संजय दत्त सांस लेने में तकलीफ के चलते लीलावती अस्पताल में भर्ती

संजय दत्त को सांस लेने में तकलीफ के चलते लीलावती अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। 61 वर्षीय संजय दत्त का कोविड-19 एंटीजेन टेस्ट किया गया, जो नेगेटिव आया है। उनका स्वैब टेस्ट भी लिया गया है, जिससे पता चलेगा कि वो कोरोना वायरस के संक्रमण का शिकार हैं या नहीं। 

Sanjay Dutt Hospitalised due to breathlessness
संजय दत्त को सांस लेने में तकलीफ के चलते लीलावती अस्पताल में भर्ती करवाया गया। हालांकि, उनका कोरोना टेस्ट निगेटिव आया है। फिलहाल संजय दत्त को नॉन-कोविड वार्ड में भर्ती करवाया गया है। सब ठीक रहा तो कल उन्हें डिस्चार्ज कर दिया जाएगा।

दरअसल, संजय दत्त को शाम के समय सीने में असहजता का अहसास हुआ, जिसके चलते उन्हें अस्पताल में दाखिल कराने का फैसला किया गया।

बता दें कि अस्पताल में दाखिल कराते ही 61 वर्षीय संजय दत्त का कोविड-19 एंटीजेन टेस्ट किया गया, जो नेगेटिव आया है। उनका स्वैब टेस्ट भी लिया गया है, जिससे पता चलेगा कि वो कोरोना वायरस के संक्रमण का शिकार हैं या नहीं।

वहीं लीलावती अस्पताल के चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर डॉ. वी. रविशंकर ने एक चैनल को बताया कि अस्पताल में भर्ती कराये जाने के वक्त संजय दत्त का ऑक्सीजन लेवल ऊपर-नीचे हो रहा था। फिलहाल उनकी तबीयत सामान्य है और चिंता की कोई बात नहीं है।

डॉ. रविशंकर ने आगे बताया, 'संजय दत्त को नॉन-कोविड वार्ड में दाखिल कराया गया है और डॉक्टर अच्छी तरह से उनकी जांच में जुटे हैं और उनपर कई तरह के टेस्ट किये जाएंगे।'

ग़ौरतलब है कि संजय दत्त इस समय परिवार से दूर हैं। लॉकडाउन के समय से ही मान्यता दोनों बच्चों शहरान व इकरा के साथ दुबई में हैं और वहां से वापस नहीं आ पाई हैं।

संजय दत्त काफी समय से अपनी फैमिली को मिस कर रहे हैं। सोशल मीडिया पर वे फैमिली संग फोटोज डालकर अपनी भावनाएं भी व्यक्त कर चुके हैं। कुछ दिनों पहले ही उन्होंने पत्नी मान्यता को भी बर्थडे विश किया था।

वहीं वर्क फ्रंट की बात करें तो संजय दत्त की पिछली फिल्म 'पानीपत' थी। आने वाले दिनों में संजय दत्त की कई फिल्में कतार में हैं, जिनमें 'सड़क 2', 'शमशेरा', 'भुज', 'केजीएफ', 'पृथ्वीराज' और 'तोरबाज' शामिल हैं। 

टिप्पणियां