नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी के परिवार ने किया मेंटली-फिजिकली टॉर्चर- आलिया सिद्दीकी

नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी की पत्नी आलिया सिद्दीकी ने ससुराल पक्ष पर मानसिक और शारीरिक प्रताड़ना का आरोप लगाते हुए कहा कि इस शादी में उन पर हो रहे अत्याचार अब बर्दाश्त से बाहर हो गए थे। वहीं नवाज़ ने कभी उन पर हाथ नहीं उठाया, लेकिन नवाज़ुद्दीन के भाई ने आलिया को पीटा भी है। बच्चों के बारे में भी ले रह हैं सख्त फैसला। 

aaliya siddiqui accused on nawazuddin siddiqui family to mental-physical torture
नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी और उनकी पत्नी आलिया सिद्दीकी के रिश्ते अब टूट के कगार पर हैं। आलिया ने अलगाव के लिए कानूनी नोटिस तक भेज दिया है, तो वहीं नवाज़ पूरे मामले में पर चुप्पी साधे बैठे हैं। 

हालांकि, आलिया धीरे-धीरे न्यूज चैनल, अखबार, और वेब पोर्टल्स को इंटरव्यूज़ दे रही हैं। हाल ही में एक वेब पोर्टल को दिए इंटरव्यू में आलिया ने अपने और नवाज़ के रिश्ते के टूटने के पीछे की सच्चाई बयान की। साथ ही नवाज़ के परिवार पर गंभीर आरोप लगाए। 

आलिया ने इस इंटरव्यू में कहा, 'हमारी शादी में परेशानियां काफी लंबे समय से चल रही थीं। मैंने और नवाज ने शादी तो की, लेकिन इस शादी को अब इसे आगे नहीं बढ़ा सकती हूं। मैं हमदोनों की बीच पनपे मुद्दों को सुलझाने की कोशिश कर रही थी, उनके बेहतर होने का इंतजार कर रही थी, लेकिन मुझे आखिरकार यह फैसला लेना पड़ा है।'

वो आगे कहती हैं, 'इस रिश्ते में मेरी सेल्फ-रिस्पेक्ट एकदम खत्म हो गयी थी। जब आप अपने घर पहुंचते हो और अचानक आपसे आपके धर्म को बदलने के लिए कहा जाये। हालांकि, शादी करने के लिए यह करना जरूरी था और धर्म परिवर्तन मेरा फैसला नहीं था। यह मैंने तब किया, जब उसने मुझसे कहा। इसके बाद तो मेरी ज़िंदगी ही बदल गई। बाद में मुझे अहसास हुआ कि मैं उसके लिए कोई मायने ही नहीं रखती हूं।'

बच्चों के बारे में कहती हैं, 'आप अपने बच्चों के साथ पिछले 10 साल से अकेले रह रहे थे और आपको उनके लिए अकेले ही सब कुछ करना है। जब आपको अकेले ही सब कुछ करना है, तो क्यों ना अकेले ही रहा जाये। इसीलिए मैंने यह फैसला लिया है।'

वो आगे कहती हैं कि नवाजुद्दीन के पास उनके बच्चों के लिए भी समय नहीं था। नवाज़ को अपने बच्चों से मिले हुए 3-4 महीने हो चुके हैं, लेकिन उन्हें कोई परवाह नहीं है। इसलिए बच्चे भी इसके आदी हो गए हैं और उनके बारे में पूछते भी नहीं है। 

नवाज़ के परिवार पर लगाए गंभीर आरोप, 'नवाज़ ने कभी मुझ पर हाथ नहीं उठाया था, लेकिन चिल्लाना और बहस काफी होती रही। जबकि नवाज़ के परिवार ने मुझे मेंटली और फिजिकली बहुत टार्चर किया है। यहां तक कि उसके भाई ने मुझे मारा भी था। नवाज़ की मां, भाई और उसकी पत्नी सभी हमारे साथ मुंबई में ही रहते थे।'

नवाज़ के पहले तलाक के बारे में बात करते हुए कहती हैं, 'नवाज़ का पहली पत्नी ने भी उन्हें इसी कारण अकेला छोड़ दिया था। यह एक पैटर्न है। घर की महिलाओं के द्वारा परिवार खिलाफ पहले से ही सात मामले दर्ज हैं और चार तलाक हो चुके हैं। आप दूसरों के सामने शर्मिंदगी से बचने के लिए बहुत कुछ भूलने की कोशिश करते हैं, लेकिन आप प्यार में कितना सह सकते हैं।'

आलिया सिद्दीकी ने अपने सपोर्ट सिस्टम को लेकर कहा, 'मेरी बहन, पिता की तरह मेरा सपोर्ट कर रही है, क्योंकि मेरे पिता और मां इस दुनिया में नहीं हैं और मेरे भाई का निधन बीते साल दिसंबर में हो गया था।'

इस इंटरव्यू में आलिया ने कहा है कि वो ज़िंदगी के हिस्से को एक बुरा अध्याय समझ कर भूल जाना चाहती हैं। साथ ही उन्होंने यह भी बताया कि वो अपने पुराने नाम अंजना किशोर पांडेय पर वापस आ गई हैं, क्योंकि उनको हर समय यह कहा गया कि बिन नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी के नाम की तुम्हारी पहचान नहीं है। भविष्य के बारे में कुछ कह नहीं सकती, लेकिन इस शादी में और नहीं रह सकती। दोबारा साथ रहने का तो सवाल ही पैदा नहीं होता। 

संबंधित ख़बरें

टिप्पणियां