सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

'अतुल्‍य भारत' पर बिग बी की 'सफाई'

बॉलीवुड अभिनेता अमिताभ बच्चन ने एक बयान जारी कर कहा कि उन्हें औपचारिक रूप से 'अतुल्य भारत' का ब्रांड एंबेसडर बनने न्‍यौता कभी मिला ही नहीं, तो उस से हटाने की बात कहां से आती है। एक बयान जारी कर बिग बी ने इस 'मीडिया' में आ रही 'अतुल्‍य भारत' की ख़बरों पर विराम लगाने की कोशिश की है।

अभिनेता अमिताभ बच्‍चन
मुंबई। महानायक अमिताभ बच्चन का नाम जब से 'पनामा पेपर लीक' मसले से जुड़ा है, हर दिन उनको लेकर कुछ नई अटकलों का जन्‍म होता है। ऐसी ही ख़बरों में से एक है 'अतुल्य भारत' का ब्रांड एंबेसेेडर के पद से हटाए जाने की बात। 

इस अटकल पर विराम लगाने के लिए अमिताभ बच्‍चन ने एक बयान जारी कर मीड‍िया को सूचित किया है। अपने बयान में बिग बी ने कहा है कि 'अतुल्‍य भारत' अभियान के लिए सरकार कभी उनसे ‘औपचारिक रुप' से संपर्क नहीं किया, तो ऐसे में मुझे उस अभियान से बाहर करने का सवाल ही नहीं उठता। 


बयान में कहा 

अपने बयान में अमिताभ ने कहा है कि मीडिया 'अतुल्य भारत' के लिए मेरे ब्रांड एंबेसेडर होने के संबंध में सवाल पूछ रहा है। मैं बताना चाहूंगा कि मुझसे इस कार्य के लिए औपचारिक रुप से संपर्क नहीं किया गया है। 

73 वर्षीय अभिनेता ने कहा कि जहां तक मेरी बात है, इसके जारी ना रहने को लेकर मीडिया की अटकलें इसलिए प्रासंगिक नहीं हैं। 

पर्यटन मंत्रालय ने कहा

पर्यटन मंत्रालय के सूत्रों के अनुसार अभिनेता के स्पष्टीकरण से पहले ऐसी खबरें आ रही थीं कि पनामा पेपर लीक में नाम सामने आने के बाद ब्रांड एंबेसेेडर की भूमिका के लिए उनके नाम पर फैसले को टाल दिया गया है।
पर्यटन मंत्रालय ने कहा है कि उनके मुद्दे पर पाक साफ निकलने के बाद ही उनके नाम पर विचार किया जाएगा। 

पनामा पर जवाब 

पनामा मामले पर जवाब देते हुए अमिताभ कहते हैं कि पनामा खुलासों को लेकर मैं कहना चाहूंगा कि मीडिया मुझे सवाल पर सवाल भेज रही है। मैं विनम्रतापूर्वक उनसे अनुरोध करना चाहूंगा कि वे सवाल सीधे भारत सरकार को भेजे, कानून का पालन करने वाले नागरिक के तौर पर मैंने अपना जवाब भेज दिया है और ऐसा करता रहूंगा।

उन्होंने कहा कि वह पनामा पेपर लीक में उनके नाम का दुरुपयोग किए जाने संबंधी अपने पूर्व के बयान पर कायम हैं। 

संबंधित ख़बरें
आगे 'फैन' एक 'जोखिम' भरा फैसला था : शाहरुख खान