सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

'नो' एड विद आमिर खान

बात बस कुछ दिनों पहले की ही तो है, जब आमिर विज्ञापन की दुनिया के बेताज़ बादशाह हुआ करते थे और एक दिन की शूटिंग के पांच से छह करोड़ लिया करते थे। अब हालात यह है कि इनके पास कोई भी ऐड यानी विज्ञापन नहीं बचा। बस एक बयान और उस से उपजे बवाल ने आमिर की साख को बट्टा लगा दिया। हालांकि, उनको इस बात का अहसास तो हुआ, लेकिन तब तक देर हो चुकी थी। 'अतुल्य भारत' के ब्रांड एम्बेसडर से लेकर स्नैपडील तक उनके हाथ से जाते रहे। अब आगामी फिल्म 'दंगल' के सफल होने के लिए वो मेहनत के साथ मीडिया से भी अपनी छवि सुधारने की अपील करते नज़र आ रहे हैं।

आमिर खान को स्नैपडील ने अपने ब्रांडअम्बेस्डर पद से हटाया
मुंबई। पिछले साल तक बॉलीवुड अभिनेता आमिर खान (Aamir Khan) एडर्वटाइज़िंग एजेंसियों के आंखों के तारे हुआ करते थे, लेकिन अब हालात यह हैं कि उनके पास एक भी एंडोर्समेंट नहीं है।

कभी एक दिन के विज्ञापन शूट करने के पांच से छह लाख लेने वाले आमिर के हाथों से स्नैपडील का विज्ञापन फिसल गया। 31 जनवरी को स्नैपडील से हुए करार की आखिरी तारीख थी, इस करार का स्नैपडील ने नवीनीकरण नहीं कराया।

ऐसे में जब अमिताभ बच्चन से लेकर माधुरी दीक्षित के पास तक अच्छे खासे विज्ञापनों की सूचि है, वहां आमिर के हाथ विज्ञापन के मामले में खाली हैं। विज्ञापन की दुनिया के पंडितों का कहना है कि यह सब नवंबर में दिए गए आमिर के एक विवदास्पद बयान का ही नतीज़ा है।

कभी टीवी से लेकर ऑनलाइन और प्रिंट तक के विज्ञापनों में धाक रखने वाले आमिर के हाथ से सरकारी और प्राइवेंट सभी विज्ञापन फिसलते गए। हालांकि, आमिर और उनकी टीम अब कुछ ब्रांड्स से बात कर तो रही है, लेकिन वह कब करार की शक्ल में आती है, यह कह पाना मुश्किल है।

बिना ऐड वाले इकलौते खान

फिल्म इंडस्ट्री के साथ विज्ञापन की दुनिया में भी खान तिकड़ी का बोलबाला था। लेकिन अब खान तिकड़ी में से आमिर ऐसे हैं, जिनके पास एक भी एंडोर्समेंट नहीं है। गौरतलब है कि भारत में पर्यटन को प्रोत्साहित करने वाले केंद्र सरकार के 'अतुल्य भारत अभियान' से भी आमिर को हटा दिया गया है और उनकी अमिताभ बच्चन और प्रयंका चोपड़ा को इस अभियान से जोड़ा गया है।

अतुल्य भारत अभियान के बाद अब आमिर खान को मेगा रोड सेफ्टी कैंपेन से भी हटा दिया गया है। परिवहन मंत्री नितिन गडकरी के कहने पर आमिर को इसका ब्रांड एम्बेसडर बनाया गया था। इस 2014 दिसंबर में आमिर खान को साइन किया गया था कैंपेन के लिए। आमिर इसके लिए बिना पैसे के राजी हुए थे। यह अभियान पटरी पर आ पाता उससे पहले ही आमिर के असहिष्णुता वाले बयान के बाद उन्हें हटाने का फैसला लिया गया।

स्नैपडील ने खींचे हाथ

अब ई कॉमर्स कंपनी स्नैपडील ने भी आमिर खान के साथ अपना करार ख़त्म कर ही लिया है। सूत्रों की मानें तो कंपनी ने आमिर के साथ अपने अनुबंधन का नवीकरण नहीं करने का फैसला किया है। आमिर स्नैपडील के ब्रैंड एंबेसडर हैं, जिसका टैग लाइन है 'दिल की डील, लेकिन असहिष्णुता वाले बयान के बाद स्नैपडील ने आमिर खान के साथ फिल्माया गया विज्ञापन भी दिखाना बंद कर दिया था।

आमिर का कंपनी के साथ अनुबंध गत 31 जनवरी को समाप्त हो गया था और स्नैपडील ने अभी तक इसका नवीकरण नहीं किया है। हालांकि, अभी तक स्नैपडील की तरफ से कोई भी आधिकारिक टिप्पणी नहीं की गई है।

गौरतलब है कि आमिर खान ने पिछले साल देश में असहिष्णुता को लेकर एक विवादित बयान दिया था। आमिर खान ने कहा था की उनकी पत्नी कहती हैं कि उन्हें भारत के मौजूदा हालात में डर लगता है।

अभिनेता के मुताबिक उनकी पत्नी ने देश छोड़कर किसी और देश में जाने की बात कही थी। आमिर के इस बयान के बाद देश भर में उनका विरोध हुआ। लोगों ने आमिर के उस बयान के बाद अपने स्मार्टफोन से स्नैपडील का एप अनइंस्टॉल करना शुरू कर दिया था।

सफाई भी रही बेकार

आमिर ने अपने बयान पर सफाई देते हुए कहा था कि वो भारत में ही पैदा हुए हैं, यही उनका देश है, वह यही जिएंगे और मरेंगे भी, लेकिन देश नही छोड़ेंगे। स्नैपडील ने उस समय कहा था कि अभिनेता की ये टिप्पणी उनकी व्यक्तिगत राय है और इससे कंपनी का कोई सरोकार नहीं है।

संबंधित ख़बरें
आगे कटरीना ने बांधे मन्नत के धागे