सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

छोटे बजट की बड़ी हिट फिल्में

लव रंजन के निर्देशन में बनी ‘सोनू के टीटू की स्वीटी’ ने बॉक्स ऑफिस पर कामयाबी के झंडे गाड़ दिए हैं। इस फिल्म को मिल रही कामयाबी ने एक बार फिर साबित कर दिया है कि ब्लॉकबस्टर फिल्म के लिए बड़े बजट और बड़े नाम से बढ़ कर कटेंट पर ध्यान देना ज़रूरी है। वैसे, यह पहला मौका नहीं है, जब कंटेंट का बोलबाला बॉक्स ऑफिस पर देखने को मिला है। आज की रिपोर्ट में कुछ ऐसी ही छोटी बजट की हिट फिल्मों पर नज़र दौड़ाएंगे। 

सोनू के टीटू की स्वीटी
मुंबई। इस सप्ताह अजय देवगन की मुख्य भूमिका वाली फिल्म ‘रेड’ रिलीज़ हो गई है। इस फिल्म को क्रिटिक्स ने काफी सराहा है और यह बॉक्स ऑफिस पर कमाई भी कर रही है। लेकिन इसकी कमाई में लव रंजन की फिल्म ‘सोनू की टीटू की स्वीटी’ सेंध लगा रही है। 23 फरवरी को रिलीज़ हुई यह फिल्म जल्दी ही सौ करोड़ी क्लब में शामिल होने जा रही है। इस फिल्म को मिल रही कामयाबी और दर्शकों के प्यार ने एक बार फिर फिल्ममेकर्स को कंटेंट पर ध्यान देने का संदेश दे दिया। इस रिपोर्ट में उन फिल्मों की चर्चा होगी, जो कम बजट में बनीं, लेकिन जबरदस्त मुनाफा कमाने में कामयाब रहीं। 

सोनू के टीटू की स्वीटी

कहने को तो न तो इस फिल्म के साथ बड़ा बैनर जुड़ा है और न ही बड़े नाम। महज 30 करोड़ की लागत से लव रंजन ने ‘सोनू के टीटू की स्वीटी’ को बनाया। 23 फरवरी को रिलीज़ हुई इस फिल्म में नुसरत भरुचा, कार्तिक आर्यन और सनी सिंह मुख्य भूमिका में हैं। 

लव रंजन ने अपने चिर-परिचित अंदाज़ में शहरी युवा के प्यार और उसके साइड इफेक्ट्स को एक बार फिर उकेरा है। ब्रोमांस और रोमांस के बीच के इस दिलचस्प तकरार में जीत चाहे, जिसकी भी हो, लेकिन विजेता तो एक बार फिर कंटेंट ही बना है। इस फिल्म ने अभी तक 99.34 करोड़ की कमाई कर ली है। इसका मतलब जल्दी ही सौ करोड़ के क्लब में एंट्री करेगी। 

हिन्दी मीडियम

साल 2017 में आई इरफान खान स्टारर फिल्म ‘हिन्दी मीडियम’ ने भी जबरदस्त कामयाबी हासिल की थी। फिल्म के निर्देशक साकेत चौधरी ने बताया था कि फिल्म को सिर्फ 15 करोड़ के ख़र्च पर बनाया है, लेकिन प्रमोशन पर तकरीबन 7 करोड़ की लागत आई है। यानी कुल मिलाकर 22 करोड़ की लागत से यह फिल्म सिनेमाहॉल तक पहुंची थी। वहीं अब कमाई की बात करें, तो 22 करोड़ की इस फिल्म ने वर्ल्ड वाइड110 करोड़ की कमाई दर्ज की, जिसमें भारत 67.01 करोड़ की कमाई इस फिल्म ने की थी।

इस छोटे बजट की फिल्म ने तब इतना कारोबार किया, जब दर्शकों पर फिल्म ‘बाहुबली 2’ का खुमार चढ़ा हुआ था। हालांकि, फिल्म की रिलीज़ को एक सप्ताह आगे खिसकाया गया, लेकिन जब ‘हिन्दी मीडियम’ आई, तो दर्शकों ने इस पर भी खूब प्यार बरसाया। 

फिल्म की कहानी एक ऐसे माता-पिता की है, जिनकी खुद की परवरिश देसी अंदाज़ में हुई है, लेकिन वो अपनी बेटी को इंग्लिश मीडियम से पढ़ाना चाहते हैं, ताकि उनकी बेटी हाई सोसायटी में नाक ऊंची कर के रह सके। इस फिल्म में इरफान खान के साथ सबा कमर मुख्य भूमिका में थीं। 

मसान 

नीरज घेवन के निर्देशन में बनी फिल्म ‘मसान’ साल 2015 में सिनेमाघरों में उतरी थी। महज 3 करोड़ की लागत से बनी इस फिल्म ने 9 करोड़ की कमाई की थी। नीरज की यह पहली फिल्म थी। इस फिल्म को न सिर्फ कांस फिल्म फेस्टिवल से सराहा गया, बल्कि जब इसे भारत में रिलीज़ किया गया, तो क्रिटिक्स ने भी इसकी खूब वाह-वाही की।


आशिकी 2

साल 2013 में आई फिल्म ‘आशिकी 2’ सिर्फ 9 करोड़ में बन कर तैयार हुई थी। यह फिल्म साल 1990 में आई म्यूज़िकल हिट फिल्म ‘आशिकी’ की सीक्वल थी। मोहित सूरी के निर्देशन में बनी इस फिल्म में श्रद्धा कपूर और आदित्य रॉय कपूर मुख्य भूमिका में थे। दोनों ही कलाकारों के करियर की बड़ी हिट फिल्म है और पहली बार यह दोनों किसी फिल्म में सोलो भूमिका में नज़र आए थे। 

हालांकि, कईयों को लगता है कि श्रद्धा और आदित्य की यह डेब्यू फिल्म है, लेकिन बता दें कि दोनों इससे पहले कई फिल्मों में नज़र आ चुके थे। यह फिल्म एक स्थापित गायक के गिराव और नए गायक के उत्थान के बीच दोनों में पनपे प्यार की कहानी है। 


कहानी 

विद्या बालन की मुख्य भूमिका वाली फिल्म ‘कहानी’ साल 2012 में सिनेमाघरों में उतरी थी। महज 8 करोड़ में बनी इस फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर 104 करोड़ का कारोबार किया था। सुजॉय घोष के निर्देशन में बनी इस फिल्म को न सिर्फ दर्शकों ने बल्कि क्रिटिक्स ने भी काफी सराहा। 

ख़ासतौर पर फिल्म के क्लाइमैक्स और सस्पेंस को लेकर इस फिल्म ने काफी तारीफें बटोरीं। विद्या बालन के अलावा नवाज़ुद्दीन सिद्दीक़ी के अभिनय को भी प्रशंसा हुई। 


विकी डोनर 

शूजित सरकार के निर्देशन में बनी फिल्म ‘विकी डोनर’ भी छोटे बजट की हिट फिल्मों में शुमार है। जूही चतुर्वेदी की लिखी इस फिल्म में आयुष्मान खुराना के साथ यामी गौतम नज़र आई थीं। शूजित ने इस फिल्म को 5 करोड़ की लागत में तैयार किया था और इसने बॉक्स ऑफिस पर 66 करोड़ का कारोबार किया। 

इस फिल्म का विषय काफी नया था और मौजू भी। दिल्ली के एक लड़के को अपने स्पर्म से पैसे कमाने का मौका मिलता है। इस कहानी को शूजित सरका ने काफी रोचक अंदाज़ से पिरोया था। 

पान सिंह तोमर 

इरफान खान की मुख्य भूमिका वाली साल 2012 में आई फिल्म ‘पान सिंह तोमर’ को सिर्फ 5 करोड़ में बनाया गया था, लेकिन इसने 38 करोड़ की कमाई की थी। ओलंपिक में भाग ले चुके धावक पान सिंह तोमर की ज़िंदगी पर बनी इस फिल्म का निर्देशन तिग्मांशु धुलिया ने किया था। 

पान सिंह तोमर के धावक बनने से लेकर बागी बनने तक और फिर पुलिस की गोली से उनके मारे जाने तक की कहानी को दिया गया था। 

शाहिद 

गंभीर विषयों पर सधी हुई कहानी कहने के लिए जाने जाने वाले हंसल मेहता की साल 2012 में आई फिल्म ‘शाहिद’ को भी दर्शकों का भरपूर प्यार मिला। सिर्फ 80 लाख रुपए की लागत से तैयार इस फिल्म ने लगभग तीन करोड़ कमाए थे। 

फिल्म ‘शाहिद’ एक ऐसे लड़के की कहानी है, जो हालात से तंग आकर आतंकी बनने चला जाता है। फिर आतंकियों की मनोदशा देखकर वापस लौट आता है। हालांकि, लौटने के बाद भी उसे कई सारी मुश्किलों से दो-चार होना पड़ता है। फिर वो जेल पहुंच जाता है। इस फिल्म में राजकुमार राव ने ‘शाहिद’ की भूमिका निभाई थी। 

नो वन किल्ड जेसिका 

राजकुमार गुप्ता के निर्देशन में बनी ‘नो वन किल्ड जेसिका’ महज 9 करोड़ मे बनी थी, जिसने 58 करोड़ की कमाई की थी। यह फिल्म साल 1999 में हुए जेसिका लाला हत्याकांड पर आधारित थी। रानी मुखर्जी और विद्या बालन की मुख्य भूमिका वाली इस फिल्म को भी काफी सराहना मिली थी। 

प्यार का पंचनामा

लव रंजन की साल 2011 में आई इस फिल्म ने एक नए तरह के सिनेमा से दर्शकों का परिचय किया। महज 7 करोड़ में बन कर तैयार हुई इस फिल्म ने 17 करोड़ की कमाई की। इस फिल्म में मेट्रो में रहने वाले तीन युवाओं और उनके प्रेम की परिभाषा को पर्दे पर लव रंजन ने उतारा था। 

इस फिल्म के ज़रिये दर्शकों को अरसे बाद ‘मोनोलॉग’ सुनने को मिला। यह तकीबन सात मिनट लंबा ‘मोनोलॉग’ था, जिसे कार्तिक आर्यन ने बड़ी संजीदगी के साथ जीवंत किया था। 

साहेब, बीवी और गैंगस्टर 

तिग्मांशु धूलिया के निर्देशन में बनी ‘साहेब, बीवी और गैंगस्टर’ बनी तो थी महज 4 करोड़ के खर्च में, लेकिन इस फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर 20 करोड़ की कमाई दर्ज कर ली थी। 

साल 2011 में रिलीज़ हुई इस फिल्म की कहानी एक बर्बाद ‘साहेब’ और ‘साहेब’ की बेरुखी से बौखलाई ‘बीवी’ और क़त्ल के इल्ज़ाम में फंसे ‘गैंगस्टर’ के इर्द-गिर्द बुनी गई है। इसे तिग्मांशु धुलिया ने काफी रोचक अंदाज़ में बनाया था, जिसे दर्शकों ने काफी पसंद किया। 

देव डी

अनुराग कश्यप के निर्देशन में बनी फिल्म ‘देव डी’ महज 11.3 करोड़ में बन कर तैयार हुई थी, लेकिन इस फिल्म ने 49.87 करोड़ की कमाई दर्ज की थी। इस ब्लैक रोमांटिक ब्लैक कॉमेडी ड्रामा फिल्म में अभय देओल, कल्कि कोचलिनी और माही गिल मुख्य भूमिका में नज़र आए थे। 

मुंबई मेरी जान 

साल 2008 में आई ‘मुंबई मेरी जान’ भी उन फिल्मों में से है, जो बनी तो कम लागत में, लेकिन कमाई में झंडे गाड़ दिए। निशिकांत कामत के निर्देशन में बनी इस फिल्म में दमदार अभिनेताओं की भरमार थी। इरफान खान, परेश रावल, के के मेनन, आर माधवन और सोहा अली खान स्टारर यह फिल्म महज 8 करोड़ के खर्च पर तैयार हो गई थी। 

साल 2006 के मुंबई धमाके के बाद वहां के रहवासियों की ज़िंदगी में क्या बदलाव आए, यही इस फिल्म की कहानी है। इस बम विस्फोट में 189 लोगों की मौत और 824 लोग घायल हुए थे। इस हादसे से लगे आघात, दुख, नस्लवाद, और प्रतिशोध को गहराई से समझाती यह फिल्म कई सारे नज़रियों को दिखाती है। नज़रिया एक आम आदमी का, दो पुलिसवालों का नज़रिया और एक मुसलमान का नज़रिया। खैर, मुंबई की नब्ज़ को पकड़ती इस फिल्म ने 81 करोड़ का कारोबार किया था। 

रॉक ऑन

साल 2008 में आई फिल्म ‘रॉक ऑन’ यूं तो 7 करोड़ में तैयार हो गई थी, लेकिन इस फिल्म ने 45 करोड़ की कमाई दर्ज की थी। अभिषेक कपूर के निर्देशन में बनी म्यूजिकल फिल्म में फरहान अख्तर और अर्जुन रामपाल मुख्य भूमिका में नज़र आए थे। इस फिल्म की कमाई ने 45 करोड़ का आंकड़ा पार किया था। 

ए वेडनेसडे

निर्देशक नीरज पांडेय की साल 2008 में आई फिल्म ‘ए वेडनेसडे’ बनी तो सिर्फ 5 करोड़ में, लेकिन इसने 12 करोड़ कमाए थे। नसीरुद्दीन शाह और अनुपम खेर की मुख्य भूमिका वाली इस फिल्म की कहानी एक बम ब्लास्ट के बाद चार आतंकियों के एक आम आदमी द्वारा रोचक ढंग से पुलिस के हाथों मरवाने की है। यह 60 साल का आम आदमी बिना किसी हथियार के मुंबई पुलिस को आतंकियों को मारने के लिए मजबूर कर देता है। 

लाइफ इन ए मेट्रो

अनुराग बसु के निर्देशन में बनी ‘लाइफ इन मेट्रो’ साल 2007 में सिनेमाघरों में उतरी थी। सिर्फ 7 करोड़ खर्च करके बनी इस फिल्म ने बॉक्स ऑफिस से 30 करोड़ वसूल लिए। यह फिल्म शहर, पैसा और फिर पैसे के लिए दांवपेच। समाज, निजता, अंतर्मन के द्वंद्व को रोचकता की कहानी है। शिल्पा शेट्टी, कंगना रनौत, केके मेनन, कोंकणा सेन शर्मा, शरमन जोशी और शाहिनी आहूजा सितारों से सजी इस फिल्म ने काफी तारीफें बटोरी थीं। तभी तो 7 करोड़ में बनी इस फिल्म ने 30 करोड़ कमा लिए। 


जॉनी गद्दार 

श्रीराम राघवन के निर्देशन में बनी फिल्म ‘जॉनी गद्दार’ साल 2007 में रिलीज़ हुई थी। एक करोड़ में बन कर तैयार हुई इस फिल्म में नील नितिन मुकेश ने मुख्य भूमिका निभाई थी। इस फिल्म ने छह गुना कारोबार किया। यानी एक करोड़ में बनी इस फिल्म ने 6 करोड़ कमाए थे। 

गैंग्स ऑफ वासेपुर 

वैसे तो अनुराग कश्यप की यह फिल्म दो भागों में रिलीज़ हुई थी। दरअसल, अनुराग बना तो एक ही फिल्म रहे थे, लेकिन लंबाई इतनी ज्यादा हो गई और कंटेंट ऐसा था, जिसे कम नहीं किया जा सकता था। फिर क्या फिल्म को दो भागों में रिलीज़ किया गया। हालांकि, इनकी रिलीज़ में बस कुछ माह का ही फर्क़ था। जहां पहला भाग ‘गैंग्स ऑफ वासेपुर-1’ 22 जून 2012 को रिलीज़ किया गया। वहीं दूसरा भाग ‘गैंग्स ऑफ वासेपुर-2’ 8 अगस्त 2012 को रिलीज़ हुआ। इस फिल्म की स्क्रीनिंग कान्स फिल्म फेस्टीवल के दौरान मई 2012 में ही कर दी गई थी। 

मनोज बाजपेयी, नवाज़ुद्दी सिद्दीक़ी औ रिचा चढ्डा की अहम भूमिका वाली यह दोनों फिल्में 36 करोड़ के खर्च में बन कर तैयार हुई थीं। जबकि फिल्म ने 65 करोड़ का कारोबार किया था।

संबंधित ख़बरें