सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

सेंसर बोर्ड ने रामू से कहा कि ‘सरकार 3’के ट्रेलर से पहले जोड़ें डिस्क्लेमर

निर्देशक रामगोपाल वर्मा का और विवादों का साथ चोली-दामन का सा है। एक बार फिर उनकी आगामी फिल्म के साथ एक नया विवाद जुड़ गया। दरअसल, सीबीएफसी यानी सेंसर बोर्ड ऑफ फिल्म सर्टिफिकेशन ने फिल्म ‘सरकार 3’ के ट्रेलर रिलीज़ होने से पहले ही डिस्क्लेमर की मांग की है। इस तरह की मांग शायद पहली बार बोर्ड के तरफ से किया गया है। 

फिल्म सरकार 3 में डिस्क्लेमर जोड़ने का मांग की है सेंसर बोर्ड ने
मुंबई। अमिताभ बच्चन की मुख्य भूमिका वाली फिल्म ‘सरकार 3’ को लेकर सेंसर बोर्ड ने एक अजीब सी मांग फिल्म निर्देशक के सामने रख दी है। 

सीबीएफसी यानी सेंसर बोर्ड ऑफ फिल्म सर्टिफिकेशन का कहना है कि फिल्म के ट्रेलर रिलीज़ से पहले डिस्क्लेमर भी दिखाया जाए। इससे पहले किसी फिल्म को लेकर इस तरह की मांग कभी नहीं सुनी गई है। 

ग़ौरतलब है कि डिस्क्लेमर अक्सर उन फिल्मों के साथ दिखाया जाता है, जिनका संबंध असल जीवन पर आधारित किसी घटना से हो। 

बता दें कि 7 अप्रैल को यह फिल्म रिलीज़ होनी है और इससे लगभग एक महीने पहले ‘सरकार 3’ के ट्रेलर लॉन्च की तैयारी रामगोपाल वर्मा कर रहे हैं, ताकि प्रमोशन के काम को जल्दी शुरू किया जा सके। लेकिन अब बीच में सेंसर बोर्ड की तरफ से आई इस मांग से रामू के कार्यक्रम में जरूर कुछ बदलाव होने के आसार हैं। 

ख़ैर, इस अजीब मांग के पीछे ‘ठाकरे परिवार की आपत्ति’ बताई जा रही है। बोर्ड को ऐसा महसूस हुआ कि फिल्म के काफी डायलॉग और सीन ठाकरे परिवार से मेल खाते हैं।

हालांकि, रामगोपाल वर्मा के निर्देशन में बनी फिल्म ‘सरकार’ के प्लॉट को लेकर पहले भी सवाल खड़े किए जाते रहे हैं। इस फिल्म की कहानी को लेकर कहा जाता रहा है कि यह ठाकरे परिवार की कहानी है और बाला साहब ठाकरे के किरदार को ही सुभाष नागरे में ढाला गया है। 

राम गोपाल वर्मा की ‘सरकार’ फ्रेनचाइजी की दूसरी किश्त ‘सरकार राज’ में अमिताभ बच्चन जब राजनेता के रूप में नज़र आए। तब भी ठाकरे परिवार से इस फिल्म की स्क्रीनिंग के लिए पूछा गया था, लेकिन बाद में सिर्फ बच्चन परिवार और उनके दोस्तों ने ही यह फिल्म देखी।

‘सरकार’ का सफर और बाला साहेब

आपको बता दें 17 नवंबर 2012 को बाल ठाकरे का निधन हुआ था। वहीं इससे पहले फिल्म ‘सरकार’ साल 2005 में आई थी और फिर इसकी दूसरी किश्त ‘सरकार राज’ साल 2008 में रिलीज़ हुई थी। तब इस फिल्म पर सेंसर बोर्ड ने कोई आपत्ति नहीं जताई थी। यहां तक कि ठाकरे परिवार के लिए स्पेशल स्क्रिनिंग रखने की बात कही गई थी, लेकिन ठाकरे परिवार ने स्क्रिनिंग में दिलचस्पी नहीं ली थी। 

ख़ैर, इस बार ठाकरे परिवार का सुर ही बदला हुआ है। इसकी वजह यह बताई जा रही है कि यह फिल्म बाला साहेब के निधन के बाद बनी है। तो ऐसे में ट्रेलर या फिल्म से उनकी छवि को नुकसान पहुंच सकता है। 

इसलिए ठाकरे परिवार फिल्म से कुछ सीन्स की छटाई करवाने को बेताब है। अब यह मांग पूरी होने की संभावना इसलिए भी दिखाई दे रही है, क्योंकि आखिरी समय में फिल्म ‘जॉली एलएलबी 2’ में भी चार कट लगवा दिए गए थे। 

फिल्म ‘सरकार-3’ में अमिताभ बच्चन के अलावा जैकी श्रॉफ, मनोज वाजपेयी, अमित साध और यामी गौतम नजर आएंगे। इरोज़ इंटरनेशनल बैनर तले बनी इस फिल्म को रामू अपने जन्मदिन पर यानी 7 अप्रैल को रिलीज़ करने वाले हैं। 

संबंधित ख़बरें