Shershaah: सिद्धार्थ मल्होत्रा की फिल्म 'शेरशाह' 2 जुलाई को होगी रिलीज़

कारगिल हीरो विक्रम बत्रा की सिद्धार्थ मल्होत्रा अभिनीत बायोपिक 'शेरशाह' 2 जुलाई 2021 को सिनेमाघरों में उतरेगी। धर्मा प्रोडक्शन के बैनर तले बनी इश फिल्म का निर्देशन विष्णु वर्धन ने किया है। फिल्म में सिद्धार्थ मल्होत्रा के साथ कियारा आडवाणी नज़र आएंगी।

Sidharth-Malhotra-starrer-Vikram-Batra-biopic-Shershaah-to-release-on-2-July-2021

धर्मा प्रोडक्शन की फिल्म 'शेरशाह' की रिलीज़ डेट का ऐलान हो गया है। कारगिल हीरो कैप्टन विक्रम बत्रा की सिद्धार्थ मल्होत्रा स्टारर फिल्म 'शेरशाह' 2 जुलाई 2021 को रिलीज़ हो रही है। सिद्धार्थ के साथ फिल्म में कियारा आडवाणी नज़र आएंगी।

विष्णु वर्धन के निर्देशन में बनी इस फिल्म की रिलीज़ डेट की घोषणा फिल्म निर्माता करण जौहर ने पोस्टर शेयर करते हुए की।

करण जौहर ने ट्वीट किया,'कैप्टन विक्रम बत्रा की अनकही कहानी बड़े पर्दे पर दिखाए जाने के लिए तैयार है। हम उनकी जर्नी को दिखाने के लिए सम्मानित महसूस कर रहे हैं। 'शेरशाह' 2 जुलाई 2021 को सिनेमाघरों में रिलीज़ होगी। फिल्म में सिद्धार्थ मल्होत्रा और कियारा आडवाणी नजर आएंगे। विष्णु वर्धन ने इसे डायरेक्ट किया है।'

वहीं सिद्धार्थ मल्होत्रा ने फिल्म के 2 नए पोस्टर शेयर करते हुए लिखा,'बड़े पर्दे पर कैप्टन विक्रम बत्रा (परमवीर चक्र) की अनकही कहानी पेश करने की पूरी तैयारी है। 'शेरशाह' आपके नजदीकी सिनेमाघरों में 2 जुलाई 2021 को आ रही है। फिल्मों में आपसे मिलते हैं।’

विष्णु वर्धन के निर्देशन में बनी इस फिल्म को हीरू यश जौहर, करण जौहर, अपूर्वा मेहता, शब्बीर बॉक्सवाला, अजय शाह और हिमांशु गांधी ने को-प्रोड्यूस किया है।

गौरतलब है कि भारतीय सेना के कैप्टन विक्रम बत्रा 7 जुलाई 1999 को कारगिल युद्ध में अभूतपूर्व वीरता का परिचय देते हुए वीरगति प्राप्त हो गए थे। विक्रम बत्रा को मरणोपरांत भारत के सर्वोच्च वीरता सम्मान परमवीर चक्र से सम्मानित किया गया।

बता दें कि विज्ञान विषय में स्नातक करने के बाद विक्रम का चयन सीडीएस के जरिये सेना में हो गया। जुलाई 1996 में उन्होंने भारतीय सैन्य अकादमी देहरादून में प्रवेश लिया। दिसंबर 1997 में प्रशिक्षण समाप्त होने पर उन्हें 6 दिसम्बर 1997 को जम्मू के सोपोर नामक स्थान पर सेना की 13 जम्मू-कश्मीर राइफल्स में लेफ्टिनेंट के पद पर नियुक्ति मिली। उन्होंने साल1999 में कमांडो ट्रेनिंग के साथ कई प्रशिक्षण भी लिए। पहली जून 1999 को उनकी टुकड़ी को कारगिल युद्ध में भेजा गया। हम्प व राकी नाब स्थानों को जीतने के बाद विक्रम को कैप्टन बना दिया गया था।

संबंधित ख़बरें
सिद्धार्थ मल्होत्रा और रश्मिका मंदाना शुरू की 'मिशन मजनूं' की शूटिंग

टिप्पणियां