कंगना रनौत ने भारी मन से छोड़ी मुंबई



कंगना रनौत पांच दिन बिताने के बाद बहन रंगोली के साथ मनाली के लिए रवाना हुईं। 9 सितंबर को वे मुंबई पहुंची थीं। मनाली रवाना होने से पहले कंगना ने 3 ट्वीट कर महाराष्ट्र सरकार पर निशाना साधते हुए महाराष्ट्र सरकार पर लोकतंत्र का चीरहरण करने का आरोप लगाया। 

Kangana Ranaut leave Mumbai

कंगना रनौत मुंबई में पांच दिन बिताने के लिए मनाली के लिए रवाना हो गईं। उनके साथ उनकी बहन रंगोली चंदेल और उनका एक सहयोगी भी साथ रहा हैं। मुंबई से निकलने से पहले उन्होंने महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात की। उन्होंने राज्यपाल से बीएमसी विवाद में न्याय दिलाने की अपील की। 

इससे पहले रविवार को बीएमसी की ओर से कंगना को घर के संबंध में एक नया नोटिस भेजा गया। यह उनके खार स्थित फ्लैट्स के अंदर किए गए अवैध निर्माण को लेकर है। बीएमसी का कहना है कि कंगना के घर पर उनके ऑफिस से भी ज्यादा नियमों का उल्लंघन करते हुए अवैध निर्माण कराया गया।

कंगना मुंबई के खार वेस्ट स्थित डीबी ब्रीज (आर्किड ब्रीज) के 16 नंबर रोड पर बनी एक इमारत की 5वीं मंजिल पर रहती हैं। इस मंजिल पर कंगना के कुल 3 फ्लैट हैं, जिनमें से एक फ्लैट 797 वर्ग फुट, दूसरा फ्लैट 711 वर्गफीट और तीसरा फ्लैट 459 वर्गफीट का है। फिलहाल कंगना के घर में अवैध निर्माण का केस कोर्ट में है, जिसकी सुनवाई 25 सितंबर को होगी।

कंगना अपने ट्वीट में लिखती हैं, 'भारी मन से मुंबई छोड़ रही हूं, जिस तरह से इन दिनों लगातार मुझे आतंकित किया गया था और मेरे काम की जगह के बाद मेरे घर को तोड़ने की कोशिश में लगातार हमले और गालियां दी गईं। मुझ पर हमले को लेकर सुरक्षाकर्मी अलर्ट थे। कहना चाहिए कि पीओके को लेकर कही गई मेरी बात सही थी।'

हाई कोर्ट में दायर होगा जवाब 

कंगना के वकील आज ऑफिस में हुए अवैध निर्माण को लेकर हाईकोर्ट में जवाब दायर करेंगे। आज ही उन्हें ऑफिस से जुड़े जरूरी दस्तावेज सौंपने हैं। वहीं, कोर्ट ने 18 सितंबर तक बीएमसी को लिखित जवाब देने को कहा है। कंगना के वकील रिजवान सिद्दीकी का आरोप है कि बीएमसी ने तोड़फोड़ की कार्रवाई को गैरकानूनी तरीके से किया। 9 सितंबर को हाईकोर्ट ने कगंना के ऑफिस में तोड़फोड़ पर रोक लगा दी थी।

कंगना के फ्लैट में नियम का उल्लंघन 

  1. इलेक्ट्रिक फिटिंग के दी गई जगह को सीमेंट से भरकर उसका कार्पेट एरिया के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है।
  2. पौधे लगाने के लिए दी गई जगह पर सीढ़ियां लगाई है।
  3. खिड़की पर लगाए गए छज्जे की दीवारों को हटाकर बालकनी के तौर पर इस्तेमाल किया जा रहा है।
  4. सर्विस स्लैब सीमेंट से भर दिए गए है और इससे जुड़ी दीवार को तोड़कर बालकनी में तब्दील कर दिया।
  5. उत्तर-पश्चिम की ओर सीढ़ी और रसोई के बीच कॉमन रास्ता और रसोई के पास दरवाजा बनाकर कवर किया गया है।
  6. तीनों फ्लैट्स के बीच दिया हुई कॉमन एरिया पर लिफ्ट के सामने अवैध दरवाजे बना दिया गया है।
  7. तीनों फ्लैट्स को जोड़ने के लिए कॉमन दीवारें तोड़ी गई है।
  8. शौचालय और बाथरूम के पास नालियों के आकार में बदलाव किया गया है।

टिप्पणियां