आखिर क्यों अखिलेंद्र मिश्रा ने शुरू में 'रावण' की भूमिका निभाने से किया था इंकार?

आनंद सागर की 'रामायण' में 'रावण' की भूमिका निभाने से अखिलेंद्र मिश्रा ने इंकार कर दिया था। इस सिलसिले में अखिलेंद्र मिश्रा और आनंग सागर की तकरीबन चार घंटे तक मीटिंग चली और आखिरकार आनंद ने उनको इस भूमिका को करने के लिए मना लिया। 

know why Akhilendra Mishra initially denied playing the role of Ravana in Anand Sagars Ramayan
कई बार ऐसे मौके सामने आ जाते हैं कि चाहते हुए भी कुछ भूमिकाओं को निभाने से इंकार करना पड़ता है, लेकिन लाख इंकार के बाद भी वो किरदार उनके हिस्से आ ही जाते हैं। ऐसा ही कुछ घट चुका है अभिनेता अखिलेंद्र मिश्रा के साथ। 

हाल ही में इस वाकये के बारे में विस्तार से बताया। अखिलेंद्र ने बताया कि आनंद सागर की 'रामायण' में उनको 'रावण' की भूमिका निभाने का प्रस्ताव मिला, लेकिन इस लाख चाहने के बाद भी वो इस भूमिका के लिए हां नहीं कह पाए। 

अपने इंकार की वजह का खुलासा करते हुए बताया, 'मेरी 'दिल्ली 6', 'द्रोणा' और 'चमकू' की शूटिंग एक साथ हो रही थी और उस दौरान मुझे आनंद सागर की 'रामायण' में 'रावण' की भूमिका निभाने के लिए फोन आया, क्योंकि मेरी डेट्स क्लैश कर रही थीं, तो मैंने उन्हें बताया कि मैं भूमिका नहीं निभा पाऊंगा। हालांकि, उन्होंने मुझे बताया कि मेरा ट्रैक बाद में था। फिर भी, मैंने उस समय इसका खंडन किया। बाद में मुझे चैनल से फोन आया कि वे मुझे 'रावण' की भूमिका के लिए चाहते हैं, तो एक मीटिंग के लिए उन्होने मेरा समय मांगा। बाद में आनंद सागर जी ने भी मुझे एक बैठक के लिए फोन किया। आम तौर पर ये बैठक अधिकतम एक घंटे तक चलती है, लेकिन मेरे मामले में यह कुछ चार घंटे चला।'

'रामायण' के मेकर्स से मिले समर्थन के बारे में बात करते हुए, अखिलेन्द्र ने आगे कहा, 'आनंद जी मुझे अपने रामायण में रावण के रूप में पाने के लिए बेहद उत्सुक थे, क्योंकि शूटिंग थी बड़ौदा में और मेरे दूसरे प्रोजेक्ट्स का भी ध्यान रखते हुए, उन्होंने मुझे आश्वासन दिया कि मेरी बाकी काम के तारीखों का ध्यान रखा जाएगा।'

टिप्पणियां