैंडसम' में नकारात्मक भूमिकाओं में दिखे। वे 'दर-ब-दर' नाम की एक हिंदी फिल्म के निर्देशन की तैयारी में जुटे हुए हैं, जो साल 2022 में रिलीज किया जाना है।

संबंधित ख़बरें

टिप्पणियां