'बंटी और बबली 2' की शूटिंग हुई पूरी

यशराज फिल्म्स के बैनर तले बन रही रानी मुखर्जी, सैफ अली खान, सिद्धांत चतुर्वेदी और शरवरी वाघ स्टारर फिल्म 'बंटी और बबली 2' की शूटिंग पूरी हो गई है। फिल्म आउटडोर के बजाय इनडोर शूट की गई। कोरोना काल में सभी तरह की सुरक्षा का पूरा खयाल रखा गया था। सैफ अली खान ने तो यह भी कहा कि उन्हें घर से ज्यादा सेट पर सुरक्षित महसूस हुआ। 

Saif Ali khan, Rani Mukherji, Sidhant Chaturvedi and Sharvari Wagh at YRF Stodeos

कोरोना काल के दौरान ही सैफ अली खान, रानी मुखर्जी, सिद्धांत चतुर्वेदी और शरवरी वाघ ने यशराज फिल्म्स के बैनर तले बन रही फिल्म ‘बंटी और बबली 2’ की शूटिंग पूरी कर ली है। हालांकि, आउटडोर की बजाय इनडोर यानी स्‍टूडियो के अंदर ही पूरा किया गया। 

फिल्म की शूटिंग के दौरान सेट पर सभी तरह के सुरक्षा उपायों का पालन किया गया था। प्रोडक्शन हाउस ने वहां मौजूद हर सदस्य की जांच करवाने के साथ ही सेट पर मेडिकल स्टाफ का इंतजाम भी कर रखा था। वहीं फिल्म की शूटिंग शुरू करने से पहली पूरी टीम के कास्ट और क्रू को क्वारैंटाइन की प्रक्रिया से गुजरना था, ताकि सेट पर सभी सुरक्षित रहें। 

कोरोना काल में शूटिंग करने का अनुभव साझा करते हुए निर्देशक वरुण शर्मा ने कहा, 'हमने यह तय किया कि सुरक्षा के सभी उपाय बरते जाए, ताकि सुरक्षित माहौल में शूटिंग हो सके। हमें यह बताते हुए खुशी हो रही है कि 'बंटी और बबली 2' के सेट पर कोई भी अनपेक्षित घटना नहीं हुई। कलाकारों सहित पूरे क्रू मेंबर्स का शूट से पहले कोरोना टेस्ट कराया गया, उसके बाद क्रू को होटल में क्वारैंटाइन किया गया, ताकि वो सुरक्षित रहें और उन तक वायरस न पहुंच सके।'

वरुण आगे कहते हैं, 'कलाकार होम क्वारैंटाइन में रहे और शूट के दौरान किसी से भी नहीं मिले। होटल से सेट तक क्रू मेंबर्स के आने-जाने का इंतज़ाम यशराज फिल्म्स ने किया था। यहां तक कि जिन कारों से क्रू मेंबर्स सफर कर रहे थे, उनके ड्राइवर्स की भी जांच करके उन्हें भी क्रू के साथ क्वारैंटाइन किया गया। हमने सुरक्षा के सभी उपायों का पालन करते हुए काम किया। मुझे खुशी है कि यह सब ठीक तरह से हुआ और इससे पूरे फिल्म उद्योग को शूट पर वापसी करने की हिम्मत मिलेगी।'

वहीं सैफ अली खान ने कहा, 'हमें सेट पर बहुत मजा आया। यशराज फिल्म्स ने सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए थे। यह बहुत संवेदनशील समय है और जोखिम को देखते हुए कलाकारों, निर्माता, क्रू एंड कास्ट की सुरक्षा को लेकर सावधान रहने की ज़रूरत थी। हमें शूटिंग का सबसे अच्छा अनुभव मिले, यह सुनिश्चित करने के लिए किए गए उपायों को देखकर हम हैरान थे। हमें यहां पर घर से भी ज्यादा सुरक्षित महसूस हुआ।' 

सैफ ने आगे कहा, 'मुझे उम्मीद है कि उद्योग में हर कोई उतना ही सतर्क होगा, जितने सतर्क आदित्य चोपड़ा हैं। जब पूरी टीम सेट पर आई, तो हम आश्वस्त थे कि वायरस से हमें कोई नुकसान नहीं होगा। यह बहुत सुकून भरा अहसास था। इसलिए शूट करने में बहुत मजा आया। हमारी टीम कई महीनों के बाद मिल रही थी। इसलिए एक-दूसरे से मिलने, मजे करने और शूट करने का यह समय बहुत अच्छा गुजरा।'

सेट पर सुरक्षा के इंतज़ाम को लेकर रानी मुखर्जी ने कहा, 'हमने महामारी के बीच यह सीक्वेंस शूट किया, क्योंकि हमें सेट पर बहुत सुरक्षित महसूस कराया गया। यह अनुभव काफी अच्छा था। हमें एक-दूसरे के साथ शूटिंग करने में बहुत मजा आया। महामारी से पहले शूट करने की हमारी कई पुरानी यादें ताजा हो गईं और पूरी टीम खुशी से झूम उठी।'

अभिनेता सिद्धांत चतुर्वेदी ने कहा, 'शूट के लिए सेट पर वापसी का अनुभव शानदार था। मुझे अपनी 'बंटी और बबली 2' टीम बहुत पसंद है। मैं पूरी टीम से मिलने के लिए काफी एक्साइटेड था। महामारी से पहले हमें शूटिंग में बहुत मजा आ रहा था। उसके बाद ना तो हम शूट कर सकते थे और ना ही एक-दूसरे से मिल सकते थे। मुझे शरवरी, सैफ सर, रानी मैम और फिल्म की पूरी टीम से फिर से मिलकर बहुत अच्छा लगा। यह टीम खास है और हमें 'बंटी और बबली 2' की शूटिंग पूरी करने का सबसे अच्छा अनुभव मिला।'

कोरोना काल में शूटिंग करने के अनुभल को लेकर शरवरी ने बताया, 'हमें एक मजेदार सॉन्ग सीक्वेंस की शूटिंग पूरी करनी थी और पूरी टीम से मिलने का सबसे अच्छा तरीका भी यही था कि हम ढेर सारे उत्साह, खुशी और पागलपंती के साथ धमाल करते हुए एक-दूसरे से मिलें। इतनी बड़ी क्रू में भी हमें शूटिंग का बहुत सुरक्षित अनुभव मिला। हमने हर किसी को सुरक्षित रखने के लिए सभी उपाय किए थे।'

संबंधित ख़बरें

टिप्पणियां