सतीश कौशिक की फिल्म 'छोरियां छोरो से कम नहीं होती' ने जीता राष्ट्रीय पुरस्कार

सतीश कौशिक की हरियाणवी फिल्म 'छोरियां छोरो से कम नहीं होती' ने राष्ट्रीय पुरस्कार अपने नाम किया। इस उपलब्धि पर सतीश कौशिक ने खुशी जाहिर की। बता दें कि अभिनेता- निर्माता- निर्देशक सतीश कौशिक ने हरियाणवी सिनेमा में साल 2019 की फिल्म 'छोरिया छोरो से कम नहीं होती' से डेब्यू किया

satish-kaushik-film-chhoriyan-chhoron-se-kam-nahi-hoti-won-the-national-award

अभिनेता- निर्माता- निर्देशक सतीश कौशिक ने हरियाणवी सिनेमा में साल 2019 की फिल्म 'छोरियां छोरो से कम नहीं होती' से डेब्यू किया। उन्होंने फिल्म में सिर्फ अभिनय नहीं किया, बल्कि इसका निर्माण भी किया। बता दें, फिल्म ने राष्ट्रीय पुरस्कार जीता है, जिसका सोमवार को ऐलान किया गया।

फिल्म 'छोरियां छोरो से कम नहीं होती' ने सर्वश्रेष्ठ हरियाणवी फिल्म श्रेणी में साल 2019 के लिए 67 वां राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार जीता है। फिल्म को नेशनल अवॉर्ड मिलने पर सतीश कौशिक काफी प्रसन्न हैं।

अपनी खुशी जाहिर करते हुए सतीश ने कहा, 'जब मैं इस फिल्म पर काम कर रहा था, मुझे यकीन था कि फिल्म प्रभावशाली होगी और यह समाज में सही संदेश देगी। फिल्को मिली सफलता यह साबित करती है मेरा विजन सही था।'

सतीश ने आगे कहा, 'मैं निर्देशक राजेश बब्बर और उनकी टीम का बहुत आभारी हूं, जिन्होंने इस अद्भुत परियोजना के लिए योगदान दिया। मैं हरियाणा से हूं और मैं हरियाणवी फिल्म इंडस्ट्री के विकास के लिए काम कर रहा हूं। इसलिए, मैं व्यक्तिगत रूप से इस फिल्म के विषय से जुड़ा हुआ था। यह फिल्म सही में पुरस्कार के योग्य है। जी स्टूडियोज और टीम ने फिल्म का निर्माण के लिए मेरे विजन पर विश्वास किया और इसमें साथ दिया उसके लिए भी आभारी हूं।'

उल्लेखनीय है कि इस बीच पिछले कुछ सालों में, 'लाडो', 'पगड़ी' और 'सतरंगी' सरीखी हरियाणवी फिल्मों को राष्ट्रीय पुरस्कार मिले हैं।

वहीं फिलहाल सतीश कौशिक कोरोना वायरस से संक्रमित हैं और मुंबई के कोकिलाबेन धीरूभाई अंबानी अस्पताल में अपना इलाज़ करवा रहे हैं।

संबंधित ख़बरें
COVID 19 के चलते सतीश कौशिक अस्पताल में हुए भर्ती

टिप्पणियां