'ट्रेजडी क्वीन' मीना कुमारी की लाइफ पर बनेगी वेब सीरीज़

बॉलीवुड की 'ट्रेजडी क्वीन' कहा जाने वाली मीना कुमारी की लाइफ पर वेब सीरीज़ बनाने की तैयारियां शुरू हो चुकी हैं। अश्वनी भटनागर द्वारा लिखी मीना कुमारी की बायोग्राफी 'महज़बीं एज मीना कुमारी' पर बेस्ड इस वेब सीरीज़ का निर्माण वेब सीरीज़ 'मस्तराम' का निर्माण कर चुकीं प्रभलीन कौर करेंगी। कलाकारों और क्रू टीम को लेकर अभी तक घोषणा नहीं की गई है। निर्माता वेब सीरीज के बाद में इस विषय पर एक फीचर फिल्म बनाने की योजना बना रहे हैं।

Web series on Meena Kumari

हिन्दी सिनेमा की 'ट्रेजडी क्वीन' मीना कुमारी की लाइफ पर बेस्ड वेब सीरीज़ की तैयारियां शुरू हो चुकी हैं। हाल ही में उनकी बायोग्राफी के राइट्स खरीदे गए हैं।

इस वेब सीरीज का निर्माण वेब सीरीज 'मस्तराम' का निर्माण कर चुकीं प्रभलीन कौर करेंगी। इस सीरीज को बनाने के लिए उन्होंने अश्वनी भटनागर की मीना कुमारी के जीवन पर आधारित लिखी किताब 'महज़बीं एज मीना कुमारी' के राइट्स खरीदे हैं।

इस किताब के राइट्स प्रभलीन हासिल कर चुकी हैं, लेकिन अभी तक कलाकारों और क्रू टीम की घोषणा होना बाकी है। वहीं वेब सीरीज़ के बाद प्रभलीन इस विषय पर फिल्म बनाने की योजना भी बना रही हैं।

प्रभलीन कौर का कहना है, ‘मेरे लिए यह एक सपने के पूरे होने जैसा है, क्योंकि मीना कुमारी नाम की तुलना में जीवन से ज्यादा सुंदर और बड़ा कुछ नहीं है। प्रामाणिक शोध प्रदान करने के लिए पुरानी हिंदी फिल्म पत्रकारिता के सर्वश्रेष्ठ नामों को काम पर रखा गया है। हमारा इरादा एक वेब सीरीज के साथ शुरुआत करने का है और फिर एक ऐसी अभिनेत्री पर फीचर फिल्म बनाने की योजना है, जिनके लिए 'ट्रेजडी क्वीन' शब्द गढ़ा गया था। हम किसी तरह की जल्दबाजी में नहीं हैं।’

इस बारे में किताब के लेखक अश्विनी भटनागर ने कहा, ‘मैं प्रभलीन जैसे प्रोडक्शन हाउस के साथ सहयोग करने के लिए खुश हूं, जो पाथब्रेकिंग कंटेंट बनाने के लिए जाना जाता है। किताब संभवत: न्यूट्रल दृष्टिकोण से दिग्गज अभिनेत्री का पहला प्रामाणिक चित्रण है।’

'ट्रेजडी क्वीन' के नाम से मशहूर मीना कुमारी का जन्म 1 अगस्त 1933 को हुआ और उनका असली नाम महजबीन बानो है। मीना कुमारी ने 92 फिल्मों में काम किया है, जिसमें 'साहिब बीबी और ग़ुलाम', 'पाकीज़ा', 'मेरे अपने', 'आरती', 'परिणीता', 'दिल अपना और प्रीत पराई', 'फूल और पत्थर', 'कोहिनूर' शामिल हैं। साल 1945 तक उन्होंने फिल्मों में प्लेबैक सिंगर रूप में काम किया और उसके बाद फिल्म 'दुनिया एक सारे', 'पिया घर आजा' और 'बिछड़े बालम' में काम किया।

मीना कुमारी का 31 मार्च, 1972 को 39 वर्ष की आयु में निधन हो गया था, उन्होंने अपने जीवन के तैंतीस साल अपने करियर को लिए समर्पित कर दिए। वेब सीरीज में उनके करियर, विवादों के सभी पहलुओं को शामिल किया जाएगा।

संबंधित ख़बरेंशास्त्री जी ने मीना कुमारी से पहली मुलाक़ात में क्या पूछ लिया था?

टिप्पणियां