नवाज़ुद्दीन सिद्दीक़ी की पत्नी आलिया ने वापस लिया तलाक का नोटिस, जानिए वजह

नवाज़ुद्दीन सिद्दीक़ी की पत्नी आलिया ने अपने हालिया इंटरव्यू में कहा कि अब वो तलाक नहीं लेना चाहती हैं और एक्टर के साथ अपने रिश्ते को दूसरा मौका देना चाहती हैं। दरअशल, यह फैसला अपने बच्चों की वजह से लिया है। वहीं नवाज़ के भाई शमास से भी आलिया सुलह करने का मन बना चुकी हैं।

nawazuddin-siddiquis-wife-aaliya-siddiqui-wants-to-give-their-marriage-another-chance-for-children-ready-to-resolve-issues-with-shamas

साल 2020 की मई में नवाज़ुद्दीन सिद्दीक़ी की पत्नी आलिया ने अपनी दस साल की शादी को खत्म करने का फैसला ले लिया था। आलिया सिद्दीक़ी के वकील अभय सहाय ने एक अंग्रेज़ी डेली को जानकारी दी कि उनकी पत्नी द्वारा तलाक़ और रखरखाव के लिए नवाज़ को कानूनी नोटिस भेजा गया था, जिसके बाद, आलिया ने उन मुद्दों का खुलासा किया था, जिसकी वजह से उनकी शादी में दरारें आईं थीं। हालांकि, इस मामले को लेकर नवाज़ ने चुप्पी साधे रखी।

वहीं इस मामले में ताजा अपडेट यह है कि आलिया सिद्दीक़ी ने तलाक़ के मामले में यू-टर्न ले लिया है। हाल ही में अपने फैसले को लेकर जानकारी देते हुए बताया कि वह अब तलाक़ नहीं लेना चाहती हैं और नवाज़ के साथ अपने रिश्ते को दूसरा मौका देना चाहती हैं।

आलिया ने कहा, 'मैं नवाज के साथ अपने रिश्ते सुधारने को तैयार हूं। मैं तलाक़ का नोटिस भी वापस ले लूंगी। साथ ही मैं नवाज़ के भाई शमास के साथ भी अपने मतभेद सुलझाने को तैयार हूं।

बता दें कि नवाजुद्दीन के भाई शमास पर भी आलिया ने कथित तौर पर छेड़छाड़ का आरोप लगाया था। शमास ने दावा किया था कि आलिया वित्तीय लाभ के लिए यह सब कर रही हैं। हालांकि एक इंटरव्यू में आलिया ने सभी आरोपों से इनकार किया था।

आलिया सिद्दीक़ी ने क्यों लिया यू-टर्न?

आलिया सिद्दीकी ने अपने इंटरव्यू में कहा कि बच्चों की खातिर वो नवाज़ से अपने रिश्ते को एक और मौका देना चाहती हूं। आलिया ने कहा था, 'मुझे कोरोना ने अपनी चपेट में ले लिया है। मैं मुंबई में अपने घर पर आइसोलेट हूं। ऐसे में दोनों बच्चों का खयाल रखने में बड़ी परेशानी आ सकती थी, लेकिन नवाज ने मेरा साथ दिया। नवाज इस वक्त लखनऊ में किसी फिल्म की शूटिंग में व्यस्त हैं, लेकिन इसके बावजूद वह अपनी बेटी शोरा और बेटे यानी की देखभाल में जुटे रहे।'

उन्होने आगे कहा, 'वह बार-बार बच्चों की जरूरतों के बारे में जानने के लिए फोन करते रहे। इसके अलावा उन्होंने मेरी तबियत के बारे में जानने के लिए फोन किए और मेरा खयाल रहा। उनके इस व्यवहार से मैं बहुत खुश हूं। उनका ये अंदाज मेरे दिल को छू गया है और मैं परिवार के प्रति उनका ये अंदाज देख हैरान हूं। मैं और नवाज हमारी शादीशुदा जिंदगी की परेशानियों को हल करने की पूरी कोशिश करेंगे और साथ रहने को लेकर हम दोनों के बीच बातचीत भी चल रही है।'

इस पूरे मामले पर नवाज ने कहा, 'मैं आमतौर पर अपनी निजी जिंदगी के बारे में कुछ कहना पसंद नहीं करता हूं और मैंने कभी किसी के बारे में कुछ उल्टा-सीधा नहीं कहा। मैं निगेटिविटी और नफरत अपने आसपास नहीं चाहता। आलिया अब भी मेरे बच्चों की मां है और हमने सालों एक-साथ गुजारे हैं। चाहे कुछ भी हो जाए मैं उसे सपोर्ट करूंगा। मेरा फर्ज बनता है कि मैं उसका और बच्चों का खयाल रखूं। आलिया और मेरे ख्याल नहीं मिलते, हम एक-दूसरे से सहमत नहीं होते लेकिन हमारे बच्चे मेरे लिए सबसे पहले हैं।'

नवाज़ ने आगे कहा, 'हमारे कारण हमारे बच्चे परेशान नहीं होने चाहिए, रिश्ते बनते-बिगड़ते रहते हैं, उनका असर बच्चों पर नहीं होना चाहिए। मैं एक अच्छा पिता बनना चाहता हूं। इंसानियत ही सबकुछ है। पहले अच्छे इंसान बनो। हमने पहले बहुत कुछ झेला है। अगर महामारी आपके अंदर अच्छे बदलाव नहीं ला सकती तो कोई भी आपको बदल नहीं सकता। मैं हमेशा अपने परिवार के साथ खड़ा रहूंगा।'

ग़ौरतलब है कि नवाज और आलिया के दो बच्चे हैं। इनमें एक बेटी शोरा है और बेटे का नाम यानी है। दोनों की शादी को 10 साल बीत चुके हैं।

संबंधित ख़बरें
➤ 
'मोतीचूर चकनाचूर' और 'बोले चूड़ियां' के निर्माता राजेश भाटिया करने जा रहे हैं डायरेक्टोरियल डेब्यू

टिप्पणियां