सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

कंगना से नहीं थी माता - पिता को उम्मीद

अपनी मेहनत और लगन से अभिनेत्री कंगना रानौत ने बॉलीवुड में अपना अलग स्थान बना लिया है। लेकिन कंगना की माने तो उनके माता-पिता को उनसे इस तरह की उम्मीद नहीं थी। हाल ही में लंदन में हुए एब समिट में अभिनेत्री ने इस राज पर से परदा उठाया ....

कंगना रानौत की माने तो उनके माता-पिता को उनसे इस तरह की उम्मीद नहीं थी। लंदन में 'वुमन इन द वर्ल्ड' कार्यक्रम में कंगना ने इस राज पर से परदा उठाया
मुंबई। अभिनेत्री कंगना रानौत बॉलीवुड में नंबर वन की कुर्सी की रेस में सबसे आगे चल रही हैं। हर तरफ़ अपनी अदाकारी के लिए तारीफ़ बटोर रही कंगना की हालिया रिलीज़ 'कट्टी बट्टी' फ्लॉप होने के बावज़ूद भी उनकी अदाकारी की सबने सराहना ही की।

इन दिनों कंगना लंदन में हैं और वे 'वुमन इन द वर्ल्ड' कार्यक्रम में शरीक हुईं। इस आयोजन में कंगना के साथ हॉलीवुड की कई स्टार्स शरीक़ हुईं।

जब वक्ता के तौर पर कंगना को मंच पर बुलाया गया, तो उन्होंने कहा, "मुझे कभी भी अपनी जिम्मेदारी का अहसास नहीं होता था। दरअसल, वो एक ऐसी बेटी थीं, जिनके माता-पिता को उनसे बिलकुल भी उम्मीद नहीं थी। सारी उम्मीदें उनके भाई से थी। "

अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए कहा, "लेकिन मुझे ख़ुद पर भरोसा था। आज की कंगना और बचपन की कंगना में काफ़ी फर्क आया है।

" कंगना ने अंग्रेज़ी को लेकर अपने फोबिया के बारे में भी बोला। उन्होंने कहा, "में काफ़ी कम अंग्रेज़ी बोलती थी। अगर कुछ ग़लती होती है, तो मुंबई के लोग कभी माफ़ नहीं करते हैं।"

इस आयोजन में सवाल-जवाब का भी दौर चला। जब कंगना से एक सवाल दागा गया कि बॉलीवुड में किसी कलाकार को चेहरा देखकर लिया जाता है या टैलेंट। इसके जवाब में उन्होंने कहा, "यदि चेहरा देखकर वहां काम मिलता, तो मेरे लिए बड़ी परेशानी हो जाती।" कंगना ने वहां मौजूद लोगों को यह भी कहा कि बॉलीवुड में महिला केंद्रित फिल्में भी बनाई जा रही हैं।

इन जवाबों के बाद तो कंगना को 'ब्यूटी विद ब्रेन' का ख़िताब मिलना ही चाहिए। खैर, अब जल्द ही कंगना, शाहिद कपूर और सैफ अली के साथ विशाल भारद्वाज की फ़िल्म 'रंगून' शूटिंग में व्यस्त होने वाली हैं।

संबंधित ख़बरें
आगे डिप्रेशन से लोगों को उबारेंगी दीपिका