लॉकडाउन की वजह से कंगना रनौत की 'थलाइवी' को हुआ भारी नुकसान

कंगना रनौत स्टारर जयललिता की बायोपिक 'थलाइवी' के लिए करोड़ों की लागत से तैयार सेट के बारिश में खराब होने का खतरा मंडरा रहा है। इस सेट पर 45 दिन की शूटिंग होने वाली थी, लेकिन अब लॉकडाउन की वजह से ऐसा हो नहीं पाया। वहीं अब मॉनसून के आने पर यह सेट खराब हो जाएगा, जिससे मेकर्स को भारी नुकसान सहना पड़ सकता है।

kangana ranaut upcoming movie thalaivi
कोरोना वायरस की वजह से पूरे देश में लॉकडाउन है। ऐसे में आम जनजीवन के साथ बिजनेस सेक्टर के साथ फिल्म वर्ल्ड भी काफी प्रभावित हुआ है। फिल्मों के लिए भारी बजट से तैयार फिल्म सेट की वजह से प्रोडक्शन को नुकसान झेलना पड़ रहा है। 

हाल ही में अजय देवगन की फिल्म 'मैदान' के बाद संजय लीला भंसाली की फिल्म 'गंगूबाई काठियावाड़ी' के सेट को तोड़ने के आदेश दिये गए। अब इस कड़ी में कंगना रनौत की फिल्म 'थलाइवी' का भी नाम जुड़ गया है। 

दरअसल, फिल्म 'थलाइवी' के लिए हैदराबाद स्टूडियो में 45 दिन की शूट के लिए संसद भवन का सेट बनाया गया था, लेकिन जब से यह सेट तैयार हुआ है, वहां एक दिन भी शूटिंग नहीं हो पायी है। जबकि इस सेट के मेनटेनेंस के लिए मेकर्स तकरीबन 5 करोड़ खर्च कर चुके हैं। 

ऐसे में अब फिल्म 'थलाइवी' के मेकर्स को लॉकडाउन के खुलने का बेसब्री से इंतजार है, ताकि आउटडोर शूट पूरा किया जा सके। टीम चाहती है कि बारिश का मौसम शुरू होने से पहले आउटडोर शूट का काम पूरा हो जाए।

मेकर्स का कहना है कि यदि बारिश हुई, तो सेट पूरी तरह से तबाह हो जाएगा और फिर इसे दोबारा बनवाना पड़ेगा, जिससे प्रोडक्शन कॉस्ट में इजाफा हो जाएगा। बता दें कि फिल्म की टीम ने एक सेट चेन्नई में भी बनवाया है, लेकिन वहां भी लॉकडाउन के चलते शूटिंग नहीं हो पायी है। 

बता दें फिल्म 'थलाइवी' में कंगना ने तमिलनाडु की दिवंगत पूर्व मुख्यमंत्री जयललिता की भूमिका निभा रही हैं। जयललिता की इस बायॉपिक निर्देशन एएल विजय कर रहे हैं। यह फिल्‍म हिंदी के अलावा तमिल और तेलुगू भाषाओं में भी रिलीज होगी।

संबंधित ख़बरें

टिप्पणियां