सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

दिलजीत दोसांझ की ‘नॉटी बिल्लो’ हैं अनुष्का शर्मा

अपनी फिल्म के प्रमोशन को लेकर पूरी तरह कमर कस चुकी अनुष्का शर्मा रैपर भी बन गई हैं। अभिनेता-गायक दिलजीत दोसांझ के साथ अनुष्का ने पहली बार रैप गाया है। फिल्म के लिए एक प्रमोशनल वीडियो बनाया गया है, जिसे शनिवार को रिलीज़ किया जाएगा। इस वीडियो में दिलजीत और अनुष्का गाते हुए नज़र आ रहे हैं। 

फिल्म फिल्लौरी के लिए अनुष्का ने गाया रैप
मुंबई। फिल्म ‘फिल्लौरी’ की शशि कभी ऑस्कर के स्टेज पर पहुंच रही है, तो कभी चांद पर नील आर्मस्ट्रांग के साथ नज़र आ रही है। इसके अलावा फैंस को अपनी व्हाट्सऐप नंबर भी दिया, ताकि उनसे वो चैट कर सकें। यह सभी हथकंडे अनुष्का शर्मा अपनी फिल्म के प्रमोशन के लिए आजमा रही हैं। 

अनुष्का शर्मा के प्रोडक्शन कंपनी के बैनर तले बनी फिल्म ‘फिल्लौरी’ पूरी तरह तैयार है। इस फिल्म के कुछ गाने आ चुके हैं और फिल्म को लेकर लोगों में उत्सुकता जगाने की पूरी कोशिश में वो जी जान से जुट गई हैं। 
इसी कड़ी में अनुष्का ने दिलजीत के साथ मिल कर पहली बार गायकी में भी हाथ आजमा लिया है। फिल्म के प्रमोशन के लिए तैयार गाना ‘नॉटी बिल्लो’ में अनुष्का ने अपनी आवाज़ दी है। 

गाने की शुरुआत होती है, पर्दा उठने से जिस पर लिखा होता है ‘फिल्लौर का सालाना जश्न’। इसके बाद अनुष्का पहले पंजाबी कुड़ी के अवतार में दिखती हैं, फिर सामने आता है मॉर्डन ‘नॉटी बिल्लो’ लुक। इस फिल्म में पहली बार गायक दिलजीत की आवाज़ में कोई गाना सुनाई दिया।

इस नए गाने के बारे में दिलजीत ने कहा कि मुझे ‘नॉटी बिल्लो’ का पंजाबी स्वैग काफी अच्छा लगा। कॉरियोग्राफी जबरदस्त है और आखिर में अनुष्का का गाया रैप काफी प्रभावी है। 

वहीं पहली बार गायकी में हाथ आजमा रही अनुष्का ने कहा कि जब मैंने पहली बार शाश्वत के स्टूडियो में इसे सुना, तो ‘नॉटी बिल्लो’ मेरे दिमाग़ पर ही चढ़ गई। इसके बाद मैंने इसके रैप पोर्शन को अपनी आवाज़ देने का मन बनाया। मेरे कुछ भी समझने से पहले मैं एक ‘रैपर’ बन गई। ख़ैर, यह गाना आपको फिल्म में देखने को नहीं मिलेगा। यह एक प्रमोशनल वीडियो है। 

नील आर्मस्ट्रांग की मदद की थी अनुष्का ने 

बिलकुल सही। 20 जुलाई 1969 में जब नील आर्मस्ट्रांग चंद्रमा पर पहुंचे थे, तब फिल्म ‘फिल्लौरी’ की शशि यानी अनुष्का शर्मा भी उनके साथ थी। उस ऐतिहासिक पल की तस्वीर भी अनुष्का ने अपनी ट्विटर हैंडल पर शेयर की है। 

इस तस्वीर को साझा करते हुए लिखा है कि इनको झंडा लगाने में मदद मैंने ही की थी। मुझे ऑक्सीजन मास्क, स्पेशशूट की ज़रूरत नहीं पड़ती न, तो मैं कंफर्टेबल थी। शशि वहीं थी। 
बहरहाल, यह तो आप समझ ही गए होंगे कि यह सब अनुष्का अपनी फिल्म के प्रमोशन के लिए कर रही हैं। अनुष्का देश और दुनिया के ऐतिहासिक पलों की तस्वीरों के एडिट कर उसमें अपनी तस्वीर फिट कर रही हैं। साथ ही तस्वीर को पोस्ट करके लिख रही हैं ‘शशि वहीं थी’। 

इससे पहले अनुष्का ने ऑस्कर के दौरान हुई गड़बड़ी वाले किस्से में भी अपनी तस्वीर फिट कर दी थी। इस तस्वीर को ट्विटर पर साझा करते हुए लिखा था कि ये लोग मुझे सुन नहीं पाए, मैं तो कब से हिंदी में बोल रही थी कि नाम ग़लत लिखा है।
बता दें कि अंशई लाल के निर्देसन में बनी फिल्म ‘फिल्लौरी’ 24 मार्च को रिलीज होने वाली है। इस फिल्म में अनुष्का, शशि नाम की ‘आत्मा’ का किरदार निभा रही हैं। इनके अलावा फिल्म में दिलजीत दोसांझ, सूरज शर्मा, मेहरीन पीरजादा हैं। 

संबंधित ख़बरें