सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

बुक हो चुकी हैं ऐश्वर्या

शादी के एश्वर्या राय बच्चन की तीसरी फ़िल्म रिलीज़ हो रही हो, लेकिन सिने ख़बरियों की मानें, तो आने वाले तीन सालों में उनकी छह फ़िल्में रिलीज़ होंगी। मणिरत्नम से लेकर सुजॉय घोष तक निर्देशक की फिल्म में होंगी बच्चन बहू!

बुक हो चुकी हैं ऐश्वर्या
मुंबई। बॉलीवुड अभिनेत्री और पूर्व मिस वर्ल्ड शादी और बच्ची के होने के बाद वापसी कर रही हैं। अपनी वापसी के लिए उन्होंने कोरियन फ़िल्म की हिंदी रीमेक 'जज्बा' को चुना।

इस शुक्रवार यानी 9 अक्टूबर को रिलीज़ होने जा रही है। इस में उनके साथ मुख्य भूमिका में इरफ़ान ख़ान नज़र आएंगे। इसका निर्देशन संजय गुप्ता ने किया है।

बच्चन बहू ने वर्ष 2007 में शादी कर ली थी। शादी के बाद आशुतोष गोवारिकर की 'जोधा अकबर' और संजय लीला भंसाली की 'गुजारिश' में नज़र आई थीं। जहां 'जोधा अकबर' कामयाब रही, वहीं 'गुज़ारिश' बॉक्स आॅफ़िस पर धराशाई हो गई।

खैर, ताज़ा ख़बर यह है कि बच्चन बहू अब अपने करियर की गाड़ी को फूल स्पीड में दौड़ाने वाली हैं। सीट बेल्ट बांधते हुए उन्होंने तीन सालों के लिए छह फ़िल्मों को साइन कर लिया है। 

उनके कुछ प्रोजेक्ट्स की घोषणा हो चुकी है और कुछ की होना बाक़ी हैू। मणिरत्नम और सुजॉय घोष की फ़िल्मों में उनके होने की पुष्टि भी हाे चुकी है। वहीं करण जौहर की आगामी फ़िल्म, जिसकी शूटिंग पेरस और जर्मनी में शुरू हो चुकी हैं, में कुछ ही दिनों में शामिल होंगी। अनुष्का और रणवीर कपूर भी इस फ़िल्म में हैं।

ऐश्वर्या ने इसकी पुष्टि करते हुए कहा, '' सुजॉय के साथ हम दो फ़िल्में कर रहे हैं। एक की घोषण हो चुकी है और दूसरी की कहानी को लेकर सीटिंग्स शुरू हो चुकी है। वहीं मणि की फ़िल्म आगे बढ़ गई है। 

अभी उस पर काम कर रहे हैं। राजीव मेनन के साथ कहानी तय हो चुकी है। कुछ और फ़िलमें हें, जिनके निर्देशक जब ठीक समझेंगे घोषणा करेंगे। मैं अपनी तरफ से कुछ और कहानियों के लिए हामी भर चुकी हूं। ''

कहां बीते आठ-नौ सालों में महज़ तीन फ़िल्में और कहां आने वाले तीन सालों में छह फ़िल्में। अब यह सब बात की है बात। फ़िल्में साइन होने और फ़्लोर पर जाने में वक़्त है। उनकी किस्मत का फ़ैसला तो 9 अक्टूबर को होने वाला है।

हिट का फार्मूला

फ़िल्में फ्लॉप क्यों होती है? .... इसके बारे में ऐश्वर्या ने कहा कि जब योजना सही ढंग से बनाई जाए, तो फ़िल्म को फ्लॉप होने से बचाया जा सकता है। उन्होंने आगे कहा, "फिल्म व्यापार करने का यह सही समय है। 

मुझे लगता है व्यापार में सुरक्षा है। अगर उद्योग प्रदर्शनी में वृद्धि हुई है और वृद्धि जारी है तो यह इसे ज्यादा पिंट्र करने के अवसर देता है और निवेशकों को निश्चित वापसी का आश्वासन देता है। "

कहती हैं, आगे "इसलिए मुझे लगता है कि फ़िल्म उद्योग में व्यापार में कोई घाटा नहीं होना चाहिए और यदि सही योजना बनाई जाए तो कोई फिल्म फ्लॉप नहीं हो सकती।"

कई बार लगता है कि फ़िल्में हिट हुई हें, लेकिन कई बार हिट होने के बाद भी निवेशकों को घाटा सहना पड़ता है।

संबंधित ख़बरें
आगे बेगम अख़्तर बनेंगी कंगना साथ होंगे इरफ़ान भी