सुशांत सिंह राजपूत को लेकर संदीप सिंह बना रहे थे 'वंदे भारतम', पोस्टर किया शेयर

सुशांत सिंह राजपूत के जिगरी दोस्त निर्माता संदीप सिंह ने सोशल मीडिया पर फिल्म 'वंदे भारतम' का पोस्टर जारी कर जानकारी दी है कि वो सुशांत सिंह राजपूत को लेकर इस फिल्म का निर्माण करने वाले थे। 'ड्रीम गर्ल' के निर्देशक राज शांडिल्य ने इस फिल्म की कहानी लिखी थी। संदीप सिंह की इस पोस्ट को राज ने भी अपने फेसबुक पेज पर शेयर किया है। 

sushant singh rajput friend sandip ssingh claims he was making film 'vante bharatam' with him share poster
अभिनेता सुशांत सिंह के जिगरी दोस्तों में से एक निर्माता संदीप सिंह संदीप सिंह ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर एक पोस्टर शेयर किया है। इस पोस्टर में सुशांत सिंह राजपूत दिखाई दे रहे हैं। वहीं फिल्म का नाम 'वंदे भारतम' लिखा हुआ है। 

पोस्टर में निर्देशक की जगह संदीप सिंह का नाम लिखा है, जबकि इस कहानी को 'ड्रीम गर्ल' के निर्देशक राज शांडिल्य ने लिखा है। संदीप सिंह ने अपनी पोस्ट में लिखा है कि वो और सुशांत साथ में मिल कर इस फिल्म को बनाने वाले थे। संदीप ने खुलासा किया कि उन्होंने सुशांत से वादा किया था कि इस फिल्म का निर्देशन वह करेंगे।

संदीप सिंह का 'वंदे भारतम'

संदीप ने आगे लिखा, 'तुमने मुझे एक वचन दिया है। हम बिहारी भाई एक दिन इस इंडस्ट्री पर शासन करेंगे और आपके और मेरे जैसे सभी युवा सपने देखने वालों के लिए प्रेरणा और सपोर्ट सिस्टम बनेंगे। आपने मुझसे वादा किया था कि मेरी पहली फिल्म का निर्देशक बनना, तुम्हारे साथ होगा। राज शांडिल्य इसका लेखन कर रहे थे और हम इसे एक साथ प्रोड्यूस करने वाले थे। मुझे आपके विश्वास की आवश्यकता थीं, जो विश्वास आपने दिखाया था। वह मेरी ताकत थी। अब, आप चले गए... मैं खो गया हूं ... अब बताओ। मैं इस सपने को कैसे पूरा करुं? अब मेरे जैसे का हाथ कौन थामेगा? कौन मुझे एसएसआर की ताकत देगा, मेरे भाई?' 

हालांकि, संदीप ने आगे लिखा है कि वह फिल्म को सुशांत के लिए एक श्रद्धांजलि के रूप में बनाएंगे। वो लिखते हैं, 'मैं आपसे यह वादा करता हूं... मैं यह फिल्म बनाऊंगा! और यह एसएसआर की प्रेममयी स्मृति को श्रद्धांजलि होगी, जिन्होंने लाखों लोगों को प्रेरित किया और उन्हें आशा दी कि कुछ भी संभव है। बस सपना देखें और इस पर विश्वास करें। इस फिल्म पर चर्चा हम एक साथ करने का सपना देखते थे... फिल्म 'वन्दे भारतम' अब मैं सिर्फ आपकी यादों के साथ रह गया हूं और यह पोस्टर जो सच होने लगा था। यह फिल्म मेरे भाई, आपकी आत्मा की अखंड ज्योति का प्रतीक बन गया हैं।'



You made me a promise. We, the Bihari brothers, will one day rule this industry and be the inspiration/support system for all young dreamers like you and me bhai. You promised me that my directorial debut will be with you. Raaj Shaandilyaa wrote this and we were to produce this together. I need your belief, that faith you showed, that was my strength. Now, with you gone...I'm lost...but I promise you this my brother. Now tell me how do I fulfil this dream? Who will hold my hand like you did? Who will give me the power of SSR, my brother? I promise you this... I will make this film! And it will be a tribute to the loving memory of SSR who inspired millions and gave them hope that anything is possible! Just dream it and believe it! Those hours of discussions on this film we dreamed to make together...the film 'Vande Bharatam'...now all I am left with is your memories and this poster which was our dream starting to come true, this film my brother, will be the symbol of the undying light of your soul ❤️
A post shared by Sandip Ssingh (@officialsandipssingh) on

राज शांडिल्य ने भी शेयर किया

वहीं इस पोस्ट को फेसबुक पर राज शांडिल्य ने भी शेयर करते हुए लिखा, 'प्रिय सुशांत, तुम आज हमारे बीच नहीं हो, हमारे साथ नहीं हो लेकिन हमेशा हमारे पास रहोगे, तुम हमेशा से एक स्टार थे और रहोगे, तुम्हारे साथ मेरी काम करने की तमन्ना अधूरी ही रह गयी, 2015 में जो कहानी लिखी थी, उसे मैंने मेरे दोस्त संदीप सिंह को सुनाई थी और सोचा था ये फिल्म उस एक्टर के साथ ही करेंगे जिसे इस देश की फ़िक्र हो, जो इस फ़िल्म को सिर्फ़ फिल्म न समझते हुए देश के प्रति ज़िम्मेदारी समझे, मुझे तो पता भी नहीं था की ये कहानी संदीप ने तुम्हें सुनाई और तुमने ये फिल्म करने के लिए हाँ कह दिया था, आज तुम्हारी इज़्ज़त मेरी नज़रों में और बढ़ गयी, तुम्हारे जाने का ग़म इतना है कि उसे एक लेखक होते हुए भी शब्दों में बयां नहीं कर पाऊंगा,मैं दुनिया को हसांता हूँ लेकिन ये लिखते हुए आज मेरी आंखों में आंसू हैं, आज मैं तुम्हें पहले से ज़्यादा जान गया हूँ, ये फिल्म हमेशा से मेरे दिल के करीब रही थी और हमेशा रहेगी, ये फिल्म अब जब भी बनेगी मेरी और संदीप की तरफ से तुम्हें सच्ची श्रद्धांजलि होगी...जहाँ भी हो ख़ुश रहो रहो औऱ हाँ ऐसे नहीं जाना था भाई...बिल्कुल नहीं... You will be missed Sushant...' 

राज शांडिल्य ने बताया है कि साल 2015 में लिखी गई, पहली सटायर कॉमेडी फिल्म थी।

प्रिय सुशांत,
तुम आज हमारे बीच नहीं हो, हमारे साथ नहीं हो लेकिन हमेशा हमारे पास रहोगे, तुम हमेशा से एक स्टार थे और...
Posted by Raaj Shaandilyaa on Saturday, June 20, 2020
संबंधित ख़बरें

टिप्पणियां