Bulbul Trailer out: क्राइम, सस्पेंस, प्यार, इंतकाम से लबरेज है सुपरनैचुरल ड्रामा 'बुलबुल'



अनुष्का शर्मा के प्रोडक्शन हाउस क्लीनस्लैट ने नेटफ्लिक्स के लिए सुपरनैचुरल ड्रामा 'बुलबुल' का निर्माण किया है, जिसका ट्रेलर जारी कर दिया गया है। इस ट्रेलर से जो कहानी की झलक मिली, उसमें क्राइम, सस्पेंस, प्यार, इंतकाम से भरे ट्विस्ट हैं। यह वेब सीरीज़ 24 जून को रिलीज़ हो रही है। 

netflix web series Bulbul trailer out

अनुष्का शर्मा के प्रोडक्शन हाउस क्लीनस्लैट ने नेटफ्लिक्स के लिए सुपरनैचुरल ड्रामा 'बुलबुल' का निर्माण किया है। इस वेब सीरीज़ का ट्रेलरजारी कर दिया गया है। सुपरनैचुरल थीम पर बनी इस सीरीज में क्राइम, सस्पेंस, प्यार और इंतकाम के जबरदस्त ट्विस्ट देखने को मिले। 'बुलबुल' नेटफ्लिक्स पर 24 जून को रिलीज होगी।

'बुलबुल' की कहानी

अनुष्का शर्मा ने बुलबुल का ट्रेलर जारी करते हुए कैप्शन में लिखा, 'क्या होगा यदि बचपन में सोते वक्त सुनी गई कहानियां सच हो जाएं।' 

वेब सीरीज़ 'बुलबुल' की कहानी बंगाल की 19वीं और 20वीं शताब्दी की पृष्ठभूमि पर बेस्ड है। 'बुलबुल' की केंद्रीय भूमिका तृप्ति डिमरी ने निभाया है। ट्रेलर में दिखता है कि 'बुलबुल' का बाल विवाह अपने से काफी बड़े उम्र के शख्स महेंद्र (राहुल बोस) संग होता है, लेकिन 'बुलबुल' को लगता है कि उसका विवाह उसके ही हमउम्र 'सत्या' से हुआ है। 'बुलबुल' शादी में बंधी रहती है, लेकिन वो मन ही मन 'सत्या' को चाहती है। 'सत्या', 'महेंद्र' यानी 'बुलबुल' के पति का छोटा भाई है। 

ट्रेलर की शुरुआत में दिखता है कि 'बुलबुल' को 'सत्या' चुड़ैल की डरावनी कहानी सुना रहा है।


बरसों बाद भी 'बुलबुल' के दिल में 'सत्या' के लिए प्यार कम नहीं हुआ। बल्कि 'बुलबुल' हर हाल में उसे पाना चाहती है। एक दिन 'बुलबुल', 'सत्या' से कहती है कि एक चुड़ैल उसके पति 'महेंद्र' को खा गई है। 

'बुलबुल' का किरदार मिस्ट्री और सस्पेंस से भरा है। वहीं कहानी में कई मर्डर होते हैं। अब वो कत्ल 'बुलबुल' करती है या कोई और...इसका खुलासा तो सीरीज़ देखने के बाद ही पता चलेगा। 

वहीं इस सीरीज़ में कलाकारों की बात करें, तो अविनाश तिवारी, तृप्ति डिमरी, पाओली डैम और परमब्रत चटर्जी और राहुल बोस अहम भूमिका में हैं। अनविता दत्त ने इसका निर्देशन किया है।

संबंधित ख़बरें

टिप्पणियां

अनाम ने कहा…
केवल VFX न कहानी, न किरदार, स्क्रीनप्ले, न डायलाग, कुल मिलाकर जिसके पास फालतू का समय हो वो देखे। देखना