श्रीदेवी के ‘एक्सीडेंटल डेथ’ से उठ गया पर्दा, लेखक ने किया ‘सच’ जानने का दावा



अदाकारा श्रीदेवी के अचानक निधन से हिन्दी सिने-जगत सकते में आ गया था। हिन्दी फिल्म इंडस्ट्री की पहली महिला सुपरस्टार कही जाने वाली श्रीदेवी के ‘एक्सीडेंटल डेथ’ को सुलझाने का दावा उनकी जीवनी लिखने वाले लेखक ने किया है।

फिल्म लम्हें में श्रीदेवी
साल 2018 की 24 फरवरी को हिन्दी सिनेजगत की अभिनेत्री श्रीदेवी के अचानक निधन की ख़बर मिली। उनकी मृत्यु को ‘एक्सीडेंटल डेथ’ कहा गया, क्योंकि वो अपने बाथटब में डूबी हुई पाई गई थीं। 

अब बाथटब में डूबकर मरने की थ्योरी को कई लोग मानने से इंकार करते रहे और ‘मामला गड़बड़’ कहने लगे हैं। ख़ैर, श्रीदेवी की रहस्यमी मौत से पर्दा उठाने का दावा सत्यार्थ नायक कर रहे हैं। 

दरअसल, सत्यार्थ नायक लेखक हैं और उन्होंने ‘श्रीदेवी : ए एटर्नल गॉडेस’ नाम की किताब लिखी है। अब उन्होंने खुलासा किया है कि श्रीदेवी को लो ब्लड प्रेशर की शिक़ायत थी और वो ऐसे में एक्सर बहोश हो जाया करती थीं। 

श्रीदेवी के लो ब्लड प्रेशर में बेहोश होने को लेकर उन्होंने कई लोगों से बात भी की है। एक अंग्रेज़ी डेली को दिए अपने इंटरव्यू में सत्यार्थ ने कहा है कि मैं पंकज पाराशर (फिल्म ‘चालबाज़’ के निर्देशक) और अभिनेता नागार्जुन से मिला। उन दोनों ने ही मुझे इस बारे में बताया था। उन दोनों ने कहा था कि अकसर बाथरूम में बेहोश हो जाया करती थीं। 

इस बारे में सत्यार्थ ने श्रीदेवी की भतीजी माहेश्वरी से बात की। माहेश्वरी ने सत्यार्थ को बताया कि उन्होंने श्रीजी को बाथरूम के फर्श पर गिरा हुआ पाया था और उनके चेहरे से खून बह रहा था। लो ब्लड-प्रेशर के कारण वो पहले भी अचानक बेहोश होकर गिर जाया करती थीं। 

श्रीदेवी के निधन को लेकर कई तरह की बातें सामने आती रही हैं। इसी कड़ी में केरल के डीजीपी ने भी कहा था कि श्रीदेवी की मौत एक हादसा नहीं बल्कि हत्या थी। 

ग़ौरतलब है कि 24 फरवरी, 2018 को श्रीदेवी दुबई के एक होटल में मृत पाई गईं। ख़बरों की माने, तो श्रीदेवी दुबई के होटल के अपने कमरे के बाथटब में अपने पति बोनी कपूर को बेहोशी की हालत मिली थीं। 

श्रीदेवी के डेथ सर्टिफिकेट में कहा गया कि उनकी मौत 'दुर्घटनावश डूबने' के कारण हुई। इसके बाद उनकी रहस्यमयी मौत को लेकर कई अटकलें लगाई जा रही थीं।

संबंधित खबरें।