सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

‘संजू’ के खिलाफ दर्ज़ हुई शिक़ायत

रणबीर कपूर की मुख्य भूमिका वाली संजय दत्त की बायोपिक एक बार फिर विवादों में फंसती नज़र आ रही है। फिल्म के कुछ दृश्यों के खिलाफ समाजिक कार्यकर्ता पृथ्वी ने आपत्ति जताई है और सेंसर बोर्ड में इसके खिलाफ़ शिक़ायत भी की है। 

फिल्म संजू में
मुंबई। संजय दत्त की ज़िंदगी विवादों में फंसी रही है और अब जब उनकी उठा-पटक भरी ज़िंदगी पर फिल्म बनाई गई है, तो उससे भी विवाद जुड़ ही गया है। 

रणबीर कपूर की मुख्य भूमिका वाली इस फिल्म को लेकर एक सामाजिक कार्यकर्ता ने आपत्ति जताई है और सेंसर बोर्ड में उसके खिलाफ शिक़ायत भी दर्ज करवाई है। 

दरअसल, पृथ्वी को फिल्म के एक ख़ास दृश्य से आपत्ति है। उनका कहना है कि फिल्म में भारतीय जेलों को ग़लत तरीक़े से दिखाया जा रहा है। ख़ासतौर पर फिल्म को वो दृश्य जिसमें संजय दत्त जेल के अपने सेल में बैठे हैं और टॉयलेट ओवरफ्लो हो रहा है। 

11 जून को प्रसून जोशी, रणबीर कपूर और फिल्म के मेकर्स को भेजे गए इस शिक़ायती पत्र में कहा गया है, ‘फिल्म के ट्रेलर के एक सीन, जिसमें संजय दत्त बैरक में बंद दिखाया गया है, जिसमें टॉयलेट ओवरफ्लो हो रहा है। सूचनाओं के अनुसार सरकार और जेल प्रशासन जेल की हर बैरक का खयाल रखते हैं। हमने कभी भी इस तरह की घटना कहीं नहीं सुनी है। इससे पहले भी जब गैंग्स्टर को लेकर कोई फिल्म बनी है और उसे जेल में दिखाया गया, जब भी ऐसे सीन को नहीं दिखाया गया। जेल का यह सीन भारतीय जेलों और जेल प्रशासन की ग़लत छवि बनाता है।’

इसके अलावा शिक़ायतकर्ता ने कोर्ट जाने की चेतावनी भी दी है। शिकायतकर्ता ने कहा है, ‘यदि इस मामले में आपकी ओर से कोई एक्शन नहीं लिया जाता है, तो हमारे सामने कोर्ट की शरण में जाने के अलावा और कोई चारा नहीं बचता है।’

ख़ैर, इस शिक़ायत के बाद सेंसर बोर्ड अध्यक्ष और ‘संजू’ के मेकर्स का फैसला क्या होता है, वो देखना दिलचस्प होगा। 

बात करें फिल्म की तो 29 जून को रिलीज हो रही इस फिल्म को राजकुमार हिरानी ने निर्देशित किया है और रणबीर कपूर, संजय दत्त की भूमिका निभा रहे हैं। फिल्म में परेश रावल, मनीषा कोईराला, अनुष्का शर्मा, दीया मिर्जा, सोनम कपूर और विक्की कौशल अहम किरदारों में हैं।

संबंधित ख़बरें