'ड्रग केस' में रिया-शौविक को हो सकती है 10-20 साल का सज़ा

रिया चक्रवर्ती और शौविक चक्रवर्ती की मुश्किले और बढ़ सकती है। एक एनसीबी अधिकारी का कहना है कि ड्रग मामले में रिया और शौविक को दस से बीस साल की सज़ा हो सकती है। साथ ही एनसीबी ने यह भी साफ किया कि सुशांत सिंह राजपूत की आकस्मिक मृत्यु से कोई लेना-देना नहीं है।

Rhea Chakraborty and Showik could be sentence 10-20 years in drug case

बॉलीवुड में फैले ड्रग नेक्सस की गहराई से जांच कर रही एजेंसी एनसीबी ने बुधवार को कई सवालों के जवाब दिए। एजेंसी ने साफ किया उसने किसी भी एक्ट्रेस को क्लीन चिट नहीं दी है। इसके अलावा एनसीबी ने बताया कि रिया और शौविक को ड्रग मामले में 10 से 20 साल तक की सजा हो सकती है।

जब एजेंसी से पूछा गया कि रिया के वकील सतीश मानशिंदे का कहना है, इस मामले का सुशांत सिंह के मामले से संबंध है। इसके क्या मायने हैं?

इस सवाल के जवाब में एनसीबी के अधिकारी ने बताया, 'यह गलत व्याख्या है। सुशांत की मौत से हमारा कोई लेना-देना नहीं है। सुशांत का मामला सीबीआई देख रही है। हमारी जांच केवल ड्रग कार्टेल से जुड़ी हुई है।'

एनसीबी अधिकारी का यह भी कहना था कि बॉलीवुड के इस ड्रग कार्टेल में केवल अकेले सुशांत सिंह ही नहीं हैं। एजेंसी ने अब तक 19 लोगों को अरेस्ट किया है। यह केस सुशांत को मुख्य आरोपी बनाकर नहीं चलाया जा रहा है। यह एक बड़ा सिंडिकेट (गुट) है। अरेस्ट किए गए लोगों पर ड्रग्स जमा करने, इसका पेमेंट करने और वित्तीय मदद करने के आरोप लगे हैं।

वहीं अभिनेत्रियों को क्लीन चिट देने के बारे में अधिकारी ने सफाई देते हुए कहा कि किसी को भी क्लीन चिट नहीं दी गई है। इस तरह ही ख़बरें महज अफवाह हैं। ये झूठ और सच्चाई से कोसों दूर हैं। हमारी जांच जारी है, जैसे-जैसे सबूत मिलते रहेंगे, हम आगे भी समन भेजते रहेंगे।

जांच के दौरान मिली गांजे और चरस की मात्रा को लेकर अधिकारी ने बताया कि अभी तक इस मामले की जांच में कॉमर्शियल मात्रा में चरस और गांजा मिला है। अभी तक हमें 1.5 किलो चरस और बड़ी मात्रा में गांजा मिला है। यह एक सुनियोजित क्राइम है और इसका पूरा गुट है। इसमें रिया और शौविक को 10 से 20 साल तक की सजा तो बनती है।

संबंधित खबरें
NCB ने कहा, 'रिया चक्रवर्ती ड्रग सिंडिकेट की एक्टिव मेंबर थीं...'

टिप्पणियां