पीए मोदी नरेंद्र मोदी का समर्थन करते हुए मनीष पॉल ने कहा, 'हमारा वोट सही हाथों में है'

मनीष पॉल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की 'कोविड 19' से निबटने की रणनीति की जमकर तारीफ करते हुए कहते हैं कि हमारा वोट सही हाथों में गया है। दरअसल, सोशल मीडिया पर एक पत्रकार से बात करते हुए मनीष ने यह बात कही। 

maniesh paul supports PM narendra modi
देश ही नहीं बल्कि पूरा विश्व इन दिनों कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण से जूझ रहा है। सभी देश अपने-अपने तरीके से इस मुश्किल घड़ी से उबरने की कोशिश कर रहे हैं। 

वहीं भारत में इस स्थिति से निबटने के लिए सोशल डिस्टेंसिंग और लॉकडाउन जैसे कदम उठाये गए हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा लिए गए इस फैसले का आमजन से लेकर सेलेब तक ने समर्थन किया और इसकी प्रशंसा भी की। हालांकि, अपवाद स्वरूप आंशिक विरोध भी कुछ लोगों ने दर्ज करवाया है। 

प्रधानमंत्री मोदी द्वारा 'कोविड 19' के दौरान लिए गए फैसलों का समर्थन करने वालों में 'सुल्तान ऑफ स्टेज' मनीष पॉल का भी नाम शामिल है। 

हाल ही में जब एक पत्रकार ने मनीष से ट्विटर पर सवाल किया, 'यदि इस वक्त आपको प्रधानमंत्री बनने का मौका मिलता, तो आप क्या करते? कोरोना से कैसे निबटते?'

इस सवाल के जवाब में मनीष ने कहा, 'मुझे नहीं लगता कि इस समय कोई भी यह ज़िम्मेदारी निभा सकता है। हमारा वोट बहुत सही जगह गया है। हम पीएम नरेंद्र मोदी जी का सिर्फ किरदार निभाने की कल्पना कर सकते हैं। वो जिस तरीके से एक सौ तीस करोड़ लोगों की आबादी को संभाल रहे हैं, उनसे बेहतर यह कोई नहीं कर सकता। मेरा सैल्यूट है उनको।'

जेनिफर लोपेज के साथ लॉकाउन होना चाहते हैं मनीष

इस बातचीत के दौरान जब मनीष से पूछा गया कि वो किस अभिनेत्री के साथ लॉकडाउन होना पसंद करेंगे? और विकल्प में सलमान खान का फार्म हाउस भी हो तो?

इस दिलचस्प सवाल का जवाब भी मनीष ने मज़ेदार तरीके से दिया, उन्होंने कहा, 'मैं जेनिफर लोपेज़ के साथ लॉकडाउन में रहना चाहूंगा, क्यूंकि वो जो बोलेंगी मुझे समझ में नहीं आएगा। मेरी पंजाबी भी उनको समझ में नहीं आएगी और ऐसे ही लॉकडाउन गुज़र जाएगा। वैसे सलमान सर का फार्म हाउस भी अच्छा है क्यूंकि...वहां घोड़ों का बहुत ध्यान रखा जा रहा है और घोड़ों को कभी सलमान सर के सिर तो कभी कन्धों से चारा खाने को मिल रहा है। सोच रहे होंगे कि मैं घोड़ों की बात क्यों कर रहा हूं, क्यूंकि किसी ने कहा था कि मनीष तुम बड़ी लम्बी रेस के घोड़े हो।'

मनीष लगाएंगे चाइनीज़ डिश में पंजाबी तड़का

जब उस पत्रकार ने मनीष से पूछा कि 'कोविड 19' की उत्पत्ति चीन में हुई है और ऐसे में कई देश चीन से खार खाए बैठे हैं, तो क्या वो विरोध में चाइनीज़ खाना बंद कर देंगे?

इसके जवाब में मनीष ने कहा, ' देखिये, विरोध तो क्या ही करना है। हां, मैं सारा चाइनीज़ खा जाऊंगा। मैं सोच रहा हूं कि विरोध में मैं एक चाइनीज़ रेस्टोरेंट खोलूं और उसमें पंजाबी तड़के के साथ चाइनीज़ बनाऊं- मंचूरियन मखनी, नूडल दो प्याज़ा, टिंडे का मनचाउ सूप और चाइना वालों से बोलूं कि अब यह करके दिखाओ।'

इस दिलचस्प बातचीत के दौरान मनीष ने यह भी कहा कि वह लॉकडाउन के दौरान घर पर अपने समय का आनंद ले रहे हैं। अपने परिवार के साथ समय बिता रहे है, और अपने स्वास्थ्य का ख्याल रख रहे हैं। सिर्फ ज़रूरी होने पर ही घर के बाहर निकल रहे हैं।

संबंधित ख़बरें

टिप्पणियां