सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

ऋतिक ने FIR में लिया कंगना का नाम

कंगना रनौत और ऋतिक रोशन के बीच झगड़े की शुरुआत भले ही 'डेटिंग करने या न करने' के सवाल पर शुरू हुई हो, लेकिन अब वो झगड़ा कानूनी दांव पेंच में उलझता दिख रहा है। अख़बारों में गॉसिप के रूप में बनने वाली ख़बर अब साइबर क्राइम तक पहुंच गई है। ताज़ा जानकारी के मुताबिक मुंबई पुलिस ने कंगना को एक सप्ताह के भीतर पुलिस स्टेशन में हाजि़र होने को कहा है।

ऋतिक रोशन ने एफआईआर में कंगना का नाम भी लिखवाया
मुंबई। हाल ही में राष्ट्रीय पुरस्कार जीती अदाकारा कंगना रनौत और अभिनेता ऋतिक रोशन का झगड़ा अब एक नए स्तर पर पहुंच गई है।

दरअसल, ऋतिक ने फेक मेल आईडी की एफआईआर दर्ज कराई है। इसमें कंगना का नाम भी है। ऋतिक ने इस एफआई में बताया है कि कंगना खुद उनके फर्जी ईमेल अकाउंट के संपर्क में थीं और उन्होंने इस आईडी पर कई मेल भी किए। 

पहले भी की थी एफआईआर 

ऋतिक ने दिसंबर, 2014 में पहली बार साइबर पुलिस में शिकायत की थी। शिकायत में उन्होंने कहा था कि कोई उनके नाम से उनके एक फैन से बात कर रहा है।हालांकि, तब ऋतिक ने कंगना का नाम नहीं लिया था, क्योंकि ऐसा होने पर पूछताछ के लिए कंगाना को भी बुलाया जाता। 

कंगना का बयान 

ऋतिक के ताज़ा शिकायत दर्ज कराने के बाद कंगना को पुलिस ने सात दिन के भीतर अपना बयान दर्ज करने को कहा है। साइबर क्राइम पुलिस ने कंगना की बहन रंगोली को भी समन भेजा है। कहा जा रहा है कि रंगोली को कंगना और कथित फर्जी ईमेलर के बीच एक्सचेंज हुए मेल्स के कंटेंट की जानकारी है। रंगोली को भी सात दिन में ही बयान दर्ज कराने को कहा गया है। सूत्रों की मानें तो कंगना और फर्जी मेलर के बीच कई मेल एक्सचेंज हुए हैं।

दावे अलग अलग 

ऋतिक का दावा है कि इस मेल आईडी को वे ऑपरेट नहीं कर रहे थे। जबकि कंगना का कहना है कि ऋतिक ही इस मेल आईडी को इस्तेमाल कर रहे थे। बताया जा रहा है कि इन मेल्स में कई प्रायवेट वीडियो और चैट शामिल हैं।

फर्जी ईमेल आईडी का राज

ऋतिक ने बताया कि इस फर्जी मेल आई का खुलासा 24 मई 2014 को करण जौहर की बर्थडे पार्टी में हुआ। यहां पर कंगना ने ‘क्वीन’ फिल्म में उनके काम की तारीफ करने के लिए ऋतिक को शुक्रिया कहा। इस पर ऋतिक ने कहा कि उन्होंने तो फिल्म देखी ही नहीं। बताया जाता है कि ऋतिक ने कंगना से ये भी कहा कि उन्होंने तो कभी उनसे (कंगना) ईमेल पर बात ही नहीं की।

मेल आईडी का झोल 

दिसंबर 2014 में ही ऋतिक ने साइबर थाने में एक लिखित शिकायत की थी। उन्होंने कहा था कि उनकी पर्सनल ईमेल आईडी hroshan@imac.com है, जबकि कंगना hroshan@email.com के संपर्क में थीं। वहीं, कंगना ने दावा किया कि इस ईमेल आईडी पर ऋतिक ने ही उनसे बात की थी।

इसके बाद ऋतिक ने कानूनी नोटिस भेजकर कहा था कि अपने बयान के लिए कंगना माफी मांगें। ऋतिक ने कहा कि अगर कंगना ऐसा नहीं करतीं तो वे चैट रिकॉर्ड पब्लिक कर देंगे। कंगना ने भी जवाब में ऋतिक को नोटिस भेजा था।

'पोप' का चक्कर 

वहीं 'पोप' से डेटिंग वाले ट्वीट पर ऋतिक को जो लीगल नोटिस मिला है, उसके पीछे कंगना का हाथ होने की आशंका जताई जा रही है। ऐसा इसलिए कहा जा रहा है, क्योंकि जिस रिजवान सिद्दीकी ने ऋतिक को क्रिश्चियन कम्युनिटी की ओर से लीगल नोटिस भेजा है, वही कंगना के वकील भी हैं। सोचने वाली बात तो यह है कि ऋतिक ने जब ट्वीट 28 जनवरी को किया था, तो दो महीने बाद उस पर लीगल नोटिस क्यों भेजा गया।

आपको बता दें कि 28 जनवरी को ऋतिक ने ट्वीट किया था, 'जितनी भी महिलाओं के साथ मीडिया ने मेरा नाम जोड़ा, उससे ज्यादा चांस तो मेरे पोप के साथ हैं।' ऋतिक का यह ट्वीट कंगना के उस कमेंट के बाद आया था, जिसमें उन्होंने ऋतिक को 'सिली एक्स' की उपमा दी थी। 

क्रिश्चियन कम्युनिटी में गुस्सा

ऑल इंडियन क्रिश्चयन वॉइस के प्रेसिडेंट अब्राहम मथाई ने ऋतिक को नोटिस भेजा। एडवोकेट रिजवान सिद्दीकी ने इस बात की पुष्टि भी थी। रिजवान के मुताबिक, इंडियन पैनल कोड के सेक्शन 295 A के तहत भेजे गए इस नोटिस में कहा गया है कि उनके कमेंट ने पोप फ्रांसिस का अपमान किया है।

उन्होंने इस कमेंट से दुनियाभर के क्रिश्चियंस की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाई है। इसलिए वे 7 दिन के अंदर लिखित रूप में सार्वजनिक तौर पर माफी मांगे। गौरतलब है कि ऑल इंडियन क्रिश्चियन वॉइस एक ऑर्गनाइजेशन है, जो भारत में रोमन कैथोलिक कम्युनिटी के अधिकारों के लिए काम करता है।

संबंधित ख़बरें
आगे 'अज़हर' के लिए वकील बनीं लारा दत्ता