रिया चक्रवर्ती पर 'मनी लॉन्ड्रिंग' के मामले में शिकंजा कसने की तैयारी में ED



बिहार पुलिस के बाद ED ने भी रिया चक्रवर्ती के खिलाफ अपना शिकंजा कस लिया है। इंफोर्समेंट डायरेक्टरैट यानी प्रवर्तन निदेशालय ने रिया चक्रवर्ती और उनके परिवार के खिलाफ बिहार पुलिस की प्राथमिकी के आधार पर 'मनी लॉन्ड्रिंग' का मामला दर्ज किया था। अब इस मामले पर ED (इंफोर्समेंट डायरेक्टोरैट) ने कुछ पॉइंट्स भी तैयार कर लिए हैं, जिन पर रिया से पूछताछ होगी। 

ED Prepares to clamp down on Rhea Chakrborty
प्रवर्तन निदेशालय यानी इंफोर्समेंट डायरेक्टोरैट ने शुक्रवार को रिया चक्रवर्ती और उनके परिवार के खिलाफ बिहार पुलिस की प्राथमिकी के आधार पर 'मनी लॉन्ड्रिंग' का एक मामला दर्ज किया था। इस मामले पर ED ने कुछ पॉइंट्स तैयार किए हैं, जिन पर रिया से पूछताछ की जाएगी। 

हालिया रिपोर्ट्स की मानें, तो रिया को अगले सप्ताह समन भेजा जाएगा। रिया से संदिग्ध लेन-देन के बारे में पूछताछ की जाएगी। इसके अलावा उनके बैंक खातों की जांच भी की जाएगी।

एक चैनल की रिपोर्ट के अनुसार, प्रवर्तन निदेशालय यह पता लगाएगा कि कोई बड़ा प्रोजेक्ट हाथ में न होने के बावजूद रिया की कमाई कहां से हो रही थी। उनके खर्चे कौन उठा रहा था? निदेशालय की ओर से यह स्पष्ट किया गया है कि यह केस 'मनी लॉन्ड्रिंग' का है और वे सिर्फ गैरकानूनी तरीके से पैसों के लेनदेन के एंगल से ही जांच करेंगे। इसका सुशांत के सुसाइड या मर्डर क्राइम से कोई लेना नहीं है।

रिपोर्ट्स में यह भी कहा गया है कि ED सुशांत के बैंक खातों के गलत तरह से संचालन और उनके पैसों के गलत तरीके से इस्तेमाल के आरोपों की जांच करेगा। साथ ही इस बात की तफ्तीश की जाएगी कि क्या कोई उनकी कमाई और उनकी कंपनियों का इस्तेमाल मनी लॉन्ड्रिंग और गैर कानूनी सम्पति बनाने के लिए कर रहा था?

शुक्रवार को दर्ज हुआ मामला

प्रवर्तन निदेशालय ने पिछले दिनों पटना पुलिस से रिया और उनके परिवार के खिलाफ दर्ज हुई एफआईआर की कॉपी मांगी थी, जिसके बाद ED ने मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट के तहत चार्ज लगाने का फैसला लिया। इसके बाद 31 जुलाई को निदेशालय ने रिया, उनके फैमिली मेंबर्स और अन्य 6 लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।

सुशांत के पिता ने आरोप लगाया था कि सुशांत के बैंक अकाउंट से 15 करोड़ रुपए तीन खातों में ट्रांसफर किए गए, जो रिया, उसके भाई शोविक और उसकी मां के अकाउंट्स हैं। जांच में इस तरह की बात भी सामने आई है कि सुशांत और रिया ने एक साथ तीन स्टार्ट अप में इन्वेस्टमेंट किया था।


ED के रिया से पूछताछ के पॉइंट्स

ईडी ने अपनी शिकायत में धनशोधन रोकथाम कानून (पीएमएएल) के तहत आपराधिक आरोप लगाने के लिए अभिनेत्री रिया चक्रवर्ती और कुछ अन्य के खिलाफ बिहार पुलिस द्वारा दर्ज प्राथमिकी का संज्ञान लिया है।

  • ईडी मामले से जुड़े संदिग्ध लेन-देन की जांच करेगी। 
  • रिया चक्रवर्ती के भाई शोविक की दोनों कंपनियां क्या शैल कंपनियां हैं। इसकी भी पड़ताल होगी।
  • क्या शैल कंपनियों में सुशांत के 15 करोड़ रुपए इन्वेस्ट किए गए हैं, इसकी भी जांच की जाएगी।
  • रिया के भाई की दोनों कंपनियां सितंबर 2019 से लेकर जनवरी 2020 के बीच बनाई गई हैं और तब से लेकर अब तक इनमें पैसे का कोई आदान-प्रदान नहीं है। इन कंपनियों में इस अवधि में पैसों का कोई ट्रांजेक्शन क्यों नहीं हुआ, इसकी तफ्तीश भी होगी। 
  • ईडी रिया चक्रवर्ती का बैंक एकाउंट खंगालेगी। सुशांत के बैंक एकाउंट की भी जांच की जाएगी। उनके अकाउंट का पैसा कहां-कहां गया। इसकी भी जानकारी ली जाएगी। 
  • रिया के पास कोई बड़ा प्रोजेक्ट नहीं था, तो उसका सोर्स ऑफ इनकम क्या था, यह पता किया जाएगा।
  • रिया चक्रवर्ती अपने पर्सनल खर्चे कैसे वहन करती थी, इसकी पूछताछ की जाएगी। 
  • सुशांत की साल 2018 में बनाई गई कंपनी InnsEi Ventures की भी पड़ताल की जाएगी।
  • इस मामले से जुड़े सभी लोगों को समन जारी कर उन्हें पूछताछ के लिए बुलाया जाएगा और उन्हें अपने बयान प्रवर्तन निदेशालय के सामने दर्ज कराने होंगे।
  • केस के आरोपी और इससे जुड़े सभी लोगों के बैंक स्टेटमेंट और आईटी रिटर्न डीटेल्स भी मांगे जाएंगे। सुशांत के अकउंटेंट से भी पूछताछ होगी।

टिप्पणियां