मनीष पॉल के साथ धर्मेंद्र ने रिक्रिएट किया 'ये दोस्ती हम नहीं तोड़ेंगे'

फिल्म 'शोले' धर्मेंद्र और अमिताभ बच्चन ने 'जय' और 'वीरू' नाम के जिगरी दोस्तों का किरदार निभाया था। उनके करियर में इस फिल्म का एक ख़ास स्थान है। जब भी अमिताभ बच्चन के साथ धर्मेंद्र स्टेज पर आते हैं फिल्म 'शोले' का गाना 'ये दोस्ती हम नहीं तोड़ेंगे' ज़रूर बजाया जाता है। अपने इस आइकॉनिक सॉन्ग को इस बार धर्मेंद्र ने मनीष पॉल के साथ रिक्रिएट किया। 
dharmendra and manish paul recreate 'Sholey' song 'ye dosti hum nahi tedonge'
साल 1947 में फिल्म आई थी 'शोले', जिसे सलीम-जावेद की जोड़ी ने लिखा था और रमेश सिप्पी ने निर्देशित किया था। फिल्म में अमिताभ बच्चन, धर्मेंद्र, हेमा मालिनी, जया बच्चन और संजीव कुमार मुख्य भूमिका में थे। इस मल्टीस्टारर फिल्म को हिन्दी सिने जगत की कल्ट कहा जाता है। 

इस फिल्म में धर्मेंद्र और अमिताभ बच्चन ने 'जय' और 'वीरू' नाम के जिगरी दोस्तों की भूमिका निभाई थी। इस जोड़ी पर एक गाना पिक्चराइज़ था, जो आज भी इन दोनों के स्टेज पर आते ही प्ले किया जाता है। 

वह गाना है 'यह दोस्ती हम नहीं तोड़ेंगे'। हाल ही में धर्मेंद्र स्टेज पर आए, तो एक बार फिर इस गाने को प्ले किया गया, लेकिन इस बार धर्मेंद्र के साथ अमिताभ नहीं, बल्कि 'स्टेज ऑफ सुल्तान' मनीष पॉल थे। 

दरअसल, एक्टर और एंकर मनीष ने धर्मेंद्र से इस आइकॉनिक सॉन्ग को रिक्रिएट करने की गुज़ारिश की, जिसे धर्मेंद्र ने तुरंत मान लिया। धर्मेंद्र और मनीष के इस रिक्रिएट वर्ज़न का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। 

इस वीडियो में दोनों साइड सीट वाली मोटरसाइकिल पर बैठे हैं। जहां मनीष ड्राइवर सीट पर हैं, तो वहीं धर्मेंद्र सूट-बूट और टोपी पहने साइड सीट पर बैठे हैं। दोनों 'ये दोस्ती हम नहीं तोड़ेंगे' पर परफॉर्म भी किया। अब जैसे ही यह गाना बजा, तो मनीष काफी एक्साइटेड हो गए, तो वहीं धर्मेंद्र भी अपनी एक्साइटमेंट छुपा नहीं पाए। गाने के बीच में ही धर्मेंद्र, मनीष के साथ मस्ती करते दिखे। 

बता दें यह दिलचस्प वाकया सिंगिंग रियलिटी शो 'सारेगामापा लिटिल चैंप्स' में देखने को मिलेगा। मनीष इस शो को होस्ट करते हैं। 

इस गाने को रिक्रिएट करने पर मनीष काफी खुश थे। उन्होंने कहा कि मैं धर्मेंद्र जी का बहुत बड़ा प्रशंसक हूं और मैंने उनसे फिल्म 'शोले' के सॉन्ग 'ये दोस्ती हम नहीं तोड़ेंगे' को रिक्रिएट करने के लिए कहा और उन्होंने मेरी गुज़ारिश मान ली। हम दोनों वैसी ही मोटरसाइकिल पर बैठे, जैसे फिल्म में अमिताभ बच्चन और धर्मेंद्र, जय-वीरू के रूप में बैठे थे। अब 'वीरू' तो धर्मेंद्र जी ही थे, लेकिन 'जय' मैं बन गया। इस एपिसोड में हमने खूब मस्ती और धमाल किया।