सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

अब ऑनलाइन सेंसर होगी फिल्म

अक्सर विवादों में रहने वाला सेंसर बोर्ड अब ऑनलाइन हो चला है। 1 अप्रैल से ऑनलाइन हो रहे बोर्ड का सारा काम पेपरलेस और ट्रांसपैरंट होगा। इसकी घोषणा सोमवार को की गई। फिलहाल यह सुविधा शॉर्ट फिल्म्स के लिए है। 

सेंसर बोर्ड की प्रक्रिया हुई ऑनलाइन
मुंबई। फिल्मों में कांट-छांट को लेकर अक्सर सेंसर बोर्ड और बॉलीवुड में ठनी ही रहती है। कई बार सेंसर बोर्ड पर अनावश्यक कैंची चलाने का आरोप लगता है। 

सीबीएफसी के अध्यक्ष पहलाज निहलानी ने सोमवार को सेंसर बोर्ड के ऑनलाइन होने की घोषणा करते हुए कहा कि 1 अप्रैल से सर्टिफिकेशन का सारा काम पेपरलेस और ट्रांसपैरेंट होगा। 

अब फिल्ममेकर्स सेंसर बोर्ड की वेबसाइट पर जाकर अपने ऑनलाइन आवेदन के साथ संबंधित कागज भी जमा करवा सकते हैं। आवेदन और जरूरी डॉक्यूमेंट्स मिलने के बाद यदि सेंसर को कोई आपत्ति नहीं हुई, तो फिल्म का सर्टिफिकेट ऑनलाइन जारी कर दिया जाएगा। इसके लिए फिल्म के प्रोड्यूसर या प्रोडक्शन टीम के किसी सदस्य को सेंसर बोर्ड के दफ्तर आने की ज़रूरत नहीं होगी। 

हालांकि, यह भी साफ किया गया है कि फिलहाल यह सुविधा फीचर फिल्म के लिए नहीं है। बल्कि शॉर्ट फिल्म्स के लिए है। 10 मिनट से कम ड्यूरेशन वाली शॉर्ट फिल्म्स, प्रोमो, ट्रेलर के लि प्रोड्यूसर्स को सेंसर बोर्ड के चक्कर नहीं काटने होंगे। 

इसके अलावा 10 मिनट से ज्यादा लंबी फिल्मों के लिए आवेदक को स्क्रीनिंग के ले एग्जामिन कमिटी थिएटर जाना होगा। इसके बाद सिर्फ एक बार सर्टिफिकेट लेने के लिए सेंसर बोर्ड के दफ्तर जाने की जरूरत होगी। 

संबंधित ख़बरें