करण ओबेरॉय केस में पूजा बेदी, सुधांशु पांडेय समेत अन्य 6 को कोर्ट का समन

करण ओबेरॉय केस में रेप विक्टिम की पहचान उजागरल करने के लिए पूजा बेदी, सुधांशु पांडेय समेत अन्य छह को मुंबई कोर्ट ने समन जारी किया है। बता दें, पीड़िता ने करण पर रेप और ब्लैकमेल करना का आरोप लगाया था। साल 2019 में, ओशिवारा पुलिस स्टेशन में इसकी शिकायत दर्ज कारवाई गई थी और करण पर आईपीसी की धारा 376 और 384 लगाई गई थीं।

karan-oberoi-case-pooja-bedi-sudhanshu-pandey-and-6-others-summoned-by-mumbai-court

मंगलवार को पूजा बेदी, सुधांशु पांडेय समेत अन्य छह लोगों को मुंबई के एक कोर्ट ने समन भेजा है। इन सभी के खिलाफ एक शिकायत दर्ज कराई गई है, जिसमें आरोप लगाया गया है कि इन्होंने करण ओबेरॉय केस में रेप पीड़िता की पहचान का खुलासा किया।

बता दें कि एक्टर-सिंगर करण ओबेरॉय पर पीड़िता द्वारा बलात्कार और ब्लैकमेल करने का आरोप लगाया गया है। मई 2019 में ओशिवारा पुलिस के पास एक शिकायत दर्ज की गई थी, जिसके तहत आईपीसी की धारा 376 (बलात्कार) और 384 (जबरन वसूली) के तहत उन पर मामला दर्ज किया गया है।

वहीं पूजा बेदी और सुधांशु पांडेय ने करण के समर्थन में अपना पक्ष रखा था, जिसके बाद इन लोगों के खिलाफ जून 2019 में यह शिकायत दर्ज की गई थी। शिकायतकर्ता की वकील मंशा भाटिया ने इस बारे में न्यूज एजेंसी को जानकारी दी।

इस पूरे मामले पर पूजा बेदी ने कहा था कि यह चिंताजनक है कि बेगुनाह इंसान को सार्वजनिक रूप से शर्मिंदा किया जा सकता है, लेकिन एक महिला, जो फर्जी बलात्कार का मामला बता रही है, वह गुमनाम है। मैंने किसी भी इंटरव्यू में उसकी पहचान का खुलासा नहीं किया है। मैंने हमेशा यह साफ किया है कि नाम नहीं लिया जा सकता है, लेकिन वह उन कानूनों का दुरुपयोग कर रही हैं, जो महिलाओं की सुरक्षा के लिए बनाए गए थे।

टिप्पणियां